Categories
भारत

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में कुछ दिनों से भारी बारिश

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में कुछ दिनों से भारी बारिश


आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में जारी भारी बारिश

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में कुछ दिनों से भारी बारिश :-कुछ दिनों से लगातार देश के कुछ हिस्सों में भारी बारिश हो रही है। इसके चलते शुक्रवार यानि कल आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में कुछ लोगों की जान चली गई है। वहीं दूसरी तरफ मुंबई के लोगों के लिए भी बारिश ने कई परेशानी खड़ी की हुई है। बारिश की वजह से तेंलगाना सरकार को आईटी कंपनियों से यह कहना पड़ा है, कि वे अपने कर्मचारियों को घर से ही काम करने की इजाजत दे दें, साथ ही तेंलगाना सरकार ने कुछ इलाकों में बचाव अभियान के लिए सेना की मदद मांगी है।

हैदराबाद में मूसलाधार बारिश

यहाँ पढ़ें : जॉन केरी के बाद दिल्‍ली की बारिश में फंस सेना प्रमुख

गुंटूर और सिकंदराबाद के बीच दो दिन से रेल सेवा बंद

आंध्रप्रदेश में बारिश के कारण आज भी कुछ लोगों के मारने की ख़बर है। आंध्रप्रदेश में गुंटूर और कृष्ण नदी के ऊपरी जलग्रहण क्षेत्रों में ज्‍यादा बारिश होने के कारण से केएल राव सागर जलाशय करीबन पूरा भर गया है और इसकी कुल क्षमता 45.77 टीएमसी फुट की है। साथ ही अभी इसमें 30 टीएमसी फुट पानी है। केएल राव सागर जलाशय से 1.51 क्यूसेक बाढ़ का पानी छोड़ा जा रहा है, जोकि विजयवाड़ा में कृष्णा नदी पर बने प्रकाशम बांध तक पहुंच रहा है। वहीं गुंटूर और सिकंदराबाद के बीच दूसरे दिन भी रेल सेवा बंद रही, क्योंकि छोटी-छोटी नदियों के ज्‍यादा भर जाने के कारण से सत्तेनपल्ली के पास दो किलोमीटर से ज्यादा दूरी की पटरियां बह गई हैं।

आंध्र प्रदेश और तेलंगाना में जारी भारी बारिश

हैदराबाद में जारी तीनों दिनों से मूसलाधार बारिश

वहीं हैदराबाद में लगातार तीन दिनों से मूसलाधार बारिश जा रही है। बारिश के कारण राज्य सरकार ने ग्रेटर हैदराबाद इलाके में आज और कल के लिए शैक्षिक संस्थान में छुट्टी का ऐलान भी किया है। वहीं दूसरी तरफ राजधानी दिल्‍ली में आज उमस भरा दिन रहा। दिल्‍ली में अधिकतम पारा 36 डिग्री और न्यूनतम पारा 27 डिग्री सेल्सियस रहा।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स

एक बार फिर बीजेपी ने अपने सांसदों को किया व्हिप, आठ अगस्त को जीएसटी लोकसभा में…

जीएसटी बिल राज्यसभा में पास होने के बाद अब एक बार फिर लोकसभा में आठ अगस्त को पेश किया जाएगा। बीजेपी ने अपने सांसदों को व्हिप जारी कर दिया है।

आपको बता दे, इस मामले को लेकर बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह ने बीजेपी शासित राज्यों के मुख्यमंत्रियों की बैठक 27 अगस्त को बुलाई है। 27 अगस्‍त को होने वाली बैठक का मुख्य एजेंडा जीएसटी होगा और जिसमें इस संविधान संशोधन बिल का अनुमोदन करने का आग्रह किया जाएगा। इसके साथ ही सरकार से जुड़े अन्य मुद्दों पर चर्चा होगी। साथ ही आम आदमी से जुड़ी सरकार की योजनाओं के कार्यान्वन पर चर्चा होगी। 23 अगस्त को दिल्ली में सभी राज्यों की कोर ग्रुप की बैठक भी होगी।

जीएसटी बिल

दरअसल, देश के नौ राज्यों में बीजेपी की सरकार है जोकि है गुजरात, असम, मध्य प्रदेश, राजस्थान, छत्तीसगढ़, झारखंड, हरियाणा, महाराष्ट्र और गोवा। साथ ही चार राज्यों में बीजेपी की गठबंधन सरकार है जोकि है आंध्र प्रदेश, नागालैंड, पंजाब,  जम्मू और कश्मीर मतलब कि 13 राज्यो में और जीएसटी के लिए 15 राज्यों से पास होना जरूरी है। राज्‍य बिहार और बंगाल से समर्थन की बात कही जा चुकी है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
बिज़नस

मशहूर अल्ट्राटेक सीमेंट ने किया जेपी ग्रुप के सीमेंट कारखानों को खरीदने का ऐलान!

आदित्य बिड़ला ग्रुप की मशहूर कंपनी अल्ट्राटेक सीमेंट ने काफी समय से कर्ज में डूबी जेपी ग्रुप कंपनी के सीमेंट कारखानों को खरीदने का ऐलान रविवार को कर दिया है। यह सौदा लगभग 17,000 करोड़ यानी के 2.5 अरब डॉलर में हुआ हैं।

सीमेंट वर्ग में यह अब तक का सबसे बड़ा सौदा बताया जा रहा है। इन सीमेंट कारखानों को खरीदने की दौड़ में कई भारतीय और विदेशी कंपनियां शामिल थी। अल्ट्राटेक द्वारा बताया गया है कि, अब तक इस सीमेंट कारखानों की कुल क्षमता सालाना 6.83 करोड़ टन होती थी, जोकि सौदा होने के बाद 9.07 करोड़ टन हो जाएगी।

इन कारखानो की कमाई से अल्ट्राटेक कई नए बाजार मसलन सतना, पूर्व उत्तर प्रदेश, हिमाचल प्रदेश और आंध्र प्रदेश में मिलेगा।

इस सौदे से पहले भी अल्ट्राटेक ने जयप्रकाश एसोसिएट्स के द्वारा मध्यप्रदेश में स्थित 2 सीमेंट कारखाने खरीदने का सौदा किया था। जो बाद में जाकर रद्द कर दिया गया। जयप्रकाश एसोसिएट्स अपना कर्ज चुकाने तथा बैलेंसशीट को सुधारने के लिए अपनी सीमेंट और बिजली संपत्तियों को बेचने की कोशिश में जुटे है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in