Categories
लाइफस्टाइल

Office Romance: ऑफिस में रोमांस करते वक़्त ज़रूर रखे इन बातों का ध्यान

Office Romance: कैसे करे ऑफिस रोमांस?


Office Romance: रोमांस करना गलत बात नहीं है, लेकिन ऑफिस में रोमांस करते वक़्त थोड़ा सावधानी ज़रूरी है। कई बार ऐसा होता है कि लोग ऑफिस रोमांस करते वक़्त कई बातें भूल जाते है जिसका उन्हे खामियाज़ा भुगतना पड़ता है। तो चलिए आपको बताते है की ऑफिस में रोमांस करते वक़्त आपको किन बातो का ख्याल रखना चाहिए।

1. क्या आपको उससे प्यार है:

अगर आपको अपने ऑफिस कोई  पसंद है या आप उसे ही चैट करते रहते है। ऑफिस जाते ही आप ये नोटिस करते है की आज वो आया है की नहीं, आपकी नज़रे बस उसी को ढूंढ़ती है। लंच टाइम या फ्री टाइम पर आप उसी के साथ बठैना पसंद करते है तो समझ जाये की आप को उनसे प्यार होगया है।

2. वो भी करते है आपको पसंद:

आपको यह जानने की भी कोशिश करनी चाहिए कि आप जिसे प्यार करते हैं क्या वो भी आपको पसंद करता है या नहीं। क्या वो भी आप में वैसा ही इंटरेस्ट दिखाता है जैसा आप दिखते है तो समझिये आपका आधा काम बन गया है।

3. रोमांस के साथ साथ काम भी है इम्पोर्टेन्ट:

किसी को प्यार करना बुरी बात नहीं बल्कि अच्छी बात है की ऑफिस में भी आपका मान लगा रहेगा है। लेकिन इन सब के बीच में अपने काम को मत भूलियेगा, उस पर भी पूरा फोकस रखियेगा क्यूंकि रोमांस के साथ -साथ काम भी है इम्पोर्टेन्ट।

और पढ़ें: How to deal with office politics: ऑफिस पॉलिटिक्स से कैसे रखे खुद को दूर?

4. मज़ाक ना बने:

ऑफिस में ऑफिस के फ्रेंड की तरह रहे तो वो ज़्यादा बेहतर होगा और अगर आपको रोमांटिक बातें करनी भी है तो आप ऑफिस के बाद कर सकते है। नहीं तो आपका मज़ाक बन सकता है। इतना ही नहीं आपको यदि कोई बात अपने पार्टनर तक पहुंचानी ही है तो आप किसी तीसरे को बीच में ना लाएं।

5. फिजिकल contact से बचे:

आपको इस बात का ध्यान देना होगा की आप किसी भी तरह की फिजिकल कांटेक्ट ना करे, वरना आपको और आपके पार्टनर को शर्मिंदा होना पड सकता है और इन सब से आपकी ऑफिस में इमेज भी ख़राब हो सकती है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

Jharkhand Election 2019: मतदान के बीच हुआ नक्सली हमला, जान-माल का कोई नुकसान नहीं

Jharkhand Election 2019: विकास के स्तर को रोकने के लिए नक्सलियों की चाल, मतदान के बीच उड़ाया पुल


Jharkhand Election 2019: झारखंड विधानसभा के प्रथम चरण के चुनाव के लिए मतदान शुरू हो गया है। यहां दोपहर 3 बजे तक मतदान होगा। चुनाव आयोग ने प्रथम चरण में नक्सल प्रभावित इलाकों के होने के कारण मतदान का समय 3 बजे तक रखने का फैसला लिया गया है। यहां नक्सल प्रभावित 6 जिलों की 13 विधानसभा सीटों पर 37,83,055 मतदाता 189 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला करेंगे। सबसे अधिक 28 उम्मीदवार भवनाथपुर सीट से चुनाव लड़ रहे हैं।

गृह मंत्री की अपिल:

गृह मंत्री अमित शाह ने झारखंड के लोगों से बड़ी संख्या में मतदान करने की अपील की है। अमित शाह ने ट्वीट कर कहा है कि, झारखंड को भ्रष्टाचार और नक्सलवाद से मुक्त रखने और यहां विकास की गति को बनाये रखने के लिए एक स्थिर और पूर्ण बहुमत वाली सरकार आवश्यक है। प्रथम चरण के सभी मतदाताओं से अपील करता हूं कि अधिक से अधिक संख्या में मतदान कर झारखंड को विकास के पथ पर आगे बड़ाऐ रखने में योगदान दें।

मतदान के बीच नक्सली हमला:

झारखंड में मतदान के बीच बड़ी खबर आ रही है, गुमला जिले के विष्णुपुर विधानसभा क्षेत्र में नक्सलियों ने मतदान को प्रभावित करने के लिए बड़ा धमाका कर एक पुल को ही उड़ा दिया है। विष्णुपुर विधानसभा क्षेत्र में आज मतदान हो रहा है। हालांकि इस घटना में अबतक किसी के घायल होने की खबर नहीं आई है। गुमला के डिप्टी कमिश्रनर शशि रंजन ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया कि हमले की वजह से मतदान पर कोई असर नहीं पड़ा है। पुलिस ने इलाके में कॉम्बिंग ऑपरेशन शुरू कर दिया है।

और पढ़ें: The Family Man season 2: फिर वापस आ रहा है श्रीकांत, शुरू हुई आज से शूटिंग

7.12 फीसदी ही हुई है वोटिंग:

झारंखड में मतदान धीरे-धीरे रफ्तार पकड़ रहा है। अब तक राज्य में 7.12 फीसदी वोटिंग हो चुकी है। ताजा अपडेट के मुताबिक अब तक लोहरदगा में 11.68 फीसदी, डाल्टेनगंज में 10.07 प्रतिशत, पांकी विधानसभा में 9.02 फीसदी, विश्रामपुर में 9.5 फीसदी वोटिंग हुई है। छतरपुर विधानसभा में अब तक 10.08 फीसदी, हुसैनाबाद में 9.07 फीसदी वोटिंग की खबर है। नक्सल प्रभावित गढ़वा में अब तक 11 फीसदी मतदान हुआ है। वहीं भवनाथपुर में 10 प्रतिशत मतदाता अबतक वोट डाल चुके हैं।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

Uddhav Thackeray: महाराष्ट्र में आया ठाकरे राज, आज से संभालेंगे मंत्रालय का कामकाज

Uddhav Thackeray: फडणवीस का पत्ता कट, उद्धव ने बनाई महाराष्ट्र सरकार


Uddhav Thackeray: महाराष्ट्र में हुआ ठाकरे का राज शुरू। गुरुवार शाम को शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने मुंबई के ऐतिहासिक शिवाजी पार्क में मुख्यमंत्री पद की शपथ। इस दौरान हजारों की संख्या में समर्थक और कई बड़ी हस्तियां शामिल हुईं थी। शपत लेने के तुरंत बाद उद्धव ठाकरे ने पहली कैबिनेट की बैठक बुलाई की और कई बड़े बड़े ऐलान भी किए थे। आज उद्धव ठाकरे मंत्रालय जाकर कामकाज भी संभालेंगे।

फडणवीस का उद्धव सरकार पर वार:

पूर्व मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने ट्वीट कर शिवसेना की नई सरकार पर निशाना साधा है, उन्होंने ने लिखा कि पहली कैबिनेट में सरकार ने किसानों की राहत पर चर्चा नहीं की बल्कि बहुमत को लेकर चर्चा की। अगर बहुमत नहीं है तो फिर ऐसा क्यों किया जा रहा है, प्रोटेम स्पीकर को बदलने पर विचार क्यों हो रहा है। इस पर महाराष्ट्र को जवाब चाहिए।

संजय रावत का ट्वीट:

महाराष्ट्र में शिवसेना की सरकार बनने के बाद आज पहला दिन है।  शिवसेना नेता संजय राउत ने एक बार फिर ट्विटर पर शायरी साझा की है। उन्होंने लिखा है, ‘हम शतरंज में कुछ ऐसा कमाल करते हैं, बस पैदल ही राजा को मात करते हैं’

और पढ़ें: Delhi AQI today: दिल्ली की हवा में आया सुधार, AQI में देखने को मिली गिरावट

मुख्यमंत्री निवास खाली करेंगे फडणवीस:

अब जो फडणवीस मुख्यमंत्री नहीं रहे है तो ऐसे में उन्हें मुख्यमंत्री निवास छोड़ना पड़ेगा । देवेंद्र फडणवीस ने ‘वर्षा’ को खाली करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। हालांकि, अभी इस बात की पुष्टि नहीं है कि उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री आवास वर्षा में रहेंगे या फिर अपने आवास मातोश्री में ही रहेंगे।

आज से संभालेंगे काम काज:

उद्धव ठाकरे आज मंत्रालय में मुख्यमंत्री पद का कार्यभार संभालेंगे। आज दोपहर एक बजे से उद्धव ठाकरे कार्यभार संभालेंगे। हालांकि, नज़र तो इस बात पर भी रहेगी कि किस मंत्री को कौन-सा मंत्रालय मिलता है, क्योंकि तीनों पार्टियों का सरकार में अहम रोल है ऐसे में पावर सेंटर पर भी हर किसी की नज़र रहेगी।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

Gym Motivation: ‘Gym’ में मोटिवेशन के लिए ये बेस्ट फ्रेंड की जोड़ी करेगी आपकी मदद

Gym Motivation: ये जोड़ी देती है परफेक्ट Example ऑफ़ फ्रेंडशिप गोल


Gym Motivation: वर्कआउट हमारे लिए बहुत ज़रूरी है, ये हम सभी मानते हैं लेकिन इस मौसम में सुबह बेड से निकलकर जिम जाने के लिए बहुत मोटिवेशन की ज़रूरत है! ख़ासकर जब आप अकेले ही जिम जाने को मजबूर हों लेकिन यही जिम क्लास हमारे लिए मज़ेदार हो जाती है जब हमारी बेस्ट फ्रेंड भी हमारे साथ वर्कआउट कर रही होती है। ये सिर्फ आपके और हमारे साथ ही नहीं होता है। बॉलीवुड सेलेब्स को भी अपनी बेस्टीज़ के साथ वर्कआउट करना ज़्यादा इंस्पिरेशनल लगता है। चलिए आपको बताते हैं वो बॉलीवुड BFF जोड़ियां जो वर्कआउट भी करती हैं और एक-दूसरे को इंस्पायर करती हैं।

1. करीना कपूर और अमृता अरोड़ा:

ये बेस्ट फ्रेंड्स पिछले कई सालों से साथ में वर्कआउट कर रही हैं। इन दोनों का साथ कभी-कभी अमृता की बड़ी बहन मलाइका अरोड़ा भी जिम में नज़र आती हैं।करीना और अमृता की जोड़ी कई सालों से एकसाथ जिम जाती हैं और शायद इनकी फिटनेस के लिए इनका साथ ही ज़िम्मेदार है।

2. निमरत कौर और सारा अली खान:

क्या आप जानती थीं कि निमरत कौर और सारा अली खान जिम बेस्टीज़ हैं! हाल ही में निमरत ने सारा के साथ अपनी कुछ फोटोज़ शेयर कीं और उन्हें अपनी ‘फेवरेट खान’ बताया!

3. श्रद्धा कपूर और तेजस्विनी कपूर:

मौसी और भांजी की ये जोड़ी सिर्फ रिश्तेदार नहीं, जिम बेस्टीज़ भी हैं। ये दोनों भी निमरत और सारा की इंस्ट्रक्टर सिंडी जॉर्डन के पास ही जाती है और ये मौसी और भांजी का परफेक्ट जोड़ी है।

और पढ़ें: How much Bigg Boss contestants are paid: बिग बॉस के सबसे महंगे कंटेस्टेंट, करोड़ो मे है इनकी कीमत

4. अनुष्का दांडेकर और लॉरेन गॉटलिब:

सिंडी जॉर्डन की ही एक और स्टूडेंट जोड़ी है वीजे, एंकर और इंफ्लुएंसर अनुष्का दांडेकर और लॉरेन गॉटलिब। ये दोनों साथ में बैलेट के लेसन लेती हैं।ये भी किसी गॉल से कम नहीं है।

5. बिपाशा बसु और करण सिंह राजपूत

ये कपल एक-दूसरे के बेस्ट फ्रेंड और सपोर्टर भी हैं। ये साथ में वर्कआउट करते हैं और  लोगो के लिए ये फिटनेस गॉल है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

How To Get Soft Lips In 7 Simple Steps

जाने सर्दियों में कैसे कर सकते है अपने होठों को मुलायम


TIP TO GET PINK LIPS THIS WINTER!!

सर्दियाँ दस्तक दे चुकी है और ये सर्द हवा आपके चेहरे के साथ- साथ आपके होठों की भी नमी छिन लेती है। ऐसे में बहुत ज़रूरी है आप अपने होठों का खास ख्याल रखे ताकि ठण्ड में आपके होठ मुलायम और खूबसूरत बने रहे। वैसे मौसम के अलावा आपकी कुछ आदतें भी होठ फटने के लिए जिम्मेदार हो सकती हैं बार-बार होठों पर जीभ फेरना या फिर घटिया क्वालिटी के लिप बाम और लिपस्टिक भी होठों को रुखा बनाते हैं। तो आज हम आपको कुछ टिप्स देंगे जिसे आप अपने होठों  को इस सर्दी में खूबसूरत और मुलायम बना सकते है:

1. मॉइस्चराइजर रखे:

होठों की त्वचा शरीर के बाकी हिस्से से ज़्यादा नाज़ुक होती है, इसलिए सर्द मौसम में इसकी नमी पहले खोती है। ठंड के मौसम में होठों को हमेशा मॉइश्चराइज़ रखें। इसके लिए आप पेट्रोलियम जेली या नारियल तेल भी लगा सकती हैं।

2. खूब पिए पानी:

होठों की नमी बनाए रखने के लिए खूब पानी पीना भी ज़रूरी है। इसके अलावा आप फल और सब्ज़ियों का जूस भी पी सकती हैं।

Read more: Sarojini Nagar shopping guide: कैसे करें सरोजिनी नगर में शॉपिंग करते वक़्त मोल-भाव

3. एसपीएएफ वाले लिप बाम का करे इस्तेमाल:

धूप में बाहर निकलने से पहले होठों पर एसपीएफ वाला लिप ग्लॉस जरूर लगाना चाहिए, क्योंकि आपकी त्वचा की तरह धूप होठों को भी नुकसान पहुंचाती है।

4. ग्लिसरीन भी है ज़रूरी:

फटे होठों की समस्या से निजात पाने के लिए आप ग्लिसरीन का भी इस्तेमाल कर सकती हैं। यदि आपके होठ रूखे हो चुके हैं तो आपको मैट लिपस्टिक की बजाय क्रीमी या मॉइश्चर वाली लिपस्टिक लगानी चाहिए।

5. शिया बटर का करे इस्तेमाल:

दिन भर लिपबाम लगाने की बजाय होठों पर शिया बटर लगाएं। इसमें विटामिन ई होता है जो आपके होठों को नर्म-मुलायम और खूबसूरत बनाने में मदद करता है।

6. शहद और शक्कर से बनाये स्क्रब:

दिन भर लिपबाम लगाने की बजाय होठों पर शिया बटर लगाएं। इसमें विटामिन ई होता है जो आपके होठों को नर्म-मुलायम और खूबसूरत बनाने में मदद करता है।

7. नारियल तेल या देशी घी का करे उपयोग:

सर्दियों में होठों को फटने से बचाना चाहती हैं तो उस पर रोज़ाना नारियल तेल लगाएं। फटे होठों पर देशी घी से भी हल्के-हल्के हाथ से मसाज करें। इससे भी ब्लड सर्कुलेशन बढ़ेगा और फटे होठों की समस्या से निजात मिलेगा।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in

Categories
हॉट टॉपिक्स

26/11 Mumbai Attack को हुए 11 साल, आज भी ताज़ी है उस शाम की यादें

26/11 Mumbai Attack : 11 साल पहले दहली थी मुंबई


 

MORE THAN A DECADE TO 26/11

जब भी 26 नवंबर 2008 की बात होती है तो अपने आप लोगो को मुंबई के उस आतंकी हमले की याद आ जाती है जिसने पुरे देश को हिला कर रख दिया था। ये वो तारीख जिसने पुरे देश को दहला कर रख दिया था। इस दिन मुंबई शहर में हर तरफ दहशत और मौत दिखाई दे रही थी। आज  इस हमले को 11 साल हो चुके है, लेकिन इसकी डरावनी यादें आज भी हमारे ज़ेहन से गई नहीं है। 10 आतंकवादी के करीब 60 घंटे तक मुंबई डरा कर रहते हुए 164 निर्दोष लोगो की जान ली थी।

दिल दहलाने वाली शाम:

हमेशा की तरह 26 नवंबर 2008 की शाम  को भी मुंबई अपबने शबाब पर थी, यह शाम ख़त्म ही होने वाली थी की शहर  के एक कोने से गोलियों की आवाज़ आना शुरू होगी। इस हमले की शुरुवात  लियोपोल्ड कैफे और छत्रपति शिवाजी टर्मिनस से हुई थी। पहले तो ऐसा कोई अंदाज़ा नहीं था की  यह हमला इतना बड़ा होने वाला है, लेकिन धीरे-धीरे मुंबई की अलग – अलग जगह से हमले  की खबर आने लगी।  आधी रात तक मुंबई में आतंक का असर नज़र आने लगा।

ताज में चली सबसे लम्बी लड़ाई:

26 नवंबर की रात में ही आतंकियों ने अपना रुख पूरी तरह से ताज होटल की तरफ मोड़ लिया था। यहां आतंकियों ने कई लोगो को बंधक बना कर रखा हुआ था, जिनमें सात विदेशी नागरिक भी शामिल थे  और इसके साथ ही ताज होटल के हेरीटेज विंग में भी आग लगा दी गई थी।  27 नवंबर की सुबह एनएसजी के कमांडो आतंकवादियों का सामना करने पहुंच चुके थे।  सबसे पहले होटल ओबेरॉय में लोगो को मुक्त कराकर ऑपरेशन 28 नवंबर की दोपहर को खत्म हुआ था, और उसी दिन शाम तक नरीमन हाउस के आतंकवादी भी मारे गए थे।  लेकिन होटल ताज के ऑपरेशन को उसके अंजाम तक पहुंचाने में 29 नवंबर की सुबह तक का वक्त लग गया था।

Read morwe: दुनिया के वो 5 विचित्र घर,देख कर हो जायेंगे हैरान

शामिल थे 10 आतंकवादी

मुंबई हमले की पूरी राजनीती देख कर इस हमले के पीछे कितने आतंकवादी  थे  इसका अंदाज़ा लगना काफी मुश्किल था। लेकिन हमले के खत्म होने के बाद और कसाब के हिरासत में आने के बाद ये साफ़ होगया की इस हमले में 10 आतंकवादी शामिल थे ,उन्हें पाकिस्तान मे  ट्रेनिंग दी गई थी। उसके बाद वो आतंकी 26 नवंबर को एक बोट से समंदर के रास्ते भारत में घुसे थे।  पुलिस ने जली हुई बोट को भी बरामद कर लिया था।

शहीद हुए 11 जवान:

मुंबई के आतंकी हमले को नाकाम करने के अभियान में मुंबई पुलिस, एटीएस और एनएसजी के 11 जवान शहीद होंगे थे।  इनमें एटीएस के प्रमुख हेमंत करकरे, एसीपी अशोक कामटे, एसीपी सदानंद दाते, एनएसजी के कमांडो मेजर संदीप उन्नीकृष्णन, एनकाउंटर स्पेशलिस्ट एसआई विजय सालस्कर, इंसपेक्टर सुशांत शिंदे, एसआई प्रकाश मोरे, एसआई दुदगुड़े, एएसआई नानासाहब भोंसले, एएसआई तुकाराम ओंबले, कांस्टेबल विजय खांडेकर, जयवंत पाटिल, योगेश पाटिल, अंबादोस पवार और एम.सी. चौधरी शामिल थे। इसके अलावा इस हमले में 137 लोगों की मौत हो गई थी जबकि लगभग 300 लोग घायल हो गए थे।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in

Categories
लाइफस्टाइल

Sarojini Nagar shopping guide: कैसे करें सरोजिनी नगर में शॉपिंग करते वक़्त मोल-भाव

Sarojini Nagar shopping guide: ये टिप्स अपनाएंगे तो सरोजिनी में कर पाएंगे बजट फ्रेंडली शॉपिंग


sarojini nagar shopping guide: शॉपिंग करना किसे पसंद नहीं होता है वो भी कम पैसे में ज़्यादा शॉपिंग? लड़कियों के लिए ये सोने पर सुहागे से कम नहीं होता है जब कम पैसों में डिफरेंट स्टाइल के डिफरेंट कपडे मिल जाएं। अगर आप दिल्ली में रहती हैं तो आपका ये सपना ज़रूर सच हो सकता है सरोजिनी मार्किट में। हालांकि ये तभी मुमकिन है जब आपको अच्छे तरीके से मोल-भाव करना आता हो। मगर ये भी बड़ी मुश्किल का कम है। मोल-भाव में माहिर होना अपने आप में एक हुनर है, खासकर जब आप सरोजिनी नगर में शॉपिंग करने जा रहे हों। दिल्ली और दिल्ली के आसपास रहने वाले लोग सरोजिनी नगर में शॉपिंग करने ज़रूर आते है, तो आज हम आपको कुछ टिप्स दे रहे हैं जो आपकी सरोजिनी नगर में शॉपिंग के वक़्त मदद करेंगे।

1. पहनावे पर दे ध्यान:

हम हमेशा दूसरे के कपड़ों को देखकर उनके बारे में एक राय बना लेते है, तो ऐसा सरोजिनी नगर के भइया क्यों नहीं कर सकते। जहां शॉपिंग करना और कपड़े खरीदना आपके लिए सिर्फ एक शौक है, वहीं दूसरी तरफ कपडे बेचना उनका मूल पेशा है और इसलिए उन्हें कपड़ों की अच्छी समझ होती है। अगर आपने ज़ारा की जैकेट पहनी है तो उन्हें वो भी पता चल जाता है और इससे वो आपके बजट का पता लगा सकते है। यही कारण है की आप अपने ब्रांडेड कपडे बाद के लिए रख लीजिये और सरोजिनी एकदम नॉर्मल कपडे पहन कर जाएं, भले ही यह आपको अजीब लगे, लेकिन इससे ही आपको अच्छी डील करने में मदद मिलेगी।

2. खुले पैसे रखे:

सोर्जिनी नगर में शॉपिंग करने के लिए सबसे बेसिक और इम्पोर्टेन्ट चीज़ है खुले पैसे और कैश, क्यूंकि किसी भी लोकल मार्किट में शॉपिंग के लिए ये सबसे जरूरी चीज है। अगर आप सरोजिनी नगर जा रहे हों तो खुले पैसे रखना न भूले, क्योंकि किसी स्वेट शर्ट को 200 रुपये में तय करने के बाद 2,000 रुपये का नोट बाहर निकालने से कोई अच्छा असर नहीं पड़ने वाला। खुले पैसे रखना ज़रूरी है ताकि आप दूकानदार को बोल सके की ‘भइया, और पैसे है ही नहीं’

और पढ़ें: Hair care in winter: ठण्ड में कैसे बचाए अपने बालों को रूखेपन से?

3. आखरी पसंद को पहले चुने:

शॉपिंग एक जांची-परखी तरकीब है। दूकान वाले भइया को ये बिलकुल दिखाने की ज़रूरत नहीं है की आप कुछ स्पेशल ढूंढ रही हैं इसलिए कैजुअल एक्ट करना बहुत ज़रूरी है। अपनी दूसरी पसंद को पहले चुनें ताकि आप उनका ध्यान इतना भटका दें कि जब आप अपनी पसंद के फैंसी क्रॉप टॉप को खरीदने वाली हो और इसे भइया कंफ्यूज हो जायें। किसी भी हालत में यह बिल्कुल भी ज़ाहिर न होने दें कि आप दुकान में केवल एक ही ड्रेस लेने आईं हैं, नहीं तो आप मोल-भाव करने का मौका गवां देंगी।

4. ज़्यादा मोल- भाव करे:

मोल-भाव का एक एहम नियम है की बताई हुई कीमत को कभी ना माने। यदि कोई आपको 400 रुपये में जैकेट बेच रहा है तो पहले उस जैकेट की आधी कीमत लगाएं भले ही यह बात चौंकाने वाली लगे, लेकिन यह सटीक तरीका है इससे आपकी बात बन सकती है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

Constitution day 2019: 26 नवंबर को मनाया जाता है संविधान दिवस, जाने इससे जुडी कुछ खास बातें

Constitution day 2019: क्यों मानते है संविधान दिवस??


Constitution day 2019: आज़ादी मिलते ही देश को सही तरीके से चलाने के लिए संविधान बनाने की दिशा में काम शुरू कर दिया गया था। भारतीय संविधान को 29 अगस्त 1947 को स्थापित किया गया था और इसके अध्यक्ष थे डॉ. भीमराव अंबेडकर। दुनिया भर के संविधान को बारीकी से पढ़ने के बाद डॉ. अंबेडकर ने बाकी सदस्यों सहित भारतीय संविधान का मसौदा तैयार कर लिया। 26 नवंबर 1949 को इसे भारतीय संविधान सभा के सामने लाया गया और इसी दिन संविधान को सभा द्वारा अपना लिया गया। यही वजह है की हर साल 26 नवंबर को संविधान दिवस मनाया जाता है।

विश्व का सबसे बड़ा संविधान:

भारतीय संविधान दुनिया का सबसे बड़ा संविधान है, और इसी के आधार पर भारत को दुनिया का सबसे बड़ा गणतंत्र माना जाता है। भारतीय संविधान में 448 अनुच्छेद, 12 अनुसूचियां शामिल हैं। यह 2 साल 11 महीने और 18 दिन में बनकर तैयार हुआ था। जनवरी 1948 में संविधान का पहला प्रारूप चर्चा के लिए प्रस्तुत किया गया। 4 नवंबर 1948 से शुरू हुई यह चर्चा तकरीबन 32 दिनों तक चली थी। इस अवधि के दौरान 7,635 संशोधन प्रस्तावित किए गए जिनमें से 2,473 पर विस्तार से चर्चा हुई।

संविधान की स्थापना:

26 नवंबर, 1949 को लागू होने के बाद संविधान सभा के 284 सदस्यों ने 24 जनवरी 1950 को संविधान पर हस्ताक्षर किए, और इन सबके बाद 26 जनवरी को भारतीय संविधान लागू कर दिया गया। ऐसा कहा जाता है की जिस दिन संविधान पर हस्ताक्षर किये जा रहे थे उस दिन बहुत ज़ोर से बारिश भी हो रही थी, और प्राचीन भारतीय मान्यताओं के अनुसार इसे शुभ संकेत के रूप में देखा गया।

और पढ़ें: महाराष्ट्र में महा ड्रामा: एक और ट्विस्ट के चलते बीजेपी को पेश होना होगा सुप्रीम कोर्ट में

टाइपिंग से नहीं लिखा गया था संविधान:

भारतीय संविधान की मूल कृति हिंदी और अंग्रेजी दोनों में ही हस्तलिखित है। भाषाओं में संविधान की मूल प्रति को प्रेम बिहारी नारायण रायजादा ने लिखा था। रायजादा का खानदानी पेशा कैलिग्राफी का था। उन्होंने नंबर 303 के 254 पेन होल्डर निब का इस्तेमाल कर संविधान के हर पेज को बेहद खूबसूरत इटैलिक लिखावट में लिखा है।

हीलियम से भरे गैस कक्ष में रखा गया है संविधान:

भारतीय संविधान के हर पेज को चित्रों से आचार्य नंदलाल बोस ने सजाया है। इसके अलावा इसके प्रारंभिक पेज को सजाने का काम राममनोहर सिन्हा ने किया था। वह नंदलाल बोस के ही शिष्य थे। संविधान की मूल प्रति भारतीय संसद की लाइब्रेरी में हीलियम से भरे केस में रखी गई है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

Hair care in winter: ठण्ड में कैसे बचाए अपने बालों को रूखेपन से?

Hair care in winter: ठण्ड क्यों ज़रूरी है हेड मसाज?


Hair care in winter: ठण्ड के मौसम में बालो का झड़ना और डैंड्रफ बहुत कॉमन प्रॉब्लम है इसलिए ठण्ड में बालो का खास ध्यान रखना चाहिए। बालों की ग्रोथ अच्छी रहे और बाल खूबसूरत भी रहें इसके लिए कुछ सावधानी बरतने की जरूरत होती है। तो चलिए जानिए कैसे कर सकती है आप ठण्ड में अपने बालो की देखभाल:

1. अंडे का करे प्रयोग:

अंडे में प्रोटीन, आयरन, सल्फर होता है जो की बालो के लिए काफी ज़रूरी होता है, इसकी वजह से बालो का झड़ना भी  कम होता है। अगर हम अंडे के सफ़ेद वाले हिस्से में जैतून का तेल मिला दे और उससे हलके हाथो से अपने बालो पर लगाए और हफ्ते में एक बार तो इस मिक्सचर को ज़रूर इस्तेमाल करे। उसके बाद बालो को माइल्ड शैम्पू से धो ले, इससे दो काम होगा पहला बालो का झड़ना कम हो जायेगा और बालो की ग्रोथ भी होगी।

2. हेड मसाज है ज़रूरी:

ठंडी हवा और प्रदूषण से बाल काफी ज़्यादा ख़राब हो जाते है और काफी झड़ने भी लगते है। आपके बाल सर्दी में भी मजबूत रहें, इसके लिए उनका जड़ों से मजबूत होना बहुत जरूरी है। बालों की समय समय पर मसाज करनी चाहिए। हफ्ते में दो से 3 बार मसाज करना ठीक रहता है। जैतून के तेल से या बादाम के तेल से बालों की मसाज की जा सकती है। ठंड के मौसम में तेल में थोड़ा सा नींबू भी डाल लें और इससे बालों की हफ्ते में 1 बार 15 मिनट तक मसाज ज़रूर करें।

और पढ़ें: प्रदूषण से बालों को बचा कर रखे इनका ख़ास ख्याल

3. आंवला और अलोवेरा ज़रूर करें सेवन:

आंवला में जो तत्व मौजूद होते है वो बालो की मज़बूती के लिए बहुत ज़्यादा ज़रूरी होता है। आंवले के रस में अलोवेरा मिलाकर बालों के जड़ पर लगाएं। अगर आपको घने काले बाल का शौक है तो आंवला और रीठा का पाउडर लगाएं। आंवले के जूस को सप्‍ताह में एक बार बालों में लगाने से बाल तेजी से बढ़ने लगते हैं। आंवला खाना भी त्वचा और बालों के लिए बहुत अच्छा होता है।

4. निम्बू भी रहेगा फायेदमंद:

दही और नींबू दोनों ही बालों के लिए बहुत फायदेमद होते है और ठंड में इसका प्रयोग डैंड्रफ से छुटकारा दिलानेवाला होता। दही में दो नींबू निचोड़कर पेस्ट जैसा बना लें। इस पेस्ट को बालों के जड़ों पर हाथ के पोर से लगाएं और 15 मिनट तक मसाज करें। पेस्ट को 1 से डेढ़ घंटे तक बालों में लगा रहने दें और इसके बाद हल्के गुनगुने पानी से बालों को धो लें। इससे बालों का रुखापन और डैंड्रफ दोनों ही दूर हो जाएंगी।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
हॉट टॉपिक्स

Maharashtra politics news updates: महाराष्ट्र में महा ड्रामा: एक और ट्विस्ट के चलते बीजेपी को पेश होना होगा सुप्रीम कोर्ट में

Maharashtra politics news updates: अजित पवार को मनाने में जुटी NCP


Maharashtra politics news updates: महाराष्ट्र में नई सरकार को लेकर अभी भी वॉर जारी है।  शनिवार को देवेंद्र फडणवीस ने मुख्यमंत्री और अजित पवार ने उप-मुख्यमंत्री पद की शपथ ली, जिसका शिवसेना-कांग्रेस और एनसीपी ने विरोध  किया है।  अब यह मामला सुप्रीम कोर्ट में पहुंच गया है।  सुप्रीम कोर्ट में शिवसेना, कांग्रेस और एनसीपी ने याचिका दाखिल कर महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी के उस आदेश को रद्द करने की मांग की है जिसमें उन्होंने सूबे में सरकार बनाने के लिए देवेंद्र फडणवीस को आमंत्रित किया था। आज इस मामले पर जस्टिस एनवी रमना, जस्टिस अशोक भूषण और जस्टिस संजीव खन्ना की बेंच सुनवाई करेगी। यह सुनवाई सुप्रीम कोर्ट की कोर्ट नंबर 2 में रविवार सुबह 11:30 बजे से होगी

NCP का 51 विदायको का दवा:

51 विधायकों के हस्ताक्षर के साथ एनसीपी विधायक दल के नेता जयंत पाटील राजभवन पहुंचे हैं। जयंत पाटील का कहना है कि राज्यपाल ‘भगत सिंह कोश्यारी’ दिल्ली में हैं, ऐसे में उनसे मुलाकात नहीं हो पाई है।

थोड़ी देर में शुरू होगी सुनवाई:

महाराष्ट्र मामले पर थोड़ी देर में सुनवाई शुरू होने वाली है और दोनों पक्षों के लोग कोर्ट पहुंचने लगे हैं। महाराष्ट्र कांग्रेस के नेता पृथ्वीराज चव्हाण, रणदीप सुरजेवाला, अभिषेक मनु सिंघवी अभी सुप्रीम कोर्ट पहुंचे हैं। अभिषेक मनु सिंघवी से पत्रकारों ने सवाल किया तो वह बिना कोई प्रतिक्रिया दिए मुस्कराते हुए आगे बढ़ गए।

और पढ़ें: फडणवीस फिर बने महाराष्ट्र के सीएम, अजित पवार बने डिप्टी सीएम

मुंबई होटल में शिफ्ट हुए कांग्रेस विधायक:

कांग्रेस के विधायकों को अब जयपुर नहीं भेजा जाएगा। 30 विधायकों को मुंबई के JW मेरिएट होटल में शिफ्ट किया गया है।

सुप्रीम कोर्ट में होगा आज फैसला:

शनिवार सुबह अचानक बीजेपी सरकार ने शपथ दिलाने के खिलाफ शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट रविवार को सुबह 11.30 बजे सुनवाई करेगी। शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस शनिवार शाम सुप्रीम कोर्ट पहुंची और नई सरकार को 24 घंटे के भीतर बहुमत साबित करने का निर्देश देने की अपील की थी। बीजेपी से नाता तोड़ चुकी पार्टी ने इस मामले में शीर्ष अदालत से शनिवार ही रात याचिका पर सुनवाई करने का अनुरोध किया है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com