पॉलिटिक्स

कन्हैया को अपनी पढ़ाई पर ध्यान देना चाहिए : वेंकैया नायडू

जेएनयू छात्र संघ के अध्यक्ष कन्हैया कुमार देशद्रोह के आरोप में तिहाड़ से अंतरिम जमानत पर बाहर आने के बाद जेएनयू में एक सभा आयोजित की, जिसमें कन्हैया ने केंद्र सरकार को निशाना बनाते हुए एक भाषण दिया। कन्हैया ने छात्रों को संबोधित करते हुए कहा की ‘हमें भारत से नहीं भारत में आजादी चाहिए।’ कन्हैया के इस भाषण के बाद एक तरफ कन्हैया को इस भाषण के लिए भाजपा विरोधी पार्टियों की तरफ से तारीफें मिल रही तो दूसरी तरफ उन्हें भाजपा के नेताओं की आलोचना का भी शिकार होना पड़ रहा है।

venkaiahnaidu

हाल ही में दिए गए इस भाषण को लेकर केंद्रीय मंत्री एम वेंकैया नायडू ने कहा कि “कन्हैया कुमार मुफ्त में प्रचार का आनंद ले रहे हैं। कन्हैया को अपनी पढ़ाई पर ध्यान देना चाहिए। आप सभी केन्द्रीय यूनिवर्सिटी में पढ़ रहे है, जहाँ लोगों के पैसे से पढ़ाई होती है। इसलिए आप सभी को अपने काम के प्रति न्याय रखना चाहिए।” इसी के साथ नायडू ने कहा की वे राजनीति में क्यों उतर रहे है? अगर राजनीति में आने के इच्छुक है तो पढ़ाई छोड़कर राजनीति में आ सकते हैं और अपनी पसंदीदा पार्टी से जुड़ सकते है।

कन्हैया के इस भाषण की भाजपा विरोधी कई नेताओं ने सोशल मिडिया पर जमकर की है। आम आदमी पार्टी के नेता और दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विटर पर ट्विट करते हुए कहा की “मैंने कन्हैया के भाषण को कई बार सुना। उसके विचारों में स्पष्टता है, जिसे उसे अद्भुत तरीके से स्पष्ट किया। उन्होंने कहा कि बहुत से लोग क्या महसूस करते हैं। भगवान उसे आशीर्वाद दें।” इसी के साथ बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने भी कन्हैया के भाषण को सुनने के बाद कहा की कन्हैया का भाषण बहुत प्रभावी है और कन्हैया खुद एक प्रभावशाली युवा नेता है।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Back to top button