पॉलिटिक्सभारतीये पॉलिटिक्स

अच्छा प्रदर्शन करने वाली यूनिवर्सिटी को मिलेगी ज्यादा फंड़िग – प्रकाश जावेड़कर

अच्छा प्रदर्शन करने वाली यूनिवर्सिटी को मिलेगी ज्यादा फंड़िग, जेएनयू टॉप 10 में शामिल


देश के लगभग हर राज्य में 12वीं के एग्जाम या तो खत्म हो गए हैं या होने वाले हैं। अभी रिजल्ट आने में भी समय है। लेकिन इससे पहले ही बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए हर साल की तरह इस साल भी मानव संसाधन मंत्रालय ने देश की टॉप 10 यूनिर्वसिटी की लिस्ट जारी की है और एच प्रदर्शन करने वाली यूनिवर्सिटी को मिलेगी ज्यादा फंडिंग ।

मानव संसाधन मंत्री, प्रकाश जावेड़कर
मानव संसाधन मंत्री, प्रकाश जावेड़कर

आपको हैरानी हो कि इस टॉप 10 यूनिर्वसिटी में जवाहरलाल नेहरु यूनिर्वसिटी टॉप 2 में शामिल है। आपको बता दे, पिछले साल अफजल गुरु की मौत की बरसी के दिन यहां देश विरोधी नारे लगे थे। जिसके कारण जेएनयू का नाम मीडिया की सुर्खियों में रहा था। इनके बाद भी कई कारणों से जेएनयू मीडिया के नजरों में बना रहा था। कई लोगों ने तो इसे बंद करने की भी अपील की थी। लेकिन इन सबका जेएनयू के पढ़ाई पर असर नहीं पड़ा। जिसकी बदौलत वह टॉप 2 में शामिल हो पाया है।

जेएनयू का टॉप 2 में शामिल होने पर केंद्रीय मानव संसाधन मंत्री प्रकाश जावेड़कर ने कहा “जेएनयू और जाधवपुर ने अफजल गुरु के समर्थन में नारे लगाने के कारण नहीं ब्लकि अपने अच्छे कामों के कारण ही अच्छी रैकिंग हासिल की है।“

इसके साथ ही कहा है “अच्छी रैंकिग वाले इंस्टीट्यूट को ज्यादा फंडिंग की जाएगी ताकि प्रतियोगिता बढ़े।“

वहीं दूसरी ओर जेएनयू का साथ देने वाली कोलकाता की जाधवपुर यूनिर्वसिटी ने पहली बार टॉप 5 में जगह बनाई है।

चलिए एक नजर टॉप 10 यूनिर्वसिटी पर

1- आईआईएससी, बेंगलुरु
2- जेएनयू, दिल्ली
3- बीएचयू, वाराणसी
4- जेएनयू सेंटर फॉर रिचर्स, बेंगलूरु
5- जाधवपुर यूनर्वसिटी, कोलकाता
6- अन्ना यूनिर्वसिटी, चेन्नई
7- यूनिर्वसिटी ऑफ हैदराबाद, हैदराबाद
8- यूनिर्वसिटी ऑफ दिल्ली, दिल्ली
9- अमृता विश्व विद्यापीठम, कोयमबंटूर
10- सावित्रीबाई फूले पूणे यूनिर्वसिटी

इसके साथ ही टॉप कॉलेज की सूची जारी की गई है

1- मिरांडा हाउस, दिल्ली
2- लॉएला कॉलेज, चेन्नई
3- श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स, दिल्ली

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।