अब दिल्ली से मेरठ तक दौड़ेंगी मेट्रो: शहर-शहर  को जोड़ रही हैं मेट्रो

0
241
delhi meerut metro project

जाने रैपिड और मेट्रो रेल से जुडी जरुरी बातें, covid के बाद जिंदगी हो जाएगी आसान


दिल्ली से मेरठ तक दौड़ने वाली रैपिड रेल प्रोजेक्ट की तैयारी को दिन प्रतिदिन अंतिम रूप दिया जा रहा है। रैपिड रेल और मेट्रो रेल के पिलर से ले कर ट्रेनसेट तक सभी का टेंडर फाइनल किया जा रहा है। रैपिड रेल और मेट्रो रेल का काम दो चरणों में तेजी से किया जा रहा है। रैपिड रेल चलने के बाद साल 2025 में दिल्ली से मेरठ का सफर सिर्फ एक घंटे में पूरा होगा। शुरू में दिल्ली से मेरठ तक के रैपिड रेल के 30 ट्रेनसेट और मेरठ मेट्रो के 10 ट्रेनसेट चलाये जायेगे। दिल्ली से मेरठ के बीच 24 स्टेशन होंगे। रैपिड रेल और मेट्रो रेल से जुड़े टेंडर को मई-2020 में फाइनल कर दिया गया था। अभी आपको इनकी वेबसाइट पर टेंडर से जुडी जरूरी चीजें आसानी से मिल जायेगे।

और पढ़ें: गूगल ने दिया अपने कर्मचारियों को तोफहा 2021 तक कर पाएंगे वर्क फ्रॉम होम


(Image source: Google)

बॉम्बिर्डियर कंपनी को कितने में दिया गया है रैपिड रेल और मेट्रो रेल का टेंडर

दिल्ली से मेरठ के इस 82 किमी के रेलवे ट्रैक पर रैपिड रेल के अलावा मेट्रो रेल भी दौड़ाने का प्लान है। इसके लिए मेरठ मेट्रो ने अलग से स्टेशन बनाये है। रैपिड रेल और मेट्रो रेल दोनों ट्रेनों के कोच बनाने का जिम्मा गुजरात के बॉम्बिर्डियर कंपनी को सौंपा गया है यही कंपनी रैपिड रेल और मेट्रो रेल पूरी तरफ से तैयार कर के एनसीआरटीसी को सौंपेगी। सोंपने के बाद कंपनी दोनों डिपो में ट्रेनसेट की मरम्मत का कार्य भी देखेगी। इसके लिए वो एक मेंटीनेंस अमाउंट भी तय करेगी। रैपिड रेल और मेट्रो रेल का टेंडर गुजरात की बॉम्बिर्डियर कंपनी को 25 अरब 76 करोड़ 93 लाख पांच हजार 936 रुपये में दिया गया है।

रैपिड रेल और मेट्रो रेल से जुडी कुछ महत्वपूर्ण बातें

1. रैपिड रेल 2024 में चलने लगेगी। और दिल्ली से मेरठ पहुंचने में एक घटे से भी कम समय लगेगा। जिसके लिए आपको 165 रुपये किराय देना होगा। दिल्ली से मेरठ तक 24 बीच में स्टेशन होंगे।

2. क्या आपको पता है रैपिड रेल की गति करीब 160 किमी प्रति घंटा होगी, जो की मेट्रो से दोगुनी है। अगर आप एसी कोच में बैठकर भी सफर करेंगे तो 82.13 किमी का सफर आप सिर्फ 60 मिनट में पूरा कर लेंगे।

3. डीपीआर के अनुसार रैपिड रेल में महिलाओं व दिव्यांगों के लिए अलग एक बिजनेस कोच भी होगा।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments