लाइफस्टाइल

Nag Panchami 2021: जिन लोगों को सपने में द‍िखते हैं सांप, उन्हें नांग पंचमी के दिन जरूर करनी चाहिए नागों की पूजा

 Nag Panchami 2021: जाने इस साल कब मनाई जाएंगी नांग पंचमी


हर साल हमारे देश में सावन के शुक्ल पक्ष की पंचमी को नाग पंचमी मनाई जाती है। इस साल नाग पंचमी 13 अगस्त 2021 को मनाई जाएगी। आपको बता दें कि सनातन धर्म के लोग नागों को देवता के रूप में पूजते है और उनकी आराधना करते है। यह दिन नाग देवता को समर्पित किया गया है और इस दिन सनातन धर्म के लोग पूरी विधि विधान से नागों की पूजा करते हैं। मान्यताओं के अनुसार इस दिन नाग देवता की पूजा करने से आपको शुभ फल मिलता है। इसके साथ ही भोलेनाथ प्रसन्न होते हैं और आपको अपना आशीर्वाद देते हैं। आपको बता दें कि इस बार नाग पंचमी पर बेहद दुर्लभ योग बन रहे हैं। यह योग राहु केतु के दोषों और काल सर्प दोष से मुक्ति के लिए अच्छे होते हैं। ज्योतिषाचार्यों के मुताबिक इस योग में नागों की पूजा करने से राहु केतु के दोषों के साथ ही साथ आपको काल सर्प दोष से भी मुक्ति मिलती है।

और पढ़ें:  अगर बाल धोने का न हो मूड, तो ये ड्राई शैम्पू करेंगे आपकी मदद

जाने नाग पंचमी का महत्व

हिन्दू मान्यताओं के अनुसार नाग देवता माँ लक्ष्मी की रक्षा करते हैं  इस लिए नाग पंचमी के दिन नाग देवता की पूजा और आराधना करने से माँ लक्ष्मी का आशीर्वाद हम पर बना रहता है और हमें धन और वैभव की प्राप्ति होती है। साथ ही साथ आपको बता दें कि इस दिन अगर काल सर्प दोष वाले व्यक्ति सच्चे मन से नाग देवता की पूजा और व्रत करते हैं तो उन्हें इस काल सर्प दोष से छुटकारा मिल जाता है। इसके साथ ही आपको बता दे कि जिन लोगों को सपने में सांप दिखाई देते हैं या फिर वो उनसे डरते है। उन लोगों के लिए भी इस दिन पूजा करना लाभदायक होता है।

जाने नाग पंचमी का मुहूर्त और पूजा विधि

आपको बता दें इस साल नाग पंचमी का शुभ मुहूर्त 12 अगस्त को दोपहर 3:24 मिनट पर शुरू होगा और अगले दिन यानि की 13 अगस्त 2021 की दोपहर 1:42 बजे तक चलेगा। वही 13 अगस्त को सुबह पूजा का मुहूर्त 8:28 बजे तक का है। अगर हम नाग पंचमी की पूजा विधि की बात करें तो नाग पंचमी के दिन दीवार पर हल्दी चंदन की स्याही से पांच नाग बनाए जाते हैं। इसके बाद उन नागों को खीर, धूप, नैवेध फूल आदि चढ़ाकर पूरी विधिवत से पूजा की जाती है। इसके बाद गरीबों में दान दिया जाता है।

जाने नाग पंचमी की कथा

मान्यताओं के अनुसार नाग पंचमी की कथा में बताया गया है कि एक किसान अपने खेत में हल चला रहा था, जिसमें फंसकर नागिन के तीन बच्चे मर गए। गुस्से में आकर नागिन ने बदला लेने की सोची और सोते समय किसान, उसकी पत्नी और दो बच्चों को डस लिया। जब नागिन किसान के बेटी को डसने आई, तो उसने नागिन के सामने दूध का कटोरा रख दिया और माफ़ी मांगी। इससे नागिन खुश हो गयी और उसके बाद नागिन ने खुश होकर लड़की से वरदान मांगने को कहा। जिसके बाद लड़की ने कहा मेरे परिवार को जीवित कर दीजिए। आपको बता दें कि इस दिन नाग नागिन की पूजा करने वाले लोगों को सांप कभी न डसे ये नागिन वरदान देकर चली गई।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button