Movie Review: करण देओल की ‘पल पल दिल के पास’ में दिखी डायलॉग डिलेवरी में कमी

0
36
pal pal dil ke paas

कितना है हि-मैन धर्मेंदर के पोते करण देओल में दम?


बॉलीवुड के ज़्यादातर  लोग अपना डेब्यू हमेशा एक रोमांटिक फिल्म से करते है और अब इस लिस्ट में एक नया नाम और जुड़ गया है। जी हॉहम बात कर रहे है बॉलीवुड के हि-मैन धर्मेंदर के पोते करण देओल की जिन्होंने अपना बॉलीवुड डेब्यू फिल्म पल- पल दिल के पास से किया है।

आपको बता दें की फिल्म की कहानी में आपको उत्तर भारत में हिमालय के खूबसूरत नज़ारे देखने को मिलेंगे। फिल्म की कहानी एक वीडियो ब्लॉगर सहर सेठी (सहर बांबा) और एक पर्वतारोही करण सेहगल(करण देओल) की है जो एक साथ ट्रैकिंग पर जाते है। करण की अपनी ट्रेकिंग कंपनी है जबकि सहर देश की सबसे बड़ी विडियो ब्लॉगर हैं जो अपने फैमिली रीयूनियन से बचने के लिए घूमने निकल जाती हैं। वही लड़ाई- झगड़े में उन्हे करण से प्यार हो जाता है।

बात करे अगर रिव्यु की तोअगर आप देओल फॅमिली  के फैन है तो इस फिल्म को आप जरूर देख सकते है। इस फिल्म में हिमाचल प्रदेश के वादियों को बहुत खूबसूरती से दिखाया गया है। मगर एक्टर और एक्ट्रेस की केमिस्ट्री फैंस को  कुछ ख़ास पसंद नहीं आयी। वैसे तो स्क्रीन पर करण नेचुरल दिखते पर डायलॉग डिलेवरी पर काम करना होगा। दूसरी तरफ सहर कैमरे के आगे काफी कॉंफिडेंट लग रही थी। इमोशनल सीन में सेहर काफी अच्छी दिखी पर कॉमेडी में उन्हे थोड़ा काम करना पड़ेगा। सनी देओल के डायरेक्शन में बनी इस मूवी में लोग अपने आप को जोड़ नहीं पाएंगे क्योंकि लव स्टोरी काफी ढीली दिख रही है। लेकिन  पूरी फिल्म का मजा लेने के लिए आप थिएटर में ये फिल्म एक बार देखने ज़रूर जा सकते हैं। 

और पढ़ें: जेनिफर विंगेट के 5 ग्लैमरस लुक्स जो बना देंगे आपको दीवाना

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com