दूसरे चरण के चुनाव प्रचार के लिए कहीं बेटी तो कहीं भाई आया जनता से समर्थन मांगने


लालू प्रसाद यादव की बहू ने ससुराल वालों के खिलाफ खोला मोर्चा


बिहार में दूसरे चरण के मतदान के लिए चुनाव प्रचार जोरो शोरों से चल रहा है. जिसके लिए सभी पार्टियां एक दूसरे पर आरोप प्रत्यारोप लगा रही हैं. कोई रोजगार देने का वायदे कर रहा है तो कोई तीन तलाक जैसे मुद्दों को गिना रहा है. आज बिहार की राजनीति में क्या कुछ खास रहा आपके बताते हैं.

जेपी नड्डा

बीजेपी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा दो दिन के बिहार के दौरे पर हैं. आज बेगूसराय में चुनावी रैली के दौरान सीधे तेजस्वी से ही सवाल कर लिया. अपने भाषण में उन्होंने कहा “मैं तेजस्वी से बड़े साफ मन से पूछना चाह रहा हूं कि आपने अपने माता-पिता जो साढ़े सात साल बिहार मुख्यमंत्री रहे, उनका चेहरा पोस्टर से क्यों हटा दिया. चेहरा हटाया तो अब बिहार की जनता से माफी क्यों नहीं मांगते है”.

आपको बता दें पिछले सप्ताह एनडीए के पोस्टर पर मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का फोटो नहीं होने पर विपक्ष ने कई तरह से सवाल किया थे.

नीतीश कुमार

आज अपनी चुनावी सभाओं में मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने एक बार फिर लालू प्रसाद यादव के शासन काल का जिक्र किया. उन्होंने कहा उनके शासन काल में जब पति को गिरफ्तार कर लिया गया तो पत्नी ने सत्ता संभाली. लेकिन उसके बाद भी नारी सशक्तिकरण के लिए कुछ नहीं किया. राज्य में लंबे समय तक नारी सशक्तिकरण की अनदेखी की गई है. लोग महिलाओं को देवी के रुप मे पूजते हैं. हमने उनके उत्थान का काम किया. महिलाओं को आरक्षण दिया. पंचायत राज और नगर निकाय में 50 प्रतिशत आरक्षण देकर उन्हें सशक्त बनाया है. इतना ही नहीं शिक्षा और सुरक्षा में भी महिलाओं के विकास पर ध्यान दिया है.

और पढ़ें: बिहार चुनाव से मुद्दे हैं गायब, बस जाति वोट पर ही टिका है सारा समीकरण

nitish kumar

तेजस्वी यादव

आज अपने बड़े भाई तेज प्रताप यादव के लिए तेजस्वी चुनाव प्रचार करने हसनपुर विधानसभा गए. जहां उन्होंने एक फिर मुख्यमंत्री पर आरोप लगाते हुए कहा लोगों की पढ़ाई, लिखाई, रोजगार के लिए पंद्रह साल कुछ नहीं किया. लेकिन अब पढ़ाई, लिखाई, रोजगार, सिंचाई सब होगी. अब किसी बिहारी को काम करने के लिए बाहर नहीं जाना होगा. कोरोना काल में हमारे मजदूर भाईयों ने बड़ी यातनाएं सही हैं. एक बच्ची अपने पिता को गुड़गांव से 1500 किलोमीटर साइकिल पर लेकर आई थी. ये सब देखकर दिल दहल जाता था. इन समस्याओं पर

बात नहीं करेंगे वो. नीतीश जी हमें और हमारे परिवार क गालियां दे रहे हैं. लेकिन वह हमारे अभिभावकतुल्य है हम उनकी बातों को आर्शीवाद की तरह लेते हैं.

पुष्पम प्रिय चौधरी

प्लुरल्स पार्टी की मुख्यमंत्री पुष्पण प्रिय चौधरी ने ट्विट किया ‘बांकीपुर, बिस्फी और बिहार में मैंने आपके लिए बिहार चुना है. फिर भी सभी प्रत्याशियों के लिए प्रचार नहीं कर पा रही. इसका मुझे कितना दुःख है कोई अंदाजा नीह लगा सकता. मेरे प्रत्याशियों के पास पैसा नहीं हैं, पावर नहीं हैं. सिर्फ मैं हूं पुष्पम प्रिया!.

ऐश्वर्या राय

लालू प्रसाद यादव की बहू और तेज प्रसाद यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय आज ससुराल वालों के खिलाफ चुनावी मैदान में उतरी. परसा विधानसभा सीट पर वोट अपने पिता के लिए वोट मांगने आई ऐश्वर्या ने जनता से उनके ऊपर हुए अन्याय को लेकर वोट करने की अपील की. इसके साथ ही ऐश्वर्या ने कहा मैं यहां इसलिए आई हूं कि आप मेरे पिताजी को जिताएं और नीतीश कुमार को दोबारा मुख्यमंत्री बनाएं. आपको बता दें तेज प्रताप यादव के ससुर परसा विधानसभा सीट से जेडीयू के उम्मीदवार हैं.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Story By : Poonam MasihPoonam Masih
Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
%d bloggers like this: