जाने जाहरा बट के बारे में, जो आज बना रही है घरेलू हिंसा की शिकार महिलाओं को आत्मनिर्भर

0
808
jahra but

जाने ब्रिटेन की बॉक्सिंग कोच जाहरा बट के बारे में


जाहरा बट ब्रिटेन की बॉक्सिंग कोच है। जाहरा बट ने अपना बॉक्सिंग करियर उनके साथ हुई घरेलू हिंसा के बाद शुरू किया था। जाहरा बट घरेलू हिंसा और डिप्रेशन से जूझने के बाद उन्होंने खुद को बॉक्सिंग के जरिये मजबूत बनाया था। जाहरा बट ने बॉक्सिंग के जरिए ना सिर्फ खुद को सभाला और मजबूत किया बल्कि बाकि ओर महिलाओं के साथ हो रही घरेलू हिंसा का भी विरोध किया। उन्होंने घरेलू हिंसा की शिकार महिलाओं को आत्म निर्भर बनाने के लिए भी काम किया। जाहरा बट खुद अपनी प्रेग्नेंसी के समय डिप्रेशन की शिकार हो गयी थी उन्होंने खेल के जरिए ही अपनी एक नई जिंदगी की शुरूआत की। जाहरा बट फिलहाल ब्रिटेन के नॉटिंघमशायर के एस्प्ले में रहती है।

और पढ़ें: जाने कौन है ‘ह्यूमन कंप्यूटर’ कहलाने वालीं शकुंतला देवी

(Image source: Google)

जाहरा बट क्यों बॉक्सिंग के दौरान भी नहीं हटती अपना हिजाब  

जाहरा बट एक मुस्लिम महिला है मुस्लिम होने के कारण वो हमेशा हिजाब बांधती है। जाहरा बट बॉक्सिंग के दौरान भी अपना हिजाब नहीं निकलती क्योकि उनका कहना है कि वो हिजाब हटा कर किसी को भी उन पर भद्दे कमेंट्स करने का मौका नहीं देना चाहती। जाहरा बट ने घरेलू हिंसा और डिप्रेशन के समय पर खुद को सभालने के लिए शुरू किया बॉक्सिंग करियर को अब उन्होंने फुल टाइम करियर बना लिया है। आज वो बॉक्सिंग कोच के तौर पर मिलने वाले सकारात्मक समान से काफी खुश है।

जाहरा बट महिलाओं की मदद के लिए उन्हें बॉक्सिंग सिखाती है

जाहरा बट का कहना है कि बॉक्सिंग कोच के तौर पर मिलने वाला सकारात्मक सम्मान उन्हें लोगों के भद्दे कमेंट्स का सामना करने की हिम्मत देता है। जाहरा बट को इस बात का सबसे ज्यादा दुख है कि आज इतना सक्सेस होने के बाद भी उन्हें लोगों के भेदभाव का सामना करना पड़ता है। जाहरा बट कहती है कि मैं कोशिश करती हूं कि लोगों की बातों का असर मेरे काम पर न हो। आपको बता दे कि जाहरा बट तीन बच्चों की माँ है और उनके बच्चों को उन पर गर्व है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com