डंक दैट जंक अभियान के लिए रणदीप हुडा ने युवाओं से किया गंदगी न फ़ैलाने का निवेदन

0
660

भारत में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा चलाया गया स्वच्छ भारत अभियान धीरे-धीरे कामयाबी की तरफ बढ़ता दिख रहा है। इस अभियान को अब आगे पारले और एमटीवी ने एक अभियान शुरू किया है जिसका नाम है ‘डंक दैट जंक’, इस अभियान का सही मकसद लोगो को स्वच्छता के लिए जागरूक करना है।

सांसद मीनाक्षी लेखी और बॉलीवुड स्टार रणदीप हुडा ने कल पारले और एमटीवी का अभियान ‘डंक दैट जंक’ के डंपर ट्रक्स का उद्घाटन किया।

बॉलीवुड स्टार रणदीप हुडा ने कहा कि “कौन जनता था की सफाई इतनी मनोरंजन हो जाएगी? एमटीवी को अच्छी तरह पता है की बिलकुल सामान्य चीजों को आकर्षक कैसे बनाएं। गंदगी फैलाना ख़राब आदत है और इसकी सीख देना भी आसान नहीं है, खासकर तब, जब लोग युवा हों। मैं हर किसी से और यहां मौजूद सभी युवाओं से निवेदन करता हूँ की वो आगे आएं और भारत को स्वच्छ रखने के लिए एक कीर्तिमान स्थापित करने में पारले और एमटीवी के प्रयास में सहयोग दे।”

Dump that junk

अभियान का समर्थन करते हुए मीनाक्षी लेख ने भी युवाओं से इस अभियान को समर्थन कने का निवेदन किया और बताया कि जंकयार्ड प्रोजेक्ट भारत को स्वच्छ भारत बनाने का बेहतरीन रास्ता है।

हालही में पारले एमटीवी जंकयार्ड प्रोजेक्ट ने सोशल मीडिया पर ‘डंक दैट जंक’ के नारे के साथ एक वीडियो उपलोड की थी, इस वीडियो में बॉलीवुड और टीवी के कलाकारों ने कुछ टास्क जैसे डिजी डंक, ट्रैपोलिन जंप डंक, ब्लाइंडफोल्ड डंक आदि करते हुए नजर आ रहे है। यह वीडियो सोशल मीडिया पर काफी वायरल हो रही है। इस अभियान को बॉलीवुड में शाहरुख़ खान, फरहान अख्तर, वरुण धवन, सोनम कपूर के साथ और भी बड़ी हस्तियों ने समर्थन किया।

Minakshi Lekh and Randeep Hooda

क्या है जंकयार्ड प्रोजेक्ट ‘डंक दैट जंक’?

एमटीवी ने भारत में स्वच्छता अभियान को अलग-अलग शहरों तक पहुँचाने के लिए पारले के साथ पार्टनरशिप की है। इस अभियान को डंक दैट जंक का नाम दिया है। इस अभियान में भारत में स्वच्छता को लेकर लोगों को जागरूक करना है, इसमें डंप ट्रक्स रंगबिरंगे ग्रेफिटी लुक में लोगों को स्वच्छता के लिए सन्देश देकर लोगों को जागरूक करेंगे। जिससे लोग कचरे को कूड़ेदान में डाले और इस अभियान का लक्ष्य गंदगी को ख़ूबसूरती में बदलना है। गंदगी न करने के संदेश को देने के लिए डंपिंग ग्राउंड के संदेश का उपयोग किया है। इस अभियान के लिए 300 कॉलेजों, भित्तिचित्रों और स्ट्रीट आर्ट विशेषज्ञों को भी साथ लिया गया है जिससे चुने हुए कूड़ा करकट डालने के स्थान को सुंदर भित्तिचित्रों में बदला जा सके।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at

info@oneworldnews.com


Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments