Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
दिल्ली

Delhi News: मंडावली में मंदिर के अवैध रेलिंग को तोड़ने पंहुचा प्रशासन, स्थानीय लोगों ने किया जमकर हंगामा

पूर्वी दिल्ली के मंडावली इलाके में बृहस्पतिवार को मंदिर की रेलिंग हटाने के विवाद में लोगों ने जमकर हंगामा काटा। अफवाह थी कि अतिक्रमण दस्ता मंदिर को हटाने पहुंचा है।

Delhi News: AAP ने लगाया बड़ा आरोप कहा, एलजी ने ‘मंडावली के साथ-साथ 10 और मंदिर तोड़े जाने के दिए आदेश 

Delhi News: दिल्ली में एक मंदिर के बाहर अवैध निर्माण को लेकर आम लोग और प्रशासन आमने-सामने आ गए हैं। मामला पूर्वी दिल्ली के मंडावली इलाके में बने शनि मंदिर का है। गुरुवार, 22 जून को मंदिर के बाहर लगी अवैध रेलिंग को प्रशासन तोड़ने पहुंचा। इसका लोगों ने जबरदस्त विरोध किया और जमकर नारेबाजी की। स्थानीय लोगों और सुरक्षाकर्मियों के बीच इसे लेकर झड़प भी हो गई। लोगों की भारी संख्या को देखते हुए स्थानीय पुलिस के साथ पैरामिलिट्री फोर्स भी मौके पर तैनाती की गई है। रेलिंग के आगे बैठे कई लोगों को पैरामिलिट्री फोर्स के जवानों ने उठाकर मंदिर से दूर कर दिया।

मंदिर की रेलिंग निकाली

मधु विहार थाना क्षेत्र के मंडावली स्थित अल्ला कालोनी में सड़क किनारे शनि मंदिर बना हुआ है। यहां मंदिर के आगे लोगों ने फुटपाथ पर रेलिंग लगा रखी थी। प्रशासन ने रेलिंग को अवैध करार देते हुए रेलिंग को हटाने का निर्णय लिया। इस संबंध में प्रशासन ने पुलिस बल मांगा था। इसके बाद टीम मय फोर्स कार्रवाई करने पहुंची थी।

Read more: Jack Dorsey Claim On Indian Government: ट्विटर के पूर्व सीईओ जैक डॉर्सी ने भारत सरकार पर लगाए गंभीर आरोप, एलन मस्क ने किया खारिज

प्रशासन का क्या कहना है?

मंडावली के शनि मंदिर में जब प्रशासन अपनी कार्रवाई करने के लिए पहुंचा, तब मंदिर में महिलाएं भजन गा रही थीं। पहले इन महिलाओं ने प्रशासन की कार्रवाई का विरोध किया और जय श्रीराम के नारे लगाए। देखते ही देखते वहां और भी लोग इकठ्ठा हो गए। फिर जमकर कार्रवाई का विरोध किया गया। मौके पर पूर्वी दिल्ली के डीएम भी पहुंचे। उन्होंने कहा कि प्रशासन यहां सिर्फ रेलिंग हटाने आया है और इसे हटाने का काम जारी है। प्रशासन का साफ़ कहना है कि मंदिर नही तोडा जाएगा, सिर्फ रेलिंग हटा कर फुटपाथ क्लियर किया जाएगा, जिससे राहगीरों को आने जाने में आसानी हो।

स्थानीय लोगों का क्या है कहना

वहीं स्थानीय लोगों का कहना है कि शनि मंदिर यहां सालों से है, अभी तक किसी ने नहीं कहा कि यहां अवैध निर्माण हुआ है। लेकिन, अब प्रशासन रेलिंग को अवैध बताकर इसे हटाने आ गया है। फिलहाल पुलिस और प्रशासन रेलिंग हटाने का काम कर रहा है और लोग नारेबाजी कर रहे हैं।

Read more: PM Modi Speech In US Parliament: अमेरिकी संसद को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा, जल्द ही भारत दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था बनेगा

AAP का आरोप

उधर, इस मसले पर राजनीतिक बयानबाजी भी शुरू हो गई है। दिल्ली की शिक्षा मंत्री आतिशी मार्लेना ने मंदिर के अवैध निर्माण के खिलाफ चल रही कार्रवाई को लेकर एलजी वीके सक्सेना पर निशाना साधा है। उन्होंने कहा है, ‘मंडावली के साथ-साथ 10 और मंदिर तोड़े जाने का आदेश एलजी और केंद्र सरकार ने दिया है। आम आदमी पार्टी ने इसका विरोध किया है। एलजी ख़ुद को दिल्ली का राजा और शहंशाह समझने लगे हैं। वो अब लोगों की धार्मिक आस्था के साथ खेल रहे हैं।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button