काम की बात करोना

महामारी के इस दौर में इजरायल और फिलीस्तीनी की लड़ाई विश्व को किस दिशा में ले जा रही है…

रविवार तड़के ही गाजा पर हमले में 23 लोगों की मौत


लंबे समय से चल आ रहा इजरायल और फिलीस्तीन विवाद एक बार फिर कुछ दिनों से खबरों का हिस्सा बना हुआ है। रमजान के अलविदा नमाज के बाद शुरु हुई हिंसा अभी तक थमी नहीं है। इसको लेकर अब विश्व की कई शक्तियां भी दो हिस्सों में बंट गई है। रविवार को गाजा पट्टी पर इजरायल ने तड़के बमबारी कर दी। इस हमले में 23 लोग घायल हो गए और 50 से अधिक लोग घायल हो गए हैं। इतना ही नहीं कई रिहाईशी बिल्डिंग भी क्षतिग्रस्त हो चुकी है। हवाई और जमीनी दोनों स्तर पर लडी जा रही इस लड़ाई के बारे में  इजरायल आर्मी के एक अधिकारी ने अपने बयान में कहा  है कि आसमान पर इजरायली प्लेन और जमीन पर गाजा पट्टी पर सेना हमले को अंजाम दे रही है।

इस्लामिक देश हुए एकजुट

लगातार बढ़ती हिंस के बीच हमास नेता इस्माइल हनीयेह इस लड़ाई से पीछे नहीं हटना चाहते हैं। वहीं दूसरी हिंसक झड़प के बीच इस्लामिक देश एकजुट हो गए हैं। 57 सदस्यीय इस्लामिक देशों के संगठन ऑर्गेनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कॉपरेशन ने फिलीस्तीनियों के खिलाफ इजरायल की कारवाई की निंदा करते हुए एक संयुक्त बयान जारी कर दिया है। इसमें पाकिस्तान ने अपने प्रस्ताव में इजरायली कारवाई को लेकर संयुक्त रुप से बयान जारी करने की मांग की थी।

ओआईसी में पाकिस्तान के इस प्रस्ताव का एक ध्वनि से समर्थन दिया गया। जिसके बाद यह मुद्दे संयुक्त राष्ट्र संघ में उठाया गया। इस बीच सभी इस्लामिक देशों ने अपनी-अपनी तरह से फिलीस्तीन का समर्थन किया। ट्विटर पर #westandwithpalestine भी ट्रेंड किया गया। ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इसके समर्थन में आ सकें। रविवार को इस बार फिर हुए हमले के बीच अमेरिका का राष्ट्रपति जो बाइडेन ने शांति बनाई रखने की अपील की है। वहीं दूसरी ओर गाजा शहर में हुए हमले में एसोसिएटेड प्रेस और अन्य मीडिया हाउस भी उस बिल्डिंग में हैं जहां आज हमला हुआ। इस हमले के बाद जो बाइडेन ने इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू से फोन पर बातचीत कर नागरिकों और पत्रकारों की सुरक्षा को सुनिश्चित किया।

Read more: जाने आर्ट थेरेपी के बारे में, साथ ही जाने मेंटल हेल्थ से जुड़ी परेशानियों में कैसे फायदेमंद होती है ये थेरेपी…

क्या है पूरा मामला

10 मई को रमजान की अलविदा नमाज के दिन यरुशलम स्थित अल-अक्सा मस्जिद में फिलिस्तीनियों और इजरायली सुरक्षा बलों के बीच झड़प हो गई थी। इस झड़प में दर्जनों फिलीस्तीनी घायल हो गए और यही शुरु हुआ इजरायल और फिलीस्तीन के बीच लड़ाई जो पिछले छह दिनों से चल रही है। हिंसक झड़प की जवाबी कारवाई करते हुए फिलीस्तीन के चरणपंथी गुट ने रॉकेट दाग दिए। जिसके जवाबी एक्शन में इजरायल ने हमास को भारी नुकसान पहुंचाया है। अब तक हुई हिंसा में गाजा में कम से कम 145 फिलिस्तीनियों की मौत हो गई है। जिसमें 41 बच्चे और 24 महिलाएं । वहीं दूसरी और आठ इजरायली मारे गए हैं।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।