Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
भारत

Manipur Internet Ban: मणिपुर में इंटरनेट प्रतिबंध 31अक्टूबर तक बढ़ाया गया

मणिपुर सरकार ने इंटरनेट प्रतिबंध को 31 अक्टूबर तक बढ़ा दिया है। अधिकारियों ने गुरूवार को ये जानकारी देते हुए कहा की राज्य में इंटरनेट प्रतिबंध अगले पांच दिन के लिए बढ़ाया जा रहा है। ये कदम मुखयमंत्री एन वीरेन के उस बयान के बाद उठाया गया जिसमें उन्होंने कहा था कि सरकार कुछ दिनों में प्रतिबंध वापस ले लेगी।

Manipur Internet Ban: राज्य में हो रही हिंसा को देखते हुए इंटरनेट प्रतिबंध को 31 अक्टूबर तक बढ़ाया 


मणिपुर सरकार ने इंटरनेट प्रतिबंध को 31 अक्टूबर तक बढ़ा दिया है। अधिकारियों ने गुरूवार को ये जानकारी देते हुए कहा की राज्य में इंटरनेट प्रतिबंध अगले पांच दिन के लिए बढ़ाया जा रहा है। ये कदम मुखयमंत्री एन वीरेन के उस बयान के बाद उठाया गया जिसमें उन्होंने कहा था कि सरकार कुछ दिनों में प्रतिबंध वापस ले लेगी। 

अधिकारियों के सुचना के अनुसार प्रतिबंध इस आशंका को देखते हुए बढ़ा दिया है कि कुछ असामाजिक तत्व जनता की भावनाओं को भड़काने वाली तस्वीरें, नफरत भरे भाषण, नफरत भरे वीडियो प्रसारित करने के लिए बड़े पैमाने पर इंटरनेट का इस्तेमाल कर सकते है। जिसका कानून और व्यवस्था पर गहरा असर हो सकता है। 

Read More: Manipur Violence:दो छात्रों की हत्या के बाद मणिपुर में हिंसक प्रदर्शन, जांच जुटी सीबीआई

राज्य के डीजीपी  ने 25 अक्टूबर को रिपोर्ट दी थी कि ‘अभी भी सुरक्षा बलों के साथ जनता के टकराव, निर्वाचित सदस्यों के आवासों पर भीड़ के प्रयास और पुलिस स्टेशनों के सामने नागरिक विरोध प्रदर्शन जैसी घटनाओं की रिपोर्टें कर रहे है।’ अधिसूचना में कहा गया है, “राष्ट्र-विरोधी और असामाजिक लोगों के मंसूबों और गतिविधियों को विफल करने और शांति और सांप्रदायिक सद्भाव बनाए रखने और जीवन के किसी भी नुकसान को रोकने के लिए, प्रसार को रोक कर सार्वजनिक हित में कानून और व्यवस्था बनाए रखने के लिए पर्याप्त उपाय करना आवश्यक हो गया है।”

3 मई को जातीय हिंसा भड़कने के बाद राज्य में मोबाइल इंटरनेट पर बार-बार प्रतिबंध लगाया गया है। हालांकि इसे 23 सितंबर को हटा दिया गया था, लेकिन सोशल मीडिया पर एक लड़की सहित दो युवा लापता छात्रों के शवों की तस्वीरें प्रसारित होने पर और छात्रों की सुरक्षा बलों के साथ झड़प होने के बाद 26 सितंबर को इसे फिर से प्रतिबंधित करना पड़ा।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com  

Back to top button