भारत

500 और 1000 रुपये के नोट बंद होने पर ट्विटर पर रिएक्‍शन

500 और 1000 रुपये के नोट नौ नवंबर से बंद करने की घोषणा


1000 और 500 रुपये

काले धन और जाली नोटों को रोकने के लिए प्रधानमंत्री  नरेन्‍द्र मोदी ने एक बड़ा कदम उठाया है। मंगलवार को पहली बार टीवी पर राष्‍ट्र को सं‍बोधित करते हुए नरेन्‍द्र मोदी ने 500 और 1000 रुपये के नोट नौ नंवबर से बंद करने की घोषणा की। 500 और 1000 रुपये के नोट बंद होने की घोषणा होते ही यह खबर सोशल मीडिया में जोरों से ट्रेंड करने लगी।

सोशल मीडिया पर कुछ लोगों ने नोट बदलने के फैसले का स्वागत किया तो वहीं कुछ लोग ऐसे भी थे जिन्होंने नोट बदलने के लिए दी गई समय-सीमा को कम बताया। यही नहीं कुछ लोगों तो इसे सर्जिकल स्ट्राइक ही करार दे  दिया। सोशल मीडिया में इस बड़े फैसले पर मजेदार रिएक्शन भी आए।

500 और 1000 रुपये के नोट बंद
500 और 1000 रुपये के नोट बंद

यहाँ पढ़ें : 500 और 1,000 रूपये के पुराने नोट बंद करने की घोषणा

1000 रुपये और 500 रुपये के नोट बंद करने के फैसले के बाद ट्विटर पर #BlackMoney , #currencyban, #Modifightcorruption  से ट्रेंड कर रहा है।

आइए जानते है, किस ने किसे रिएक्‍शन दिएः-

  • भारतीय टीम के क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने ट्विटर पर लिखा, कि अमेरिका में गिने जाएंगे वोट, भारत में गिने जा रहे है नोट, आज रात में जिन घरों में बत्तियां नहीं बुझाई गईं, तो समझ लीजिए वे नोट गिन रहे हैं।
  • सुपरस्टार रजनीकांत ने इस कदम के लिए प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी को सलाम किया है और इसे नए भारत का जन्म कहा है।

  • बॉलीवुड के केआरके ने नरेन्‍द्र मोदी के इस बड़े कदम को काले धन पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की संज्ञा दी है।
  • वहीं पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने ट्वीट करके कहा है, कि इस कठोर फैसले को वापस लिया जाए। ममता बनर्जी ने कहा, मैं कालेधन, भ्रष्टाचार के खिलाफ सख्त हूं, मगर आम लोगों और छोटे कारोबारियों के बारे में गहराई से चितिंत हूं। वे सामान कैसे खरीदेंगे?
  • आम आदमी पार्टी ने नेता डॉ. कुमार विश्वास ने ट्विटर किया, तुम्हारी ज़िंदगी के बस दस मिनट बाक़ी हैं हज़ार-पॉंच सौ के नोटों।
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।