Categories
हॉट टॉपिक्स

ग्लेशियर टूटने से नहीं बर्फ पिघलने के कारण हुआ चमोली वाला हादसा

लगभग 202 लोगों को लापता होने की आशंका


रविवार का दिन उत्तराखंड के लिए एक तबाही बनकर आया. प्रदेश के चमोली जिले में ग्लेशियर टूटने के कारण कई लोगों की जान जा चुकी है. घटना के बाद ही राहत कार्य शुरु कर दिया गया है. सोमवार तक बचाव कार्य के दौरान चमोली जिला पुलिस ने 19 शव मिलने की पुष्टि की है. जबकि 202 लोगों के लापता होने की बात कही जा रही है. ग्लेशियर टूटने के कारण धौलीगंगा, ऋषिगंगा और अलंकनंदा नदियों में अचानक बाढ़ आ गया. अचानक गलेशियर टूटने के कारण एनटीपीसी के तपोवन-विष्णुगढ़ जल विद्युत प्रोजेक्ट और ऋषिगंगा जल विद्युत प्रोजेक्ट को भारी नुकसान हुआ है.

बचाव कार्य

बताया जा रहा है हादसे में 202 लोगों की लापता होने की संभावना है. उत्तराखंड पुलिस द्वारा जारी नोटिस के तहत अलग-अलग स्थानों से 19 लोगों की शवों को खोजा गया है. राहत बचाव कार्य में एनडीआरफी की टीम के अलावा आईटीबीपी की सेना, जल सेना, वायुसेना भी जुड़ी हुई है.

और पढ़ें: शांतिपूर्ण पर रहा चक्का जाम, तीन घंटे देश के अलग-अलग हिस्सों में किसानों के समर्थन में हुए चक्का जाम

 

 

एनडीआरएफ के डीजी एसएन प्रधान ने बताया है कि ढाई किलोमीटर लंबी सुरंग में राहत बचाव कार्य जारी है. जिसमें से 27 जिंदा लोगों को निकाला जा चुका है. 11 शव, 153 लोग लापता है. जबकि 40-50 लोग सुरंग में फंसे होने की आशंका है. आईटीबीपी की डीआईजी अपर्णा कुमार ने बताया है कि बड़ी सुरंग को 70 से 80 मीटर तक साफ कर दिया गया है. सुरंग की लंबाई 100 मीटर तक है. जिसमें 30-40 कर्मचारी फंसे हुए हैं. उन्हें निकालने के प्रयास जारी है. दूसरी सुरंग की तलाश जारी है. वहीं दूसरी ओर गृहमंत्रालय ने बताया है कि डीआरडीओ और एसएएसई की और एक टीम देहरादून के लिए रवाना हो गई है.

 

लोगों के बीच डर का माहौल

इस हादसे मे 17 गांव चपेट में आ गए हैं. बीबीसी से बात करते हुए डॉक्टर प्रदीप भारद्वाज ने बताया कि करीब 17 गांवों के लोगों ने भयानक मंजर देखा है. लोगों के बीच दहशत है. उस दृश्य के गवाह बने कुछ लोग भी ट्रॉमा में हैं. यहां के लोगों को चिकित्सीय मदद की जरुरत पड़ती है. मरीजों की स्थिति को बताते हुए वह कहते हैं इस हादसे के बाद कई लोग सदमे में हैं. एक महिला को मेरे पास इलाज के लिए लाया गया. जिनका ब्लड प्रेशर बढ़ा हुआ था. घटना से पहले वह अच्छी तरह से बोलती थी लेकिन इस घटना के बाद वह अच्छी तरह से बोल नहीं पा रही है.

ग्लेशियर टूटने से नहीं बर्फ पिछलने से आपदा

कल से लगातार यह बात कही जा रही है कि ग्लेशियर टूटने के कारण इतनी बड़ी तबाही हुई है. लेकिन ऐसा नहीं है. उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने बताया है कि यह हादसा ग्लेशियर टूटने की वजह से नहीं ब्लकि बर्फ पिछलने के कारण हुआ है.  उन्होंने बताया कि बैठक के दौरान इसरो के साइंटिस्टस ने सेटेलाइट की पिक्चर से साफ कर दिया है कि यह आपदा ग्लेशियर टूटने की वजह से नहीं ब्लकि बर्फ पिघलने की कारण हुई है. बढ़ते तापमान और जलवायु परिवर्तन के कारण ऐसे हादसे हो रहे हैं.

राहत मदद

हादसे में जान गंवाने वालों को प्रधानमंत्री राहत कोष द्वारा दो लाख रुपये की मदद करने घोषणा की है. इसके साथ ही राज्य सरकार द्वारा राशन, माचिश दी गई है.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
पॉलिटिक्स भारत

यूपी में बीजेपी और पंजाब में कांग्रेस है आगे- एग्जिट पोल

यूपी में बीजेपी है आगे- एग्जिट पोल


पांच राज्यों में हुए चुनाव को लेकर एग्जिट पोल आना शुरु हो गए। एग्जिट पोल की माने तो यूपी में बीजेपी की सरकार बना रही है। पंजाब विधानसभा चुनाव के नतीजे 11 मार्च को आएंगे। लेकिन नतीजे आने पहले ही एग्जिट पोल के अनुसार तो पंजाब में कांग्रेस की सरकार बन रही।

वहीं दूसरी ओर आम आदमी पार्टी भी बहुमत की सरकार का दावा कर सकती है। उत्तराखंड और मणिपुर में भी चुनाव नतीजे में कुछ अंतर कम ही लग रहा है। यहां भी बीजेपी ही बड़ी पार्टी के रुप मे उभरकर बाहर आएगी।

बिहार में एग्जिट पोल गलत साबित हुआ

यूपी के एग्जिट पोल के अनुसार बीजेपी यहां सरकार बनाती नजर आ रही है। वहीं सपा और कांग्रेस का गठबंधन दूसरे नंबर पर है। मायावती का पार्टी बीएससपी तीसरे नंबर पर है। बीजेपी और सपा और कांग्रेस के गठबंधन में 161 से 265 सीटों का अंतर होगा।

आज चाणक्य के अनुमान के अनुसार बीजेपी को यूपी में 285 सीटों की बढ़त मिल रही है। वहीं राहुल गांधी ने यूपी में अपनी जीत का दावा किया है। कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा “यूपी में हम जीतेंगे और 11 मार्च को बात करेंगे। बिहार मे भी एग्जिट पोल गलत साबित हुए थे।“ हालांकि उन्होंने एग्जिट पोल पर बोलने से इंकार कर दिया है।

पंजाब में कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच टक्कर

वहीं पंजाब की बात करें तो एग्जिट पोल के अनुसार पंजाब की सत्ता पर काबिज अकाली दल को 117 सीटों मे से ईकाई की संख्या में सीट नहीं मिलेंगी। वहीं सीवोटर की मानें तो पंजाब को आम आदमी को पूर्ण बहुमत के साथ 63 सीटें मिल रही है। वहीं एक्सिस के अनुसार कांग्रेस पूर्ण बहुमत के साथ प्रदेश में अपनी सरकार बनाएंगी। अन्य की मानें तो पंजाब के मुकाबला कांग्रेस और आम आदमी पार्टी के बीच है।

उत्तराखंड में बीजेपी की सरकार बनती दिख रही है। वहीं मणिपुर में राज कर रही कांग्रेस का सफाया होगा और बीजेपी के पैर वहं पड़ेगे।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
भारत

बेटे के लिए नारायण दत्त तिवारी ने थमा बीजेपी का हाथ

बेटे के लिए बीजेपी का हाथ थमा नारायण दत्त तिवारी ने थमा बीजेपी का हाथ

राजनीति के दिग्गज नेता और यूपी और उत्तराखंड के मुख्यमंत्री रहे चुके नारायण दत्त तिवारी ने विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस का दमन छोड़ दिया है। आज एनडी तिवारी ने बीजेपी का हाथ थाम लिया है। अमित शाह की मौजदूगी में दिल्ली में एनडी तिवार ने बीजेपी की सदस्यता स्वीकार की।

नारायण दत्त तिवारी ने थमा बीजेपी का हाथ

बेटे के टिकट दिलाना चाहते हैं

नारायण दत्त तिवारी के साथ उनका बेटा रोहित शेखर भी बीजेपी में शामिल हो गया है। इससे पहले उतराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री विजय बहुगुणा समेत नौ कांग्रेस विधायक भी बीजेपी में शामिल हो गए थे। इसके साथ ही कांग्रेस के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष यशपाल आर्य भी बीजेपी में शामिल हो गए थे।

बीजेपी में हो सकता है एनडी तिवारी को बेटे को टिकट मिल जाएं।  गौरतलब है  कि तिवारी चाहते थे कि उनके  बेटे रोहित को कुमाऊं रीजन से टिकट मिल जाएं जिसके लिए बीजेपी तैयार हो गई है।

बेटे को बीजेपी से टिकट दिलाकर एनडी तिवारी उसका राजनीतिक करियर सवारना चाहते हैं। वह चाहते है कि बेटा विधायक बन जाएं। जिसके लिए बीजेपी ही उन्हें टिकट दे रही है।

चार साल पहले रोहित को स्वीकारा था

इससे  पहले साल 2014 में एनडी तिवारी ने दिल्ली हाईकोर्ट के ऑर्डर के बाद रोहित को अपना बेटा स्वीकारा था। रोहित की मां उज्जवला शर्मा ने अदालत में पितृत्व वाद दायर किया था। उज्जवला ने दावा किया था कि एनडी तिवारी है उनके बेटे रोहित के जैविक पिता।

जिसके बाद एनडी तिवारी, उज्जवला शर्मा और रोहित का ब्लड सैंपल डीएनए टेस्ट किया। सेंटर फोर डीएनए फिंगरप्रिंटिंग एंड डायएग्नोस्टिक्स ने एनडी तिवारी, रोहित शेखर और रोहित की मां उज्ज्वला शर्मा की डीएनए जांच की थी। इसी जांच रिपोर्ट के आधार पर दिल्ली हाइकोर्ट ने एनडी तिवारी को रोहित शेखर का जैविक पिता माना था और खुद तिवारी ने उन्हें अपना बेटा स्वीकार किया था।

Categories
भारत

उत्तराखंड की सीमा पर चीनी सेना

उत्तराखंड के चिमोली जिले में चीनी सेना ने घुसपैठ की है। घटना जिले के बाराहोटी इलाके की है। उत्तराखंड के मुख्यमंत्री हरीश रावत ने इस बात की जानकारी दी है। हरीश रावत का कहना है कि उत्तराखंड की सीमा पर चीन की सक्रियता काफी बढ़ गई है। मुख्यमंत्री ने कहा है इस बात की जानकारी केंद्र सरकार को दे दी गई है।

बताया जा रहा है कि चीनी सेना और भारतीय सैनिक सीमा पर करीब एक घंटे तक आमने-सामने खड़े रहे। यह घटना 19 जुलाई की बताई जा रही है।

उत्तराखंड के मुख्यमंती हरीश रावत

आपको बता दें कि इससे पहले भी चमोली जिले के समीपवर्ती क्षेत्र 2013-14 में कई बार चीनी सैनिक आ चुके है और पत्थरों पर चीन लिखकर जा चुके हैं। यहां पर करीब 80 वर्ग किलोमीटर के क्षेत्र पर चीन अपना दावा करता रहा है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at

info@oneworldnews.in

Categories
भारत

हरिश रावत ने किया शक्तिमान पार्क का उद्धाटन

उत्तराखंड राजनीति मे पुलिस फोर्स का घोड़ा ‘शक्तिमान’ आपको याद तो जरूर होगा। जी हां, वहीं शक्तिमान जिसका बीजेपी विरोध प्रदर्शन के दौरान पैर टूट गया था और कुछ दिन बाद उसकी मौत हो गई थी। इस मामले ने उत्तराखंड राजनीति में भूचाल मचा दिया था।

शक्तिमान की याद में उत्तराखंड में उसके नाम का पार्क खोला गया है। इस पार्क में शक्तिमान की मूर्ति की स्थापना की गई है। इस मूर्ति का अनावरण हरिश रावत ने किया।

आपको बता दें, 14 मार्च को बीजेपी के विरोध प्रदर्शन के दौरान शक्तिमान घायल हो गया था। शक्तिमान के पैर की हट्टी टूट गई थी, जिसके बाद 16 मार्च को उसका ऑपरेशन हुआ। 19 मार्च को उसे विदेश से लाई गई नकली टांग लगवाई गई। लेकिन इसके बाद भी शक्तिमान जिंदगी से लड़ नही पाया और 20 अप्रैल को वह दुनिया को अलविदा कह गया।

Categories
भारत

उत्तराखंड में तेज बारिश से जन-जीवन अस्त व्यस्त

उत्तराखंड के देहरादून समेत कई जिलों में गुरूवार रात से ही तेज बारिश हो रही है। तेज व लगातार बारिश से गढ़वाल और कुमांऊ का जनजीवन अस्त-व्यस्त हो गया है।

 
वहीं दूसरी ओर बदरीनाथ हाईवे बंद हो रखा है, जबकि केदारनाथ, आदि सुचारू हो गए हैं।

मौसम विभाग ने दून समेत राज्य के सात जिलों के लिए भारी बारिश की चेतावनी जारी कर दी है।

बात करें पिथौरागढ़ और चमोली में आपदा की, तो भूस्खलन से यहां भारी तबाही मची हुई है। 21 लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़ा और 18 लोग लापता हो गए हैं। मौसम विभाग की माने तो शनिवार और रविवार को भी भारी बारिश की संभावना है। आपदा प्रभावित क्षेत्रों पर सेना और एसडीआरएफ की टीम बचाव अभियान चला रही है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स

कांग्रेस ने पश्चिम बंगाल विधायकों से साइन कराया ‘वफादारी बॉन्ड’!

उत्तराखंड में विधायकों की बगावत को देखते हुए कांग्रेस सरकार ने पश्चिम बंगाल में सावधानी बरतते हुए नेताओं पर नकेल कसने का एक रास्ता ढुंढ लिया है। जी हां, प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अधीर चौधरी ने मंगलवार को चुनाव में जीतने वाले विधायकों से वफादारी का स्टांप पेपर साइन करा लिया है।

बॉन्ड

विधायकों से भराए गए इन बॉन्ड पर लिखा गया है कि सभी विधायक पर्टी की अध्यक्ष सोनिया गांधी और राहुल गांधी के लिए हमेशा वफादार रहेंगे। इसके साथ लिखा है, “असेंबली में पार्टी का हिस्सा रहते मैं पार्टी के खिलाफ किसी भी गतिविधि में शामिल नही रहूंगा। पार्टी के लिए नेगेटिव बात नही कहूंगा। ऐसे किसी काम को करने से पहले अपने पद से इस्तीफा दे दूंगा।”

गौरतलब है कि उत्तराखंड में हरीश रावत की कांग्रेस सरकार के 9 विधायकों ने बगावत की थी, जिसकी वजह से उत्तराखंड राजनीति में भूचाल आ गया था। यहां तक की राज्य में राष्ट्रपति शासन भी लगा दिया गया था।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
पॉलिटिक्स

उत्तराखंड में आज होगा फ्लोर टेस्ट, हरीश रावत को करना है बहुमत साबित

पिछले लम्बे समय से उत्तराखंड में सियासी घमासान चल रहा है। इसी बीच आज उत्तराखंड में फ्लोर टेस्ट होना है, जिसपर हर एक की निगाहें टिकी हुई है। हरीश रावत को आज विधानसभा में अपना बहुमत साबित करना है।

वहीं आज होने वाले फ्लोर टेस्ट में 9 बागी विधायक अपना वोट नही डाल पाएंगे। कल हाई कोर्ट के बाद सुप्रीम कोर्ट ने भी अपना फैसला सुरक्षित रखा।

हरीश रावत

उत्तराखंड फ्लोर टेस्ट को मद्देनजर रखते हुए राजधानी देहरादून धारा 144 लागू करने से पहले ही विधानसभा के आसपास के इलाके को रैपिड एक्शन फोर्स के हवाले कर दिया गया है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
भारत

जानिए, उत्तराखंड के नए स्टिंग पर क्या बोले हरिश रावत…

उतराखंड में 10 मई को फ्लोर टेस्ट होने वाला है उससे ठीक पहले रविवार को एक नया स्टिंग सामने आया है। इस स्टिंग ऑपरेशन के बाद सीबीआई ने सोमवार को हरीश रावत को दिल्ली बुलाया था। लेकिन फ्लोर टेस्ट की वजह से वह दिल्ली नही जा सके।

हरीश रावत ने कहा, “मैंने सीबीआई से कुछ और दिनों की मोहलत मांगी है। मुझे उम्मीद है कि वे मेरी स्थिति समझेंगे।” साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि उत्तराखंड की धरती पर हर जगह स्टिंग हो रहे हैं। अब तो उन्हें सेल्फी खिचवांने से डर लग रहा है।

हरिश रावत

अमित शाह पर निशाना साधते हुए उन्होंने कहा, “अमित शाह कैलाश विजयवर्गीय, श्याम जाजू और वो सभी लोग जो हॉर्स ट्रेडिंग में शामिल है, वह नार्को टेस्ट करा लें, तो मैं नार्को टेस्ट कराने वाल पहला व्यक्ति होंगा।”

गौरतलब है कि रविवार को एक स्टिंग वीडियो सामने आया, जिसमें कांग्रेस के बागी नेता हरक सिंह और पार्टी विधायक मदन सिंह बिष्ट आपस मे बातचीत कर रहे थे। स्टिंग में मदन सिंह कह रहे हैं कि हरीश रावत ने माइनिंग के पैसों को विधायकों को अपने पक्ष में रखने के लिए दिया।

इसी वीडियो के साथ हरीश रावत पर खरीद-फरोख्त में शामिल होने का आरोप लगा है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Categories
भारत

नैनीताल हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस जोसेफ का हुआ ट्रांसफर, दी थी केंद्र के फैसले को चुनौती

उत्तराखंड में राष्ट्रपति शासन लगाने के फैसले को रद्द करने वाले नैनीताल हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश जस्टिस केएम जोसेफ का ट्रांसफर कर दिया गया है। जी हां, यह वहीं न्यायाधीश हैं, जिन्होंने केंद्र के फैसले के खिलाफ हरीश रावत को फिर से मुख्यमंत्री बनाने के लिए अपना फैसला रखा था।

जस्टिस जोसेफ और जस्टिस वीके बिष्ट की पीठ ने अपने फैसले में कहा था, “केंद्र की ओर से राज्य में धारा 356 का इस्तेमाल सुप्रीम कोर्ट की ओर से निर्धारित नियम के खिलाफ है।”

पूर्व मुख्य न्यायाधीश जस्टिस केएम जोसेफ, नैनीताल हाईकोर्ट

साथ ही जोसेफ ने केंद्र को फटकार लगाते हुए कहा था कि राष्ट्रपति कोई राजा नही है। राष्ट्रपति ही नही बल्कि जज भी गलती कर सकते हैं और इनके फैसलों को अदालत में चुनौती दी जा सकती है।

आपको बता दें, जस्टिस जोसेफ का ट्रांसफर कर उन्हें हैदराबाद हाईकोर्ट भेज दिया गया है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in