SC का दिल्ली पुलिस कमिश्नर को नोटिस, कहा प्रदर्शन कर रहे जवान पर ले जल्द एक्शन

0
60
delhi police and lawyers fight

दिल्ली पुलिस और वकीलों की झड़प के बीच में आया SC का दिल्ली पुलिस कमिश्नर को नोटिस


तीस हज़ारी कोर्ट में पुलिस और वकीलों के बीच का विवाद थमने का नाम ही नहीं ले रहा है। मंगलवार को पुलिस के जवानो ने दिल्ली हेडक्वाटर्स पर प्रदर्शन किया था इन सब को लेकर अब इससे लेकर दिल्ली पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक को लीगल नोटिस भेजा गया। सुप्रीम कोर्ट में वकील वरुण ठाकुर ने दिल्ली कमिश्नर को नोटिस भेजा है जिसमें लिखा गया है कि पुलिस के आला अधिकारियों ने वकीलों के खिलाफ आपत्तिजनक बयान दिए हैं।

इसके आलावा नोटिस की बात तो की जाये तो, नोटिस धरने में जो पुलिस जवान शामिल थे, उनकी पहचान की जाए और कार्रवाई की जाए। साथ ही ये भी कहा गया है कि पुलिस का इस तरह से प्रदर्शन लोगों के मन में डर पैदा करता है, ये लोकतंत्र के लिए खतरा है। नोटिस में कहा गया है कि दिल्ली पुलिस कमिश्नर ने प्रदर्शन कर रहे जवानों पर कोई एक्शन नहीं लिया।

आपको याद दिला दें कि दिल्ली पुलिस के जवानों ने वकीलों के द्वारा किए जा रहे हमले के खिलाफ मंगलवार को दिल्ली पुलिस मुख्यालय पर प्रदर्शन किया था। प्रदर्शन कर रहे जवानो को संबोधित करने लिए पुलिस कमिश्नर अमूल्य पटनायक आए थे, तब उन्होंने जवानों से शांति की अपील की थी और ड्यूटी पर लौट जाने को कहा था। हालांकि, पुलिस कमिश्नर की अपील के बाद भी काफी देर तक जवान प्रदर्शन करते रहे थे।

और पढ़ें: हॉस्टल फीस के बढ़ने पर जेएनयू के छात्रों का प्रदर्शन, तैनात हुई पैरा मिलिट्री फॉर्स

अमूल्य पटनायक ने जवानों को आश्वासन दिया था कि जो भी घटनाएं हुई हैं उनकी जांच की जा रही है, और पूरे विवाद पर सही एक्शन लिया जाएगा। हालांकि, करीब 10 घंटो के बाद जवानों की सभी मांगों को मान लिया गया और पुलिस अधिकारीयों द्वारा हड़ताल को खत्म कर दिया गया। बुधवार को दिल्ली पुलिस के सभी जवान दोबारा अपने काम पर लौटे हैं, जवानों के वापिस काम पर आने पर जॉइंट कमिश्नर ऑफ़ पुलिस, मीनू चौधरी ने एक इंटरव्यू के दौरान ब्यान देते हुए कहा की, ‘दिल्ली पुलिस एक अनुशासित फाॅर्स है और अपनी जिम्मेदारियों को बखूबी समझती है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com