काम की बात करोना

Russia–Ukraine war: इंसान और जानवरों के बीच का ऐसा बंधन जो आपका दिल जीत लेगा!

Russia-Ukraine war : लोग अपने पालतू जानवर के साथ लौटे अपने वतन, यह इंसानियत की मिसाल ने जीत लिया दिल


Highlights :

. यूक्रेन से देश लौट रहे नागरिक अपने पालतू जानवरों को भी ला रहें हैं साथ।

. सोशल मीडिया की मदद से पशुओं के मालिकों ने भारत सरकार से लगाई थी गुहार।

. केंद्रिय राज्यमंत्री अजय भट्ट ने ट्वीट कर भारतीय छात्रों का उनके पालतू जानवरों के साथ किया स्वागत।

Russia-Ukraine war ऑपरेशन गंगा के तहत यूक्रेन से भारत आ रहे छात्र अपने साथ अपने पालतू पशुओं को भी ला रहे हैं। जंग के इस हालात में ऐसी कहानियाँ निकल कर सामने आ रही हैं जो दिल को छूने वाली है। जहाँ तरफ इंसान – इंसान से लड़ रहा है, वही कुछ लोगो ने पेश की इंसानियत की ऐसी मिसाल जिसने जीत लिया हमारा दिल|

Russia-Ukraine War यूक्रेन और रूस के बीच तनाव जारी है। जिसमें यूक्रेन में आम जनता पर दु:ख के बादल मँडरा रहे हैं। खासकर के भारतीयों की बात करें तो विदेश मंत्रालय के अनुसार यूक्रेन में 20 हज़ार ( 20, 000 Indian Students) के आसपास भारतीयों की संख्या है उनमें से अधिकतर संख्या छात्रों की है। भारतीय नागरिकों को ऑपरेशन गंगा के तहत भारत वापस लाया जा रहा है। इस बीच कुछ ऐसी तस्वीरें सामने निकलकर आ रही हैं जिसे देख आपका दिल पसीज जायेगा।

भारतीय सरकार यूक्रेन ( Ukraine) में फँसे नागरिकों को अपने देश वापस ला रही है। ऐसे में कई मामले ऐसे भी सामने आयें हैं जहाँ भारतीय छात्रों को वतन अपने पालतू जानवरों के साथ आते देखा जा रहा है। कई छात्र अपने पालतू कुत्ते को लेकर देश आयें हैं तो कई ऐसे छात्र हैं जो अपने देश पालतू बिल्लियों को लेकर आये हैं। कुछ ऐसी कहानियाँ हैं जो इस जंग के समय भी इन्सानों को इन्सानियत से जोड़े रखी हुई हैं। आज हम आपके समक्ष कुछ ऐसे ही किस्से रखेंगे जो आपके दिल को छू जायेंगे ।

Read More- Russia-Ukraine crisis: अमन और शांति पर ऐसे कोट्स जो चाहिए आपको पढ़ने

टीवी 9 के अनुसार यूक्रेन से लौटे छात्र जाहिद अपने दोस्त कुत्ते के साथ लौटे हैं। उन्होंने कहा कि कई ऐसे लोग हैं जो अपने पालतू जानवरों को छोड़कर देश लौट आयें हैं लेकिन वो अपने कुत्ते जिसे वो अपना दोस्त बताते हैं उसके साथ घर वापस लौटे हैं। आपको बता दें कि यूक्रेन ( Ukraine ) में फंसे भारतीय नागरिकों को भारतीय वायु सेना पोलेंड के रास्ते देश ला रही है।

इसी बीच गौतम नाम के एक अन्य छात्र भी अपनी बिल्ली के साथ यूक्रेन से देश लौटे हैं। उनका कहना है कि उनकी पालतू बिल्ली उनके साथ बीते 4 महीने से है। यह बिल्ली उनके साथ बंकर में भी रही है। गौतम यूक्रेन की राजधानी कीव से लौटे हैं जिसे इस समय असुरक्षित कहा जा रहा है।

छात्रों के देश लौटने पर केंद्रीय राज्यमंत्री अजय भट्ट ने ट्वीट कर भारतीय छात्रों का उनके पालतू जानवरों के साथ स्वागत किया है।

ऑपरेशन गंगा के तहत अपने पालतू जानवरों के साथ वतन लौट रहे छात्रों की कहानी अनोखी है। इसमें देहरादून के रहने वाले रिषभ कौशिक भी हैं। इनकी कहानी ऐसी है जो आपको सम्वेदनाओं से भर देगी। रिषभ की कहानी इसलिये भी दिल को मर्माहत से भर देने वाली है क्योंकि रिषभ ने अपने पालतू कुत्ते मालूबे के बिना यूक्रेन छोड़ने से इंकार कर दिया था। रिषभ खार्किव नेशनल यूनीवर्सिटी ऑफ रेडियो इलोक्ट्रॉनिक्स इंजीनियरिंग में सॉफ्टवेयर इंजीनियरिंग के ग्रेजुएशन के छात्र हैं।

Read More- Indians amid Russia-Ukraine War: क्या भारतीय छात्रों की परवाह करता है भारतीय सरकार?

उन्होंने सोशल साइट इंस्टाग्राम पर एक विडियो पोस्ट किया था, जिसमें रिषभ ने सरकार से एनओसी की अनुमती देने की माँग की थी। इसके बाद उन्होंने विडियो के ज़रिये पीपल फॉर द एथिकल ट्रीटमेंट ऑफ एनिमल्स( People for the ethical treatment of Animals)पेटा( PETA)को भारत सरकार से अपील की कि वह भारतीय छात्रों को अपने पालतू जानवरों को उड़ानों में साथ ने जाने की अनुमति देने के लिये दवाब डाले। आपको बता दें कि पेटा जानवरों के हित के लिये लड़ने वाली सन्सथान है। इससे पहले भारत सरकार ने पीछले मंगलवार को युद्ध प्रभावित यूक्रेन से निकाले जा रहे छात्रों के साथ – साथ पालतू जानवरों को वापस लाने की सुविधा के लिये एक ज्ञापन जारी किया था।

रूस और यूक्रेन के बीच की गतिविधि थमने का नाम ही नहीं ले रही है। आज जंग का ग्यारहवाँ दिन है और दोनों देशों के हालात फिल्हाल अभी जैसे हैं इससे ये ही पता लगाया जा सकता है कि आगे और संकट की घड़ी आ सकती है।

24 फरवरी से रूस के रूस के हमले शुरू होने के बाद यूक्रेन में कम से कम 331 नागरिकों के मारे जाने और 675 लोगों के घायल होने की पुष्टी हुई है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button