केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो का बयान तृणमूल कार्यकर्ताओं से निपटने के लिए संविधान में प्रवधान मौजूद है

डर का माहौल पैदा किया जा रहा है


बंगाल में अगले साल होने वाले चुनाव से पहले ही आरोप प्रत्यारोपों का सिलसिला शुरु हो गया है. केंद्रीय मंत्री बाबुल सुप्रियो ने सत्तारुढ़ पार्टी तृणमूल कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा कि पार्टी के कार्यकर्ताओं को मतदाताओं को डराना-धमकाना बंद करना चाहिए, अन्यथा संविधान में इससे निपटने के प्रावधान मौजूद है.

130 बीजेपी कार्यकर्ताओं की हुई हत्या

एक न्यूज चैनल से बात करते हुए बाबुल सुप्रियो ने कहा कि  प्रदेश में 130 बीजेपी कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी गई है. प्रदेश में डर का माहौल पैदा किया जा रहा है. उन्होंने कहा कि अगर तृणमूल कांग्रेस के सदस्यों को लगता है कि वह मतदाताओं को डरा धमकाकर राजनीतिक हिंसा को फैला सकते हैं. तो ऐसा नहीं हैं. इन सबसे निपटने के लिए संविधान में प्रावधान दिए गए है. जिसके द्वारा प्रदेश में शांति बनाई जा सकती है.

और पढ़ें: सिर्फ चंदा न देने पर मध्यप्रदेश में 14 आदिवासी परिवारों का राशन, इलाज बंद

जनता ने बीजेपी को वोट देने की ठान ली है

अपनी बात को आगे बढ़ाते हुए केंद्रीय मंत्री ने कहा कि आने वाले विधानसभा चुनाव में प्रदेश की जनता ने बीजेपी को वोट देने का ठान लिया है. उन्होंने कहा कि हम चाहते हैं कि तृणमूल कांग्रेस को सत्ता में लाने वाले लोग अब लोकतांत्रिक प्रक्रिया के माध्यम से ही वर्तमान सरकार को गिराएं. गौरतलब है कि आऩे वाले साल में अप्रैल-मई के महीने में विधानसभा चुनाव होने वाले हैं. जिसमें बीजेपी और तृणमूल कांग्रेस एक दूसरे की प्रतिद्वंदी पार्टी है.

दो दिन पहले ही हुई थी कार्यकर्ता की मौत

आपको बता दें बंगाल में आए दिन बीजेपी कार्यकर्ताओं की मौत की खबरें आती रहती है.  अभी दो दिन पहले ही बीजेपी कार्यकर्ता की उत्तरी बंगाल के कूच बिहार जिले के तुफानगंज अस्पताल में मौत हो गई. कार्यकर्ता कालाचंद कर्मकार पोलिथ स्तर के सचिव थे. उनकी मौत के पीछे का कारण दो समुदाय के बीच की झड़प है. इसी झड़प में ही कालाचंद घायल हो गए थे. जिसके बाद उन्हें अस्पताल में भर्ती कराया गया. जहां उनकी मौत हो गई. बीजेपी के कार्यकर्तांओं का आरोप है कि मौत के पीछे तृणमूल कांग्रेस के कार्यकर्ताओं का हाथ है.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments