Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
पर्यटन

Offbeat Monsoon Destinations: भारत में मानसूनी मौसम का उठाए आनंद घूमे इन जगहों पर

भारत में ऐसे कई विभिन्न खूबसूरत मानसूनी स्थल हैं जहां बारिश का आनंद लेने का अद्वितीय मौका मिलता है। यहां हम आपको विभिन्न ऐसे आकर्षक स्थानों के बारे में बताएंगे जहां बारिशी मौसम में जाने का विकल्प बेहतर होता है।

Offbeat Monsoon Destinations: बारिश में बढ़ जाती है इन जगहों की डिमांड, मानसून में उठा सकते हैं दोगुना आनंद

भारत में ऐसे कई विभिन्न खूबसूरत मानसूनी स्थल हैं जहां बारिश का आनंद लेने का अद्वितीय मौका मिलता है। यहां हम आपको विभिन्न ऐसे आकर्षक स्थानों के बारे में बताएंगे जहां बारिश के मौसम में जाने का विकल्प बेहतर होता है। इन स्थानों का आप्रिय समय सितंबर तक रहता है।

 वायनाड, केरल

 

View this post on Instagram

 

A post shared by wayanad | kerala ™️ 2.0 (@nammale_wayanad2)

वायनाड शहर केरल का एक आकर्षक स्थान है जहां मानसून के मौसम में आपको एक आनंदमय अनुभव मिलता है। इस जगह पर आपको कॉफी के बागों और मसालों से भरपूर वातावरण मिलता है। यहां आप नीलगिरि बायोस्फीयर रिजर्व और बाणासुर सागर, जो भारत का सबसे बड़ा बांध है, वो भी आपको देखने को मिलेगा। यहां का मीनमुट्टी झरना आपको खास आनंद देगा। आपको कुरूवाद्वीप यात्रा से बारिश में बचने की सलाह दी जाती है। वायनाड कोझिकोड से 65 किलोमीटर दूर है।

अराकू वैली, आंध्र प्रदेश

 

View this post on Instagram

 

A post shared by MITHUN (@mithun_21941)

आंध्र प्रदेश के अराकू वैली में भारत की पहली 100 फीसदी आर्गेनिक सिंगल ओरिजिनल कॉफी उगता है। यहां बारिशी मौसम में गर्म कॉफी के साथ आप इतिहास और संस्कृति का अनुभव कर सकते हैं। इस स्थान पर चापराई और डुम्ब्रीगुडा झरने आपको खूबसूरती का अहसास कराएंगे। यहां आप पद्मपुरम बॉटेनिकल गार्डन और बोर्रा गुफाओं में गोल्डन गेको देख सकते हैं। अराकू वैली विशाखापट्टनम से 120 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और बस या कार से आसानी से पहुंचा जा सकता है।

Read More:- Monsoon Destination: भारत में वाटरफॉल्स देखने के लिए परफेक्ट डेस्टिनेशन

मावसिनराम, मेघालय

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Click.and.Vibe (@click.and.vibe)

 मेघालय के चेरापूंजी को भारत का सबसे अधिक वर्षा वाला स्थान माना जाता है, लेकिन अब मावसिनराम इस श्रेणी में शामिल है। इस जगह पर नोहकलिकाई और सेवन सिस्टर्स जैसे झरने हैं, जो बारिशी मौसम में खास आकर्षण प्रदान करते हैं। यहां जिप लाइनिंग का भी आनंद लिया जा सकता है। मावसिनराम में माॅजिम्बुइन गुफा और डबल डेकर लिविंग रूट ब्रिज भी देखने योग्य हैं। इस जगह को शिलांग से 98 किलोमीटर की दूरी पर दरियादिली से दर्शन कर सकते हैं।

 ओरछा, मध्य प्रदेश

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Jagpal Singh Rajawat (@jpsingh_99)

 मध्य प्रदेश का ओरछा शहर सोलहवीं सदी की ऐतिहासिक वास्तुशिल्प का उदाहरण है। यहां तीन महल विचित्र इमारतों के साथ एक किला है। राजा महल में अयोध्या के राजा राम का मंदिर है, जो पर्यटकों को धार्मिक कहानी से परिचित कराता है। बेतवा नदी के पास अभयारण्य में आप यात्रा कर सकते हैं और स्थानीय और प्रवासी पक्षियों की प्रजातियों का दर्शन कर सकते हैं। ओरछा ग्वालियर से 112 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है और सड़क मार्ग के जरिए आसानी से पहुंचा जा सकता है।

Read more: Kailash Mansarovar: अब यहां से भी हो सकते हैं कैलाश मानसरोवर पर्वत के दर्शन, अधिकारियों ने सर्वे किया

 मालशेज घाट, महाराष्ट्र

महाराष्ट्र राज्य के पश्चिमी घाट की इस पहाड़ी पर स्थित मालशेज घाट आपको हरियाली से भरपूर दृश्यों का आनंद दिलाता है। यहां मनुष्य निर्मित झील है जहां आप गुलाबी फ्लेमिंगो देख सकते हैं। इसके अलावा यहां ट्रैकिंग, बाइकिंग, ऐतिहासिक स्थलों का आनंद भी लिया जा सकता है। यहां हरिश्चंद्रगढ़ किला, छत्रपति शिवाजी महाराज के जन्मस्थान शिवनेरी किला, लेण्याद्री विनायक मंदिर में बना प्राचीन बौद्ध गुफाएं भी देख सकते हैं। मालशेज घाट मुंबई से 126 किलोमीटर और पुणे से 129 किलोमीटर की दूरी पर स्थित है, और इसे सड़क मार्ग के जरिए आसानी से पहुंचा जा सकता है। कार या बस के माध्यम से आप इस स्थान पर यात्रा कर सकते हैं।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button