हफ्ते के 7 दिनों के लिए 7 तरह के योग, जो रखेंगे आपको बीमारियों से दूर

0
57
yoga asanas for everyday
Image Source - Pixabay

शरीर के लिए योग क्यों जरूरी है?


योग एक प्राचीन परंपरा है जो एक पीढ़ी से दूसरी पीढ़ी को विरासत में मिली है। योग हमारे शरीर के साथ-साथ हमारे मन को भी स्वस्थ रखता है। योगा हमारी जिंदगी का एक अहम हिस्सा होता है। योग हमें धर्म-कर्म-अर्थ और मोक्ष चारों ही पुरुषार्थ को पाने में हमारी बहुत मदद करता है। रोज योग करने से नकारात्मक ऊर्जा हमारे शरीर से बाहर निकलती है और सकारात्मक ऊर्जा का संचार हमारे पूरे शरीर में होता है। चलिए आज हम आपको बतायेगे  7 दिनों के लिए 7 तरह के योग।
सोमवार के लिए मत्स्यासन: सोमवार का दिन ज्यादा तर लोगों को पसंद नहीं होता क्योकि शनिवार और रविवार की के बाद सोमवार को आपको ऑफिस जाना पड़ता है. सोमवार से एक नए सप्ताह की शुरुआत होती है. इस लिए आपको अपने सप्ताह की शुरुआत मत्स्यासन से शुरु करना चाहिए। इस योग से आपको  थकान से राहत मिलेगी। साथ ही रीढ़ और गर्दन की मसल्स को रिलैक्स करता है इतना ही नहीं ये पोस्चर, लचीलापन और पाचन में सुधार करता है।
मंगलवार के लिए त्रिकोणासन: ये दिन अपने आप को आगे की तरफ पुश करने का दिन होता है। मंगलवार एक ऐसा दिन होता, जब आपका न तो ऑफिस जाने का मन करता है न ही घर से बाहर निकलने का। इस लिए मंगलवार को त्रिकोणासन योग करना चाहिए। त्रिकोणासन योग एक ऐसा योग है जो आपके पैरों की मांसपेशियों, कूल्हों, जांघों और बाहों को स्ट्रेच करने में मदद करता है।
बुधवार के लिए वीरभद्रासन: बुधवार हफ्ते का मिड डे होता है इस दिन आपको काम करने के लिए पुरे जोश की जरूरत होती है। इसलिए बुधवार को वीरभद्रासन योग करना चाहिए ये आपको स्ट्रेच रिलीज करने में मदद करेगा। साथ ही आपको एनर्जी देता है

और पढ़ें: डायबिटीज़ को करना चाहते है कंट्रोल तो अपनाये ये 5 उपाय! 

वीरवार के लिए वृक्षासन: वीरवार एक ऐसा दिन है जो आपके मन में वीकेंड की उम्मीद जगा देता है। वीरवार को आप वृक्षासन कर सकते है वृक्षासन से आपके पैरों को मजबूती, तनाव से रहत, और घुटने के दर्द से आपको हमेशा के लिए छुटकारा मिल सकता है।
शुक्रवार के लिए पश्चिमोत्तानासन: शुक्रवार का दिन बॉडी को डिटॉक्स करने के लिए सबसे अच्छा दिन है शुक्रवार को आप पश्चिमोत्तानासन योग कर सकते है। पश्चिमोत्तानासन से आपका तनाव कम होता है साथ ही इससे पीठ के निचले,जांघो व् कूल्हों की मांसपेशियों को मजबूती मिलती है।
शनिवार के लिए सर्वांगासन: इस आसन को करने के लिए पहले आप अपनी पीठ के बल लेट जाएं। इसके बाद एक साथ अपने पैरों, कूल्हे और फिर कमर को उठाएं। इस दौरान आपका सारा भार आपके कंधों पर आ जाएगा। यह आसान थकान को कम करने और पाचन में सुधार करने में मदद करता है।
रविवार के लिए शवासन: रविवार का दिन आराम का दिन होता है इस दिन सबकी छूटी होती है। इस दिन आप आराम से शवासन आसान कर सकते है इससे आपके ब्रीदिंग पर फोकस करने, तनाव और चिंता को दूर करने में आपकी मदद करता है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments