Lady Finger Benefits: भिंडी खाने से होगा मोटापा कम, जानिये कैसे

0
202
lady finger benefits

Lady Finger Benefits: भिंडी खाने के हैं कई फायदे, मोटापा भी होता है कम


लेडी फिंगर यानि भिंडी से जुडी कुछ ख़ास बातें 

शायद ही आपमे से किसी ने सुना होगा कि महिला ऊँगली खाने से वजन कम होता हैं। घबराइए मत हम आपको किसी महिला की ऊँगली खाने के लिए नहीं बोल रहे हैं बल्कि हम बात कर रहे हैं लेडी फिंगर, यानि “भिंडी’ की जिसे ओकरा के नाम से भी जाना जाता है। भारतीय रसोईंघर में भिंडी की सब्जी का स्वाद तो आप सभी ने चखा होगा, लेकिन क्या आप जानते हैं भिंडी खाने से वजन भी कम होता है, और साथ ही होते हैं और भी हेल्थ बेनिफिट।

भिंडी का पौधा मुख्य रूप से अफ्रीका, मध्य पूर्व, दक्षिण अमेरिका और भारत के कई स्थलों पर उगाया जाता है। यह एक गर्म मौसम की फसल है। इसके नुकीले आकार के कारण इसको लेडी फिंगर कहा जाता हैं। भिंडी खाने के असंख्य स्वास्थ्य लाभ है जिससे आप लोग परिचित नहीं हैं।

भिंडी विटामिन और खनिजों से भरपूर होती है। इसमें उच्च घुलनशील और अघुलनशील फाइबर सामग्री अधिक होती है। एक सर्वे के अनुसार, भिंडी (भिंडी) की 100 ग्राम मात्रा में 33% कैलोरी, 7.45 ग्राम कार्बोहाइड्रेट, 1.93 ग्राम प्रोटीन, 0.19 ग्राम वसा और 3.2 ग्राम फाइबर होता है। जो लोग अपना वजन कम करना चाहते हैं, उनके लिए फाइबर की मात्रा बहुत अधिक फायदेमंद साबित होती है। इसलिए, भिंडी को उन सब्जियों में से एक माना जाता है जिन्हें आप अपने वजन घटाने के अपने आहार में शामिल कर सकते हैं। आइये आज आपको भिंडी के फायदों के बारे में बताते हैं।

लेडी फिंगर यानि भिंडी खाने के फायदें

वजन कम करने में मदद करती है भिंडी

भिंडी का सबसे पहला फायदा होता है कि इससे आपका वजन कम होता है। भिंडी में फाइबर अधिक मात्रा में होता है, जो आपको हमेशा तृप्त रखता है और आपको लंबे समय पेट भरा हुआ महसूस करवाता है। भिंडी में फाइबर की सामग्री शरीर द्वारा आसानी से पचती नहीं है, इसलिए हमारे सिस्टम में रक्त शर्करा के स्तर को कम करती है। फाइबर हमारे शरीर में आंत्र आंदोलन में सुधार करके शरीर में पाचन की प्रक्रिया को सही करता है। भिंडी मेटाबॉलिज्म और पाचन क्रिया को सही करके वजन कम करने में मदद करती है।

कम वसा युक्त

भिंडी में वसा की मात्रा 0.3 ग्राम होती है। वसा एक ऐसा पोषक तत्व है जो आहार में अधिक मात्रा में कैलोरी प्रदान करता है। एक ग्राम वसा में नौ कैलोरी होती है। कम वसा वाला फ़ूड खाने से कोलेस्ट्रॉल ठीक रहता है। इससे पेट फूलने, पेट में मरोड़ आना, एसिडिटी व डायरिया आदि से बचाव होता है।

और पढ़ें: घर में तुलसी लगाने से हो सकती है कई बीमारियां दूर, जानें तुलसी के फायदे

आंखों की रोशनी के लिए वरदान

भिंडी खाने से आंखों की रोशनी सही रहती है क्योंकि इसमें ल्यूटिन, बीटा-कैरोटीन जैसे एंटी-ऑक्सीडेंट जैसे तत्व पाए जाते हैं। भिंडी खाने से हम आखों से जुड़ी कई तरह की अन्य समस्यायों से भी बचें रहते हैं।

ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) कम होता है

भिन्डी का ग्लाइसेमिक इंडेक्स कम होता है, जिसके कारण हमारे शरीर की रक्त शर्करा पर न्यूनतम प्रभाव पड़ता है। अमेरिकन डायबिटीज एसोसिएशन के अनुसार, गैर-स्टार्च वाली सब्जियां, जैसे कि भिन्डी, कम ग्लाइसेमिक इंडेक्स वाले खाद्य पदार्थ खाने से डायबिटीज के रोगियों को बहुत फायदा होता हैं। साथ ही भिंडी में ग्लाइसेमिक इंडेक्स (जीआई) कम होने वजन कम करने में मदद मिलती है।

भिंडी खाने से ब्लड प्रेशर होता है कंट्रोल

भिंडी आपके ब्लड प्रेशर को भी कंट्रोल करती है। इसके अलावा गर्भवती महिलाओं को भिंडी खाना काफी फायदेमंद साबित होगा।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com