हॉट टॉपिक्स

Janmashtami 2022: इस जन्माष्टमी घर लाएं बांसुरी और पाएं तमाम वास्तु दोष से छुटकारा

Janmashtami 2022: व्यापार से लेकर प्यार तक सारी मुश्किलें करती है दूर, श्री कृष्ण की बांसुरी

Highlights:

  • भगवान कृष्ण को प्रिय बांसुरी का वास्तु – शास्त्र में बड़ा महत्व है।
  • कान्हा का यह प्रिय वाद्य यंत्र न ही सिर्फ शांति और शुभता का प्रतीक माना जाता है बल्कि घर से जुड़े तमाम वास्तु दोष बांसुरी से दूर हो जाते हैं।

Janmashtami 2022 : जन्माष्टमी इस वर्ष पूरे देश में 18 अगस्त को बड़े धूमधाम से मनाई जाएगी। जन्माष्टमी के दिन मंदिरों और कई पूजा स्थलों में श्री कृष्ण भक्तों की भारी भीड़ भी देखने को मिलने वाली है। भगवान श्री कृष्ण को अपने भक्त बहुत प्यारे हैं और इन भक्तों के साथ उनको कुछ चीजें भी बहुत प्यारी हैं जैसे कि मक्खन, मयूर – पंख, गाय और बांसुरी। भगवान कृष्ण को प्रिय बांसुरी का वास्तु – शास्त्र में बड़ा महत्व है। कान्हा का यह प्रिय वाद्य यंत्र न ही सिर्फ शांति और शुभता का प्रतीक माना जाता है बल्कि घर से जुड़े तमाम वास्तु दोष बांसुरी से दूर हो जाते हैं। वो कैसे ? आइये हम आपको बताते हैं।

व्यापार में होता है बड़ा लाभ

क्या आप जानते हैं सनातन धर्म में बांस को बड़ा शुभ माना जाता है। जी हाँ, बाँस से ही बांसुरी बनती है। किसी भी शुभ कार्य में बाँस का ज़रूर उपयोग किया जाता है। ऐसा कहा जाता है कि अगर आप व्यापारी हैं और आपको बिजनेस में काफी समय से लॉस का सामना करना पर रहा है तो श्री कृष्ण की बांसुरी आपके लिए कमाल दिखा सकती है। व्यापार में लाभ हासिल करने के लिए आप भगवान श्री कृष्ण का पूजन करते हुए अपनी दुकान या ऑफिस की छत पर बांसुरी लटका दें। यह उपाय आपके लिए काफी शुभ देने वाला साबित होगा।

Read more: Janmashtami 2022 : कहीं फोड़ी जाती है दही – हांडी तो कहीं लगते हैं मेले, ऐसे मनाई जाती है देश में जन्माष्टमी

दांप्तय जीवन में खुशहाली लाता है

अगर आप एक शादीशुदा कपल हैं और आपको अपने दाम्पत्य जीवन में कलह का सामना आये दिन करना पड़ता है या पति – पत्नी के बीच हमेशा अनबन होती रहती है तो आप बांसुरी की सहायता से इस समस्या से दूर हो सकते हैं। हो सकता है कि आप दोनों के बीच कलह का कारण आपके बेडरूम में बेड के ऊपर बीम का होना हो। अगर ऐसा है तो यह एक वास्तु दोष है। इस वास्तु दोष को दूर करने के लिए आप दो बांसुरी लेकर उसे बीम के दोनों तरफ लाल फीते से बांध दें। ऐसा करते वक्त इस बात का ध्यान रखें कि बांसुरी का मुंह बेड की ओर रहे।

आर्थिक समस्याएं रहेंगी दूर

धन की कमी लक्ष्मी और कुबेर को छोड़कर सभी को है। लेकिन आपने ऐसे कई लोगों को देखा होगा जिनके पास अधिक धन भी नहीं हैं फिर भी वह काफी खुश प्रतीत होते हैं साथ ही वह अपने जीवन का आनंद लेते दिखते हैं। ऐसा इसलिए होता है क्योंकि उन्हें जीवन और पैसों के बीच संतुलन बनाना अच्छे से आता है। इसमें कई बार वास्तु भी कारगर होता है। अगर आफ आर्थिक समस्या या ऐसी किसी परेशानी से गुजर रहे हैं तो आपको घर में चांदी की बांसुरी रखनी चाहिए। वास्तु शास्त्र के अनुसार चांदी की बांसुरी रखने से घर में लक्ष्मी का वास होता है और तमाम वास्तु दोष भी दूर रहते हैं।

Read more: Bihar Politicians Degree: बिहार के इन नेताओं की डिग्री जानकर उड़ जाएंगे आपके होश, कोई है पीएचडी तो कोई है दसवीं फेल

आध्यात्म की ओर कदम

यदि आप अपनी धार्मिक साधना में सफल होना चाहते हैं तो आपके लिए बांसुरी का यह उपाय काफी शुभ साबित हो सकता है। आप चाहते हैं कि आपकी साधना और भक्ति ईश्वर तक सीधा पहुँचे तो आप अपनी पूजा स्थल, मंदिर आदि में में 21 से 51 बांसुरियों से बनी झालर लगाएं। वास्तु दोष करता है अंत वास्तु शास्त्र के अनुसार घर की बाहरी दीवार का नुकीला होना बड़ा दोष माना जाता है। इस दोष से बचने के लिए बाहरी दीवार की गोलाई बनाया जाना चाहिए। यदि संभव ने हो ते इस दीवार के दोनों छोर पर बांसुरी लटका दें। इस उपाय से इसकी अशुभता कम हो जाती है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button