पॉलिटिक्सभारतभारतीये पॉलिटिक्स

संसद में प्रधानमंत्री ने भूकंप के बहाने राहुल गांधी पर कसा तंज

धरती मां रुठ गई है इसलिए आया भूकंप- मोदी


संसद में बजट सत्र के दौरान आज प्रधानमंत्री ने कल राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव प्रस्तुत किया। इस दौरान उन्होंने कालेधान, नोटबंदी का बार बार विरोध करने वाले कांग्रेस पर निशाना साधा।

भूकंप के बहाने राहुल गांधी की ली चुटकी

इस दौरान संसद में प्रधानमंत्री कल उत्तर भारत में के कई हिस्सों में आएं भूकंप के बारे में भी बोला। उन्होंने कहा कि लोगों को जो असुविधा हुई है उसके लिए वे संवेदना रखते है।

संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी
संसद में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी

और पढ़े : उरी हमले के बाद पहली बार जनसभा को संबोधित करेंगे प्रधानमंत्री

भूकंप के बहाने बिना नाम लिया आज प्रधानमंत्री मोदी ने राहुल गांधी पर निशाना साधा। बड़े व्यंग्यात्मक रुप से कहा कि भूकंप आ ही गया, इसके पीछे कोई तो कारण होगा? धरती मां रुठ गई होगी। आखिर भूकंप आया क्यूं? जब को ई स्कैम में भी सेवा नम्रता का भाव देखता है तो धरती मां भी दुखी हो जाती है और भूकंप आ जाता है।

पूरे परिवार को देश का लोकतंत्र सौंप दिया गया है

वहीं कल विपक्ष के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा था गांधी परिवार के लोगों ने देश के लिए जान दी जबकि संघ परिवार से एक कुत्ता भी नहीं आया।
इसी बात का जवाब देते हुए आज प्रधानमंत्री ने संसद में कहा कि कांग्रेस की कृपा से लोकतंत्र बचा हुआ है। लेकिन हम कुत्तों वाली परंपरा से नहीं आते। कांग्रेस ने एक ही परिवार को पूरे देश का लोकतंत्र सौंप दिया है।

और पढ़े : प्रधानमंत्री के जी-20 में आतंकवाद का मुद्दा उठाने से बौखलाया पाकिस्तान

प्रधानमंत्री ने आगे कहा कि हममें में से कई लोग है जो देश की आजादी के लिए जान नहीं दे पाए लेकिन देश के लिए जी तो सकते हैं। आजादी से लेकर अबतक रास्ते में कहीं जन शक्ति को भूला दिया गया है। मैं आह्वान करता हूं कि हम अपनी जनशक्ति को पहचाने देश को आगे बढाने की दिशा में काम करें।

हाल में हुई नोटबंदी को लेकर विपक्ष पर द्वारा किए हंगामे को लेकर मोदी ने कहा कि पहले दिन से चर्चा करने को तैयार थे लेकिन विपक्ष डरा हुआ था इससे सराकर को फायदा ना हो जाए। रेल बजट को लेकर कहा कि जब रेल बजट पहली बार पेश हुआ तब ट्रांसपोर्ट सेक्टर अलग था। अब चीजें अलग हैं। किसी को जिम्मा लेना पड़ेगा कि जो चीजें गलत हो गई उन्हें देखें, हम इस दिशा में आगे बढ़ रहे हैं।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Back to top button