अयोध्या पर फैसला आने से पहले अंबेडकर नगर में पुलिस हुई अलर्ट

0
81
ram mandir case

प्रशासन द्वारा कॉलेजों में बनाई गई 8 अस्थाई जेल


सुप्रीम कोर्ट द्वारा अयोध्या-बाबरी मस्जिद को लेकर सुनवाई खत्म हो चुकी है। लेकिन इसके फैसले को लेकर सभी की धड़कने तेज़ हो गयी है यह सोच कर की कोर्ट का फैसला किसके हित में जायेगा। वही अयोध्या पर फैसले से पहले अंबेडकर नगर के अलग-अलग कॉलेजों में 8 अस्थाई जेल बनाई गई है। प्रशासन ने ऐसा फैसला सुरक्षा के मद्देनजर लिया है।

आपको बता दें की अयोध्या में पहले से हाई अलर्ट है रखा गया है और जगह-जगह पर जवानों की तैनाती की गई है। ताकि किसी तरह का मुठभेड़ देखने को ना मिले।इसके अलावा पुलिस ने  34 जिलों के पुलिस प्रमुखों को भी निर्देश जारी कर दिए हैं। जिनमे इन जिलों के नाम शामिल है जैसे- मेरठ, आगरा, अलीगढ़, रामपुर, बरेली, फिरोजाबाद, कानपुर, लखनऊ, शाहजहांपुर, शामली, मुजफ्फरनगर, बुलंदशहर और आजमगढ़ आदि।

और पढ़ें: SC का दिल्ली पुलिस कमिश्नर को नोटिस, कहा प्रदर्शन कर रहे जवान पर ले जल्द एक्शन

इस से पहले गोरखपुर में हाई अलर्ट लगाया गया। 6 नवंबर को यूपी पुलिस ने गोरखपुर में फ्लैग मार्च किया। इस दौरान जिले की सड़कों पर सैकड़ों पुलिसकर्मी फ्लैग मार्च में दिखे। साथ ही अयोध्या पर फैसले से पहले यूपी पुलिस ने कड़ी  सुरक्षा बढ़ा दी है।  साथ ही अफवाहों और गलत जानकारियों को फैलने से रोकने के लिए सोशल मीडिया पर भी ख़ास ध्यान रखे हुए है।

गोरखपुर में  फ्लैग मार्च इसलिए किया गया क्यूंकि मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का संसदीय क्षेत्र गोरखपुर है और राम मंदिर आंदोलन में गोरखपुर बेहद अहम रहा है। अयोध्या केस में फैसला आने से पहले नेपाल की सीमा से सटे उत्तर प्रदेश के इलाके में 7 आतंकवादियों के घुसने की भी खबर आयी है जिसके उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट जारी कर दिया गया है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com