विदेश

ईरान के सर्वोच्च नेता को पीएम मोदी ने उपहार में दी कुरान

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी दो दिवसीय ईरान  दौरे के लिए गए थे। इस दौरे के दौरान पीएम ने ईरान की सर्वोच्च नेता अयातुल्लाह सैयद अली हुसैनी खामनेई से उनके कार्यालय में मुलाकात कर एक दुर्लभ कुरान उपहार में दी है। पवित्र कुरान सातवीं सदी की एक दुर्लभ पांडुलिपि है, जो कि कुफिक लिपि में लिखी हई है। इसका श्रेय चौथे इस्लामी खलीफा और पहले शिया हजरत अली को जाता है।

कुफिक लिपि में लिखी पांडुलिपि संस्कृति मंत्रालय के नियंत्रणाधीन उत्तर प्रदेश के रामपुर के रजा पुस्तकालय में रखी है।

pm-modi

पीएम नरेंद्र मोदी

आपको बता दें कि, 76 वर्षीय शिया मुक्ती अयातुल्ला खमनेई दो बार राष्ट्रपति रह चुके है और ईरान के विदेश नीति से संबंधित और अन्य मुद्दों पर अंतिम निर्णय लेते है।

इसके साथ ही पीएम ने ईरान के राष्ट्रपति हसन रूहानी को मिर्जा गालिब की फारसी में लिखी शायरी के संग्रह ‘कुल्लीयत-ए-फारसी-ए-गालिब’ भेंट की। साल 1863 में प्रकाशित ‘कुलियत-ए-फारसी-ए-गालिब’, गालिब की 11,000 से अधिक आयतों का संग्राह है। इसके अलावा फारसी अनुवादित रामायण की अधिकृत भेंट की।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Back to top button