SaandKiAankh Promotion: तापसी और भूमि ने दिया बेटी बचाओ और बेटी पढ़ाओ का मैसेज

0
20
saand ki aankh movie

इमोशनल और जज़्बे से भरपूर्ण है फिल्म 


बॉलीवुड की क्यूटेस्ट और स्टाइलिश एक्ट्रेस तापसी और भूमि इस दिवाली चलाएंगी गोलियों से धाए-धाए। जी हाँ, इस 25 अक्टूबर को तापसी और भूमि की सांड की आँख फिल्म रिलीज़ हो रही है।इस फिल्म के प्रमोशन के लिए दोनों एक्ट्रेस दिल्ली के दा इम्पीरियल होटल पहुंचे जहां दोनों मीडिया के साथ मस्ती करते नज़र आये। दोनों से फ़िल्म को लेकर कई सवाल किये गए जिसमे दोनों ने बताया की यह फिल्म एक जज़्बे और इमोशनल से भरपूर्ण है।

भूमि के लिए बहुत ख़ास रहा है चंद्रो का किरदार

भूमि से पूछा गया की उनके लिए इस किरदार को निभाना कितना चल्लेंजिंग रहा है। उन्होंने बड़े ही सहजता से जवाब देते हुए बताया की यह  किरदार उनके लिए बेहद ख़ास रहा है। यह फिल्म उनके करियर की अब तक बेस्ट फिल्म है जिसे वो कभी नहीं भूलेंगी। इस फिल्म में उन्होंने  उस बुजुर्ग  महिला का किरदार जिया है जो अपने जज्बे से सबसे लड़कर शूटिंग में मैडल जीत है।

वही तापसी ने भी लड़कियों की पढ़ाई और उनके करियर को  लेकर भी एक बात कही बेटियों का हक़ है पढ़ना और कुछ कर दिखाने का जो उनसे कोई नहीं छीन सकता। यह फिल्म एक तरह से बेटी पढ़ाओ, बेटी बचाओ का मेसैज देती है। उम्र चाहे कोई भी सपनो को पूरा करने के लिए कोई उम्र नहीं होती तभी इस फिल्म का एक ख़ास डायलॉग है – “तन्न बुढ़ा होता है लेकिन मन बुढ़ा नहीं होता है”

और पढ़ें: Made in china promotion : प्रमोशन के दौरान मीडिया के साथ मस्ती करते नजर आये राजकुमार राव

क्या है फिल्म की कहानी ?

फिल्म की कहानी  में दिखाया गया है की कैसे दो बुजुर्ग महिला चन्द्रो और प्रकाशी जो सगी  बहनें है उन्हें सन  1998  में जोहरी गॉंव  के कोच डॉ  राजपाल ने शूटिंग की ट्रेनिंग दी. वह इस फिल्म में दोनों  बहनों  का स्ट्रगल भी दिखाई गई है। इसमें दिखाया गया है कि कैसे ये दोनों नेशनल लेवल की शूटर बन जाती है। चन्द्रो और प्रकाशी दोनों ही अब तक 352 मेडल्स जीत चुकी है। फिल्म में  तापसी पन्नू और भूमि पेडनेकर का हरियाणवी अंदाज में नज़र आयी है जो कबीले तारीफ़ है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments