Categories
लाइफस्टाइल

जानें एडल्ट फिल्में आपकी पर्सनल लाइफ और मेंटल हेल्थ पर असर डालती हैं

जाने कैसे एडल्ट फिल्मे डालती है अपनी मेन्टल और इमोशनल हेल्थ पर असर


आज के समय पर हम सभी लोगों का लाइफस्टाइल काफी ज्यादा बदल गया है।  सभी लोग टेक्नोलॉजी पर इतना ज्यादा निर्भर हो गए हैं कि इसके बिना हम अपने जीवन की कल्पना भी नहीं कर सकते हैं। लेकिन जैसा की हम सभी लोग जानते हैं हर चीज के दो पहलू होते है उसी तरह टेक्नोलॉजी के भी दो पहलू है अच्छे और बुरे। आज के समय पर आपके हाथों में आपका निजी फोन और तेज इंटरनेट स्पीड होने के वजह से आप जहां दुनिया भर में होने वाली हर खबर पर नजर डाल सकते है वही आज के समय पर आपके लिए अच्छे कंटेन्ट के साथ साथ बुरे कंटेन्ट और अश्लील वीडियो देखना भी पहले से कई गुना आसान हो गया है। आज के समय पर इंटरनेट पर मिलने वाली अश्लील वीडियो कुछ लोगों के मन में ऐसी छवि बनाते हैं जिसे वो सच मान बैठते हैं और अपने और अपने पार्टनर को वैसा न कर पाने की स्थिति में खुद को कोसने लगते हैं। तो चलिए जानते है ये चीजे कैसे आपकी पर्सनल लाइफ के साथ-साथ आपकी मेन्टल और इमोशनल हेल्थ पर भी असर डालती है।

और पढ़ें:  ऑनलाइन मीटिंग के लिए रेडी होने में काम आएंगे, ये आसान और फास्ट ब्यूटी टिप्स

पर्सनल लाइफ पर पड़ता है नेगेटिव असर: एक रिपोर्ट के अनुसार जो भी पुरुष एडल्ट फिल्मे या एडल्ट वीडियो देखते है वो अक्सर अपने पार्टनर के साथ ज्यादा खुश नहीं रह पाते। उन्हें लगता है वो अपने पार्टनर को संतुष्ट नहीं कर पाए है और न ही वो खुद कभी संतुष्ट फील करते है। जिसका असर उनके ताकत पर पड़ता है जिसके बाद इरेक्टाइल डिस्फंक्शन की स्थिति को बढ़ावा मिलता है। जिसके कारण अक्सर लोगों की पर्सनल लाइफ पर नेगेटिव असर पड़ने लगता है।

अश्लील हरकतें: आपको बता दें जिस तरह शराब की आदत किसी भी व्यक्ति को हैवानियत की हद तक पहुंचा देती है उसी तरह एडल्ट फिल्में किसी भी व्यक्ति को अमानवीय कुकर्म करने के लिए उकसा सकती हैं। कई रिपोर्ट इस ओर इशारा कर चुकी हैं कि जो लोग यौन रूप से बहुत आक्रामक होते हैं वो अक्सर एडल्ट फिल्में बहुत देखते है। जिसके कारण कई बार वो किसी व्यक्ति को नुकसान पहुंचाने की कोशिश भी करते हैं।

अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से कटने लगता है: एक रिपोर्ट के अनुसार जो लोग बार-बार एडल्ट फिल्में देखना पसंद करते है उनका ये बार बार एडल्ट फिल्में देखने का लालच या फिर कहे आकर्षण उन्हें खुद को दूसरों से दूर कर देता है। जिसके कारण वो लोग जीवन के कई जरूरी अनुशासन का पालन नहीं कर पाते हैं। यही कारण है कि जिन लोगों को एडल्ट फिल्में देखने की आदत पड़ जाती हैवे जीवन के दूसरे पक्षों में भी बुरी तरह से असफल होने लगते हैं। ऐसे लोगों में कुछ न कर पाने की भावना बनी रहती है। जिसके कारण धीरे धीरे वो अपने दोस्तों और रिश्तेदारों से कटने लगते है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
सेहत

COVID 19 outbreak के दौरान क्यो ज़रूरी हैं Emotional Health को चेक मे रखना ?

कैसे रखे अपनी emotional health को चेक मे ?


कोरोना का कहर तो पूरा विशव देख रहा हैं. जहां देखो वही कोरोना की बात. लोगो से लेकर सोशल मीडिया तक. ऐसे मे लोगो मे डर इतना ज़्यादा हैं कि ज़रा सी खांसी  को भी लोग कोरोना समझ रहे हैं. भारत मे  ये खतरनाक virus अभी दूसरे चरम पर हैं और अब भी देश के पास 30 दिन हैं इसे महामारी बनने से रोकने के लिए. ताजा आकडो की बात करे तो अब तक 153 मामले सामने आये हैं.
लोगो मे डर हैं ऐसे मे ज़रूरी हैं कि हम अपनी emotional health का भी ख्याल रखे. यहां हैं पांच तरीके जिस से आप रख सकते हैं अपना मुड लाइट:
1. अपने खास लोगों से बात करे:  फ़ोन करे और बात करे. पुरानी यादे ताजा करे और अच्छी बाते करे. जितना हो सके कोरोना की बात न ही करे.
2. अच्छा  खाना बनायें और फैमिली के साथ करे enjoy:  घर का खाना भी अच्छा लगता हैं अगर सब साथ हो. अभी मौका भी हैं सब घर पर हैं तो अच्छा खाना बनायें  और खाये. साथ मे फिल्म देखे और games खेले.

और पढ़ें: कोरोना का दुनिया भर में कहर: Self Quarantine के दौरान कैसे करें समय utilise?

3. सोशल मीडिया को कहे न: ज़्यादा फेक खबरे देखने से negativity ही होती हैं ऐसे मे थोड़ा ब्रेक ले और सोशल मीडिया से दूरी बना ले.
4. Gardening करे: plants का रखे ख्याल ये आपको अच्छा फील  कारवाने मे मदद करेगा.
5. Meditation करे: थोड़ा ध्यान लगाये. ये आपके दिमाग को शांत रखेगा और आपको positve फील करने मे करेगा मदद.
आखिर मे एक चीज याद रखे “बुरे दिन के बाद अच्छे दिन आते हैं” ये ग्लोबल आपदा हैं इस भी डरना नही हैं बल्की लड़ना हैं.
अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com