कैसे सुधारें अपना व्यक्तित्व

0
कैसे सुधारें अपना व्यक्तित्व

क्या आपको अपने व्यक्तित्व में कमी लगती हैं, उसे सुधारें ऐसे


हमारा व्यक्तित्व जीवनभर नयी परिस्थितियों और तजुरबे के साथ बदलता रहता है। पर ज़रूरी नही की सभी बदलाव हमारे व्यक्तित्व के लिए उचित हो। कई परिस्थित्याँ हमारे व्यक्तित्व को उठाने की जगह और नीचे गिरा देती हैं इसलिए यह ज़रूरी है की हम इस पर ध्यान रखें की किस प्रकार का व्यक्तित्व हमारे लिए अच्छा होगा।

एक अच्छी शख़्सियत उसे माना जाता है जो बदलाव के साथ अच्छे गुण लाए। किसी के लिए भी शख़्सियत में बदलाव वही उचित है जिसमें नकारात्मक लक्षण कम हो और सकारात्मक गुणों की बढ़ोतरी हो। हम जिस व्यक्तिव की बात कर रहे हैं वो असल में है क्या? यह मनुष्य की सोच, उसका बरताव है जो उसे बाक़ी सब लोगों से अलग बनाता है।

हर व्यक्ति यह चाहता है की बाक़ी लोग उससे आकर्षित हों। तो क्या अपने व्यक्तित्व को अपने अनुसार बदला जा सकता है? आइए जाने हम कैसे बदल सकते हैं अपने व्यक्तित्व को:-

यहां पढ़ें : जानिए क्या फर्क होता है एक अंतर्मुखी और बहिर्मुखी लोगो में

कैसे सुधारें अपना व्यक्तित्व

  1. सबसे पहले अपने सभी गुण अवगुण एक काग़ज़ पर लिख लें। जो आप अपने अंदर नही रखना चाहते उन्हें पेन्सल से काट दीजिए और जिन्हें आप मजबूत करना चाहते हैं उनपर सही का निशान लगा लें और फिर उनके काम करना शुरू करें। उदाहरण के तौर पर यदि आप शर्मीले हैं तो अपनी शर्म को कम करने पर काम करें।
  2. सबकी बातें ध्यान से सुने। आप बात करते हुए अपनी शख़्सियत का एक आइना लोगों के सामने रखते है। जब कभी सामने कोई बोल रहा हो तब यह बहुत ज़रूरी है की आप उसकी बात ध्यान से सुने वो भी दिलचस्पी से। यदि आप रुचि भी लेंगे तो आपका व्यक्तित्व ख़राब होगा।
  3. ज़्यादा से ज़्यादा किताबें पढ़ें और अपनी रुचि के क्षेत्र बढ़ायें। इससे आपकी एक आकर्षक छवि लोगों के सामने प्रस्तुत होगी और साथ ही साथ आपका शब्दों का ज्ञान बढ़ेगा जो लोगों से बात करती बार सहायक होता है।
  4. बात करने की कला को सीखें। आप जितने ज़्यादा आत्मविश्वास के साथ बात करेंगे उतने ही ज़्यादा आकर्षक प्रतीत होंगे। लोग ऐसे व्यक्ति  बात करना पसंद नही करते जो ठीक से जवाब ना दे पायें और अपनी बातों को उत्साह से भरिए।
  5. अपना मत रखने की आदत बनाइए। जो लोग केवल दूसरे लोगों की हाँ में हाँ मिलाते हैं वे लोगों को पसंद नही आते। अपनी एक बहतेरीन छवि बनाने के लिए ख़ुद का मत रखना सीखें।
  6. आप अपने जैसे ही रहें। यदि आप किसी का स्टाइल चुरा कर अच्छे बनना चाहते हैं तो यह बहुत ग़लत है क्योंकि हर किसी की अलग विशेषताएँ होती हैं। आप अपनी विशेषताएँ अपने ही अंदर ढूँढने की कोशिश करिए वे अवश्य मिलेंगी।
Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here