हॉट टॉपिक्स

ICC मेन्स टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर 2021 के लिए नाम हुए घोषित, चलिये देखते है भारत की तरफ से कौन रह चुके है पिछले विजेता

ICC मेन्स टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर 2021 के लिए नाम हुए घोषित, भारत की तरफ से रविचंद्रन अश्विन शामिल


ICC पुरस्कार अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट के लिए खेल पुरस्कारों का एक वार्षिक सेट है, जो पिछले 12 महीनों के सर्वश्रेष्ठ अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खिलाड़ियों को मान्यता और सम्मान देता है।

इस साल क्रिकेट जगत में कुछ महत्वपूर्ण घटनाएं देखी गईं। आईसीसी विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल और आईसीसी पुरुष T20 विश्व कप 2021 दो प्रमुख कार्यक्रमों मे से हैं जो 2021 मे सम्पन्न हुए। इसके अलावा इस पूरे वर्ष में कई द्विपक्षीय श्रृंखलाएँ भी खेली गईं। आईसीसी  ने अब मेन्स टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर के लिए नामांकन का खुलासा किया है, जिसमे एक जादूगर स्पिन्नर, एक दिग्गज बल्लेबाज, एक उभरता हुआ तेज़ गेंदबाज और एक मजबूत ओपेनर बल्लेबाज शामिल है।  आईसीसी मेन्स टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर 2021 पुरस्कार के लिए नामांकित व्यक्ति हैं रविचंद्रन अश्विन (भारत), जो रूट (इंग्लैंड),  काइल जैमीसन (न्यू ज़ीलैंड) और दिमुथ करुणारत्ने (श्रीलंका)। अब हम उनके 2021 के कारनामों पर एक नज़र डालते हैं।

Read more: जाने उन भारतीय क्रिकेटर्स के बारे में जिनके पास है बेशुमार दौलत, उसके बाद भी करते है सरकारी नौकरी

8 मैचों में 16.23 की औसत से 52 विकेट और एक शतक के साथ 337 रन 28.08 की औसत के साथ बनाने वाले रविचंद्रन अश्विन भारत की और से इस पुरस्कार के लिए एक मात्र दावेदार है। अश्विन भारत के सबसे महान मैच विजेताओ मे से एक है। गेंद के साथ अपनी जादूगरी के अलावा उन्होने बल्ले से भी महत्वपुर्ण योगदान दिया। ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ सिडनी टेस्ट मे साल की शुरुआत शानदार रही।  गेंद के साथ एक अनुशासित लाइन और लेंथ पर गेंदबाजी करते हुए, अश्विन ने 128 गेंदों में 29 नाबाद रन बनाए और हनुमा विहारी के साथ मिलकर भारत को एक यादगार ड्रॉ में मदद की, जिसने श्रृंखला के स्तर को 1-1 पर बनाए रखा। इंग्लैंड के खिलाफ घरेलू श्रृंखला में भी वह पूरी उड़ान में थे, उन्होंने चार मैचों में 14.72 की औसत पर 32 विकेट लिए, जबकि बल्ले के साथ 189 रनों का योगदान दिया। उनके कारनामों के लिए, उन्हें प्लेयर ऑफ़ द सीरीज़ चुना गया।

रविचंद्रन अश्विन (भारत)

अश्विन ने साउथेम्प्टन में सीम के अनुकूल विकेट पर भी अपनी छाप छोड़ी और मैच में चार विकेट लिए। इंग्लैंड के खिलाफ अगली श्रृंखला अश्विन के लिए निराशा से भरी थी क्योंकि वह भारतीय टीम के सभी चार मैचों मे अपनी जगह नही बना पाये। मगर फिर न्यूजीलैंड के खिलाफ घरेलू श्रृंखला में शानदार वापसी की, जहां उन्हे एक और प्लेयर ऑफ द सीरीज का पुरस्कार मिला। उन्होंने दो मैचों में 11.36 की औसत से 14 विकेट चटकाए, जबकि कानपुर टेस्ट में कुछ महत्वपुर्ण पारियां भी खेली।

Read more: इंडियन वीमेन क्रिकेट टीम की ब्यूटी क्वीन हरलीन देओल, जिसके कैच ने किया सबको हैरान

 जो रूट (इंग्लैंड)

15 मैचों में छह शतकों के साथ 1708 रन बनाने वाले जो रूट के लिए 2021 एक शानदार वर्ष रहा।  एक कैलेंडर वर्ष में टेस्ट क्रिकेट में 1700 से अधिक रन बनाने वाले इतिहास में केवल तीसरे खिलाड़ी बन गए हैं जो रूट,  मोहम्मद युसूफ और सर विवियन रिचर्ड्स के बाद। स्थितियां चाहे जैसी भी हो,  एशिया हो या घर, फिर चाहे वह गति हो या स्पिन, रूट ने अपनी शानदार पारियों के साथ सब का दिल जीत लिया।  श्रीलंका के खिलाफ गाल्ल में, चेन्नई में भारत के खिलाफ और लॉर्ड्स में फिर से भारत के खिलाफ उनकी बेहतरीन पारियों मे से एक है।

काइल जैमीसन (न्यू ज़ीलैंड)

5 मैचों में 17.51 की औसत पर 27 विकेट और 17.50 की औसत पर 105 रन बनाने वाले काइल जैमीसन न्यूजीलैंड के लिए 2021 मे एक शानदार खिलाड़ी के रूप मे उभरे है। जहां वह आईसीसी विश्व टेस्ट चैंपियनशिप फाइनल में भारत के खिलाफ बेहतरीन परी खेली और अक्सर टिम साउथी, ट्रेंट बोल्ट जैसे दिग्गजों के कारनामों को भी पार करते दिखे।

Read more: मनीषा गुलाटी जिन्होंने शादी के बाद बनाया अपना करियर, इनकी स्टोरी आपको कर सकती है इंस्पायर..

7 मैचों में 69.38 की औसत पर 4 शतकों के साथ 902 रन बनाने वाले दिमुथ करुणारत्ने के लिए 2021 का वर्ष शानदार रहा जहां श्रीलंकाई टेस्ट कप्तान ने दिखाया कि वह कितने शानदार खिलाड़ी हैं और इस समय टेस्ट क्रिकेट में सर्वश्रेष्ठ सलामी बल्लेबाज होने के मामले मे सबसे आगे है। दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ जोहान्सबर्ग में एक शानदार शतक, पल्लेकेले में दो मैचों में बांग्लादेश के खिलाफ दो शतक, जिसमें एक दोहरा शतक शामिल है, और गाल्ल में वेस्टइंडीज के खिलाफ एक शानदार शतक, करुणारत्ने के कुछ बेहतरीन पारियो मे से एक है।

दिमुथ करुणारत्ने (श्रीलंका)

आईसीसी मेन्स टेस्ट प्लेयर ऑफ द ईयर 2021 का चयन वोटिंग अकादमी से होगा, जिसमें दुनिया भर के वरिष्ठ क्रिकेट पत्रकार और प्रसारक शामिल है। इसके साथ ही आईसीसी अपने डिजिटल चैनलों के माध्यम से दर्शकों के मत को भी लेंगे और अंत मे दोनों वोटो को मिला कर विजेता घोषित किया जाएगा।

सन 2004 से अब तक भारत की ओर से 5 खिलाड़ियो ने इस किताब को अपने नाम किया है, जिसमे राहुल द्रविड़ (2004), गौतम गंभीर (2009), वीरेंद्र सेहवाग (2010), रविचंद्रन अश्विन (2016) और विराट कोहली (2018) शामिल है। इस बार विजेता के नाम की घोषणा 24 जनवरी 2022 को की जाएगी।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Himanshu Jain

Enthusiastic and inquisitive with a passion in Journalism,Likes to gather news, corroborate inform and entertain viewers. Good in communication and storytelling skills with addition to writing scripts
Back to top button