सेहत

मेन्टल हेल्थ के बारे मे खुल कर बात करना है जरूरी क्योंकि ये हैं ‘Need of the hour’

डिप्रेशन से बचने के लिए जरूरी है ये बातें


जैसा की हम सब लोग देख रहे है कि पिछले कुछ समय से कोरोना वायरस ने अपना कहर मचाया हुआ है जिसने सभी लोगों का लाइफस्टाइल ही बदलकर रख दिया है। पिछले कुछ महीनों से कोरोना वायरस के कारण भारत सहित दुनिया के ज्यादातर देशों ने लॉकडाउन लगाया हुआ था। लेकिन लॉकडाउन होने के बाद भी कोरोना वायरस खत्म या कम होने का नाम ही नहीं ले रहा। स्कूल के बच्चों और कॉलेज जाने वाले स्टूडेंट और युवाओं पर भी कोरोना वायरस की दोहरी मार पड़ी रही है जिसके कारण बच्चों के भविष्य को निखारने वाले स्कूल और कॉलेज सभी चीजे बंद हो चुके पड़े  है। बच्चों बड़ो सभी का अपने दोस्तों से मिलना जुलना खेलना-कूदना सब बंद हो चुका है। जिसके कारण सभी लोग अपने घरों पर ही और ये बातें इंसान के डिप्रेशन का कारण बन सकती है। इस समय बच्चों और युवाओं का चुप रहना भी बेहद खतरनाक हो सकता है।

और पढ़ें: किताबों से दोस्ती होती  है बेहद फायदेमंद, जाने इससे दिमाग को मिलने वाले फायदों के बारे में

कैसे बचे डिप्रेशन से?

अभी हालात कुछ ऐसे बन चुके है कि हम अपने घरों से बाहर नहीं जा पा रहे है अपने किसी संबंधी से नहीं मिल पा रहे है। ऐसे में निश्चित तौर पर ऐसे हालात बच्चों और युवाओं को डिप्रेशन की ओर ले जा सकता है। ऐसी परिस्थिति में माता पिता को अपने बच्चों का मजबूत सपोर्ट बनना चाहिए उनके साथ दोस्तों की तरह  व्यवहार करना चाहिए। साथ ही बच्चों को भी ध्यान रखना चाहिए कि वो अपने माता पिता से कुछ छुपाये ।

नेगेटिव बातें न सोचें

ये ऐसा समय है जब आपको नेगेटिव बातें नहीं सोचनी चाहिए। हमेशा पॉजिटिव सोचना चाहिए। माना पिछले कुछ समय से कोरोना ने अपना कहर मचाया हुआ है और आपको सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखना पड़ रहा है। जरा सोचिए, अगर यह कोरोना वायरस महामारी आज से 50-60 साल पहले हुई होती तो क्या होता। आज हमारे पास टेक्नोलॉजी है हम वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए लोगों से जुड़ सकते है बात कर सकते है डिजिटल प्लेटफॉर्म पर ही फिल्मे देख सकते है और अपने मनोचिकित्सकों की सलाह ले सकते है। बच्चे भी ऑनलाइन अपनी पढ़ाई कर सकते है आज हमारे पास ये सारी चीजें है जो हमारे पास आज से 50-60 साल पहले नहीं थी इस लिए आपको हमेशा  पॉजिटिव सोचना चाहिए। जो चीजें आपके पास है उनके साथ खुश रहना चाहिए।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button