Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
लाइफस्टाइल

जानिए घर पर कैसे बनाए गुलकंद, दिमाग को तेज करने में करता है बेहद मदद: Gulkand Recipe

गुलकंद सेहत और स्वाद से भरपूर गुलाब के फूल की एक ऐसी रेसिपी है जो साधारण जैम के साथ खाए जाने के अलावा औषधि के रूप में भी खाई जाती है। गुलकंद हमारे सेहत और शरीर के लिए बहुत लाभकारी है। चीनी और गुलाब की पंखुड़ियों से गुलकंद बनाई जाती है। बहुत से लोग इसे गुलाब जैम भी कहते हैं। गर्मियों में गुलकंद का सेवन शरीर के लिए बहुत फायदेमंद होता है।

Gulkand Recipe:जानिए क्या है गुलकंद बनाने की विधि और उसकी सामग्री


तपती धूप और गर्मी के बाद गुलकंद के सेवन से हमारे शरीर को ठंडक मिलती है। आप इसे मिठाई की तरह खाने के अलावा ब्रेड में जैम या खाने के बाद माउथ फ्रेशनर के जैसे भी खा सकते हैं। क्या आप जानते हैं कि स्वाद और सेहत के गुणों से भरपूर गुलकंद को बाजार से खरीदने के बजाए घर पर आसानी से बना सकते हैं। गर्मियों में गुलकंद खूब मिलता है। गुलकंद खाने से शरीर को बहुत फायदे भी होते हैं। गुलाब के फूलों की पत्तियों से गुलकंद बनाया जाता है। कुछ लोग इसे गुलाब का जैम भी कहते हैं। गुलकंद खाने से शरीर ठंडा रहता है इससे दिमाग तेज होता है। गुलकंद खाने से पेट की गर्मी और कब्ज की समस्या नहीं होती है। पहले महिलाएं घरों में ही गुलकंद बना लेती थी। इसे आप माउथ फ्रेशनर के तौर पर भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

जानते हैं गुलकंद बनाने का तरीका

गुलकंद बनाने के लिए सामग्री

1. गुलाब की पत्तियां- 250 ग्राम

2. मिश्री या चीनी पिसी हुई- 500 ग्राम

3. पिसी हुई हरी इलायची- 1 छोटी चम्मच

4. पिसी सौंफ- 1 छोटी चम्मच

Read More: वाकई जियो फाइनेंशियल सर्विसेज पेटीएम का वॉलेट कारोबार खरीदेगी, जानिए क्या है सच्चाई: Paytm-Jio Deal

गुलकंद बनाने की विधि

1. गुलकंद बनाने के लिए कांच का बर्तन लें और उसमें एक परत गुलाब की पंखुड़ि‍यों की डालें।

2. अब गुलाब की पत्तियों के ऊपर थोड़ी सी मिश्री डालें।

3. इसके ऊपर एक परत फिर से गुलाब की पंखुड़ि‍यों की फिर रखें और फिर थोड़ी मिश्री डालें।

4. अब इलायची पाउडर और सौंफ डाल दें।

5. आपको बची हुई गुलाब की पंखुड़ि‍यों और मिश्री को कांच के बर्तन में डालना है।

6. अब जार का ढक्कन बंद करके इसे करीब 0 दिन के लिए धूप में रख दें।

7. इससे जार में पड़ी मिश्री पानी छोड़ने लगेगी और उसी में गुलाब की पत्तियां गलने लगेंगी।

8. बीच-बीच में इसे चलाते रहें और जब लगे कि सभी चीजें गल गई हैं को इसे किसी दूसरे बर्तन में निकालकर रख लें।

9. आप गुलकंद को महीने भर तक आसानी से खा सकते हैं।

10. गुलकंद खाने से गर्मियों में पेट ठंडा रहता है और पाचन से जुड़ी परेशानी नहीं होती है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button