Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
सेहत

World Health Day 2023: विश्व स्वास्थ्य दिवस की शुरुआत क्यों की गई, क्या आप जानते हैं?

हर साल वैश्विक स्तर पर विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाया जाता है। साल 1950 से इस विशेष दिन के लिए थीम की शुरुआत की गई। इस साल का थीम है 'हेल्थ फॉर आल'

World Health Day 2023: 7 अप्रैल को मनाया जाता है विश्व स्वास्थ्य दिवस, पीएम मोदी ने भी किया रिट्वीट

आज पूरी दुनिया में ‘विश्व स्वास्थ्य दिवस’ मनाया गया। आज हम तमाम तरह की बीमारियों और रोगों का आए-दिन सामना करते हैं। कुछ सालों पहले तक टीबी, मलेरिया, पोलियो और अस्थमा भी विश्व स्तर पर चैलेंज हुआ करता था। इन बीमारियों के खिलाफ युद्ध छेड़ने में ‘पब्लिक अवेयरनेस’ का बहुत बड़ा रोल होता है। विश्व स्वास्थ्य संगठन इस दिशा में हर साल थीम लेकर आता है। इस विशेष दिवस को जनहित दिवस के रूप में देखा जा सकता है। पूरे विश्व में हर साल 7 अऑब्जर्व प्रैल को ‘ वर्ल्ड हेल्थ डे ‘ मनाया जाता है। विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर पूरी दुनिया में ‘हेल्थ अवेयरनेस’ के बारे में मैसेज दिया जाता है। हर साल आज के दिन यानि 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य संगठन द्वारा ‘वर्ल्ड हेल्थ डे’ को ऑब्जर्व किया जाता है। साल 1948 में जब पहली बार 7 अप्रैल को विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना की गई थी।

बता दें कि आजकल विश्व स्तर पर तमाम तरह की बीमारियों ने डेरा डाल रखा है। अगर गौर करें तो मेंटल हेल्थ, डायबिटीज, बीपी, सुगर, हार्ट अटैक और थॉयराइड जैसी बीमारियों में इजाफा देखने को मिला है। पिछले कुछ सालों में जिस तरह से पर्यावरण प्रदूषित हुआ है उससे भी रोगों में बढ़ोतरी हुई है। वैश्विक स्तर पर लोगों शारीरिक और मेंटल हेल्थ के प्रति जागरूकता लाने व उन्हें हेल्दी रहने के प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से वर्ल्ड हेल्थ डे मनाया जाता है। प्रत्येक वर्ष वर्ल्ड हेल्थ डे के अवसर पर थीम बनाई जाती है ताकि इस थीम को उद्देश्य बनाकर उस साल हेल्थ डेवलपमेंट पर फोकस करने के लिए प्रोत्साहित किया जाता है।

साल 1950 से हर साल डब्ल्यू एच ओ के तत्कालीन डायरेक्टर जनरल द्वारा विश्व स्वास्थ्य दिवस को मनाने के लिए एक ‘थीम’ के बारे में निर्णय लिया जाता रहा है। इस साल विश्व स्वास्थ्य दिवस का थीम है ‘Health For All’ और इसी थीम के आधार पर सारी दुनिया में हेल्थ अवेयरनेस फैलाया जा रहा है। थीम का मकसद वैश्विक स्तर पर हेल्थ और इसके महत्ता के बारे में संदेश देना होता है।

महात्मा गांधी ने स्वास्थ्य को लेकर सच ही कहा है, ” यह शरीर ही सच्चा धन है न कि सोने और चांदी के टूकड़े असली धन हैं। ” कोरोना महामारी के प्रकोप में सारी दुनिया आ गई थी। इसके चपेट में ढ़ेर सारे लोगों ने अपनी जान गंवाई थी। हालांकि, अब दुनिया उस महामारी से उबर चुकी है। पर, यह बात भी सच है कि इस महामारी के कारण लोगों को शारीरिक और मानसिक दोनों तरह से जूझना पड़ा था।

Read more: Tips For Glowing Skin: चेहरे को रखना है ग्लोइंग और हेल्दी, तो अपनी डाइट में शामिल करें ये चीजे

भारतीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने किया रिट्वीट

विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर पीएम मोदी ने कहा कि हम उन सभी लोगों के प्रति आभार व्यक्त करते हैं जो इस धरती को हरा-भरा और स्वास्थ्य बनाने में काम कर रहे हैं। पीएम मोदी ने आगे कहा कि हमारी सरकार हेल्थ इन्फ्रास्ट्रक्चर बढ़ाने और लोगों के लिए गुणवत्तायुक्त स्वास्थ्य सुनिश्चित करने हेतु काम जारी रखेगी।

वहीं, केंद्रीय हेल्थ मिनिस्टर डॉ मनसुख मांडविया ने भी विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर महात्मा गांधी के विचार को कोट करते हुए ट्वीट किया।
” “It is health that is real wealth, not pieces of gold & silver.” – Mahatma Gandhi

On #WorldHealthDay, we reiterate our commitment towards building a healthier India.

Take a look at how PM @NarendraModi Ji’s Govt has been working relentlessly towards ensuring Health For All 👇

विश्व स्वास्थ्य दिवस के अवसर पर देश की प्रमुख विपक्षी पार्टी कांग्रेस के ट्वीटर हैंडल से भी ट्वीट किया गया। कांग्रेस की तरफ से स्वास्थ्य को अमूल्य गिफ्ट बताते हुए जन कल्याण के हित में ट्वीट किया गया।

” This World Health Day, let’s celebrate the invaluable gift of good health & commit to promoting physical, mental & emotional wellbeing for all. Also, let’s salute the hardworking health workforce of India, who have transformed the health sector as we know it today.”

विश्व स्वास्थ्य संगठन की स्थापना के बाद से ही विश्व स्वास्थ्य के क्षेत्र में लगातार पहल किया जाता रहा है। यह भी बता दें कि इस साल विश्व स्वास्थ्य दिवस (W H O )अपनी 75वां वर्षगांठ मना रहा है। डब्ल्यू एच ओ पिछले 70 साल में हुए सार्वजनिक हेल्थ प्रॉग्रेस का आंकलन भी करेगा। डब्ल्यूएचओ (W H O) ने कहा कि अपने 75 वीं वर्षगांठ पर हमारे लिए यह अवसर है कि पिछले सात दशकों में पब्लिक हेल्थ की सफलता और स्वास्थ्य गुणवत्ता में सुधार का सार्वजनिक आंकलन किया जाए।

Read more: Unparliamentary Words: ‘असंसदीय शब्दों’ के इस्तेमाल पर जाने क्या हो सकती है कार्रवाई

विश्व स्वास्थ्य दिवस मनाने का मुख्य उद्देश्य है कि लोगों में इस बात की जागरूकता लाई जाए कि उनका हेल्थ उनकी लाइफ के लिए कितना महत्वपूर्ण है। हेल्थ अवेयरनेस का अर्थ केवल शारीरिक रूप से स्वस्थ होना नहीं बल्कि मानसिक और भावनात्मक रूप में भी हेल्दी होना है। विश्व स्वास्थ्य दिवस को पूरी दुनिया में मनाया गया। हर इंसान को समझना होगा कि उसका स्वास्थ्य अनमोल उपहार है जिसका कोई मोल नहीं है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button