लाइफस्टाइल

जानें महिलाओं को क्यों नहीं धोने और कटवाने चाहिए मंगलवार, वीरवार और शनिवार को बाल

जाने कब और क्यों नहीं कटवाने और धोने चाहिए बाल


जैसा की हम सभी लोग जानते है हमारे हिंदू धर्म में ऐसी बहुत सारी हजारों मान्यताएं और परंपराएं हैं, जिन्हें हम अपने धर्म से जोड़कर देखते है. अब ये सिर्फ एक धारणाएं है या फिर इसके पीछे कोई साइंटिफिक सोच भी है. यह तो एक शोध का विषय है. जिसे सिर्फ शोध के माध्यम से ही साफ़ किया जा सकता है. महिलाओं के बालों को धोने, काटने और नाखून काटने को लेकर भी हजारों मान्यताएं है. तो चलिए आज हम आपको बतायेगे महिलाओं को कब और क्यों नहीं कटवाने और धोने चाहिए बाल.

 

जाने कब कब नहीं धोने चाहिए बाल

हिंदू धर्म की मान्यताओं और परंपराएं के अनुसार महिलाओं को सोमवार, बुधवार और गुरुवार को बाल नहीं धोने चाहिए. मान्यताओं के अनुसार सोमवार को बाल धोने से बेटी पर भार रहता है वही अगर आप बुधवार को बाल धोते है तो आपके भाई पर भार रहता है और गुरुवार को धोने से अपने पति पर भार आता है.

 

और पढ़ें: अगर आपको भी चाहिए एक परफेक्ट मेकअप लुक, तो न करें फाउंडेशन से जुड़ी ये गलतियां

haircut
Image source – Canva

जाने कब कब नहीं कटवाने चाहिए बाल

हिंदू धर्म की मान्यताओं और परंपराएं के अनुसार महिलाओं को शनिवार, मंगलवार और गुरुवार के दिन बाल भूलकर भी नहीं कटवाने चाहिए क्योकि गुरुवार का दिन माँ लक्ष्मी का दिन माना जाता है.  अत: आपको इस दिन बाल नहीं कटवाने चाहिए. इस दिन बाल कटवाने से आपको धन की कमी होने की संभावनाएं रहती है. जबकि शनिवार, मंगलवार को बाल कटवाने से आयु कम हो जाती है. मंगलवार का दिन मंगल ग्रह का दिन होता है.  हमारे शरीर में मंगल का निवास हमारे रक्त में रहता है और रक्त से बालों की उत्पत्ति होती है इसलिए इस दिन आपको बाल कटवाने से बचना चाहिए.

जाने कब कब नहीं काटने चाहिए नाखून

हिंदू धर्म की मान्यताओं और परंपराएं के अनुसार किसी भी व्यक्ति को शनिवार, मंगलवार और गुरुवार को नाखून नहीं काटने चाहिए. व्यक्ति के शरीर में उंगुलियों का आगे का हिस्सा और सिर बहुत संवेदनशील होता है. इसलिए कठोर नाखूनों और बालों से इनकी सुरक्षा होती है. इसलिए शास्त्रों के अनुसार इस दिन नाखून और बालों को काटना वर्जित माना जाता है.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button