भारत

सभी आपातकालीन सुविधाओं के लिए 112 नंबर जल्द!

अब पुलिस, एम्बुलेंस और आगजनी जैसी इमरजेंसी नंबरों को याद रखने या अपने डायरी या मोबाइल में सेव करने के झंझट से जल्द आपको छुटकारा मिलने वाला है। दरअसल, टेलिकॉम कमिशन ने टेलिकॉम रेग्युलेटरी अथॉरिटी ऑफ इंडिया (ट्राई) की एक अहम सिफारिश मान ली है।

इसके तहत एमरजेंसी नंबरों की जगह सिर्फ एक नंबर 112 को इमरजेंसी नंबर के तौर पर इस्तेमाल करने का सुझाव दिया गया था। एक बार यह नंबर इस्तेमाल में आ जाए तो फिर आपातकालीन स्थिति से निपटना बहुत ही आसान हो जाएगा। यानि, अब आप 112 नंबर पर कॉल करके किसी भी तरह की इमरजेंसी वारदातो की रिपोर्टिंग कर उससे सम्बंधित विभाग की सर्विस पा सकते है।

एक अधिकार ने बताया कि टेलिकॉम कमिशन ने सिंगल इमरजेंसी नंबर 112 की ट्राई की सिफारिश को मान ली है। इस योजना को अब दूरसंचार विभाग तैयार करेगा, जिसे विभागीय मंत्री  की स्वीकृति की जरूरत होगी। इसे कुछ ही महीनों में लागू कर दिया जाएगा।

emergency

अब आगजनी, आपराधिक घटनाओं, स्वास्थ्य, छेड़खानी आदि से संबंधित आपातकालीन घटनाओं से निजात पाने के लिए अलग-अलग नंबरों पर कॉल करने की कोई जरूरत नहीं होगी।

गौरतलब है कि अमेरिका में ऐसा ही एक नंबर 911 है,  जिस पर कॉल करके किसी भी तरह की आपातकालीन सेवा ली जा सकती है।

सूत्रों के मुताबिक इस योजना के तहत  मौजूदा सभी इमरजेंसी नंबरों को एक साल के अंदर धीरे-धीरे कर खत्म कर दिया जाएगा। हालांकि, इस दौरान इस बात का भी ध्यान रखा जाएगा कि सभी लोगों को 112 के बारे में पूरी तरह जानकारी हो जाए।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Back to top button