लाइफस्टाइल

लॉकडाउन बढ़ने से बिगड़ सकता है घर का बजट, जाने सेविंग करने के आसान तरीके

लॉकडाउन को ले कर कुछ खास बाते जो सबको पता होनी चाहिए


अभी पूरी दुनिया कोरोना वायरस की चपेट में है जिसकी वजह से ज्यादातर देशों में लॉकडाउन लागु है। भारत में भी इस महामारी से बचने की लिए 21 दिन का लॉकडाउन किया गया है जो 14 अप्रैल को खत्म होने वाला था। लेकिन भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने मंगलवार सुबह 10 बजे देश को संबोधित किया, और 21 दिन का लॉकडाउन जो मंगलवार को खत्म होने वाला था उसकी अवधी बड़ा कर 3 मई कर दी। लोगों से अपील की वो सोशल डिस्टेंसिंग बनाये रखें। बिना काम अपने घरों से बाहर न जाये। और साथ ही उन्होंने लोगों से 7 चीजों में साथ मांगा। पहली बात – अपने घर के बुजुर्गों का विशेष ध्यान रखें, दूसरी बात – सोशल डिस्टन्सिंग बनाये रखें, तीसरी बात – अपनी इम्यूनिटी बढ़ाने के लिए आयुष मंत्रालय द्वारा दिए गए निर्देशों का पालन करें, चौथी बात- कोरोना संक्रमण का फैलाव रोकने में मदद करने के लिए आरोग्य सेतु मोबाइल App जरूर डाउनलोड करें, पांचवी बात – जितना हो सके उतने गरीब परिवार की देखरेख करें, छठी बात – किसी को नौकरी से न निकालें, सातवीं बात – देश के कोरोना योद्धाओं, हमारे डॉक्टर- नर्सेस, सफाई कर्मी-पुलिसकर्मी का पूरा सम्मान करें।

लॉकडाउन कैसे बिगड़ रहा है घर का बजट।

लॉकडाउन के कारण लगभग सब कुछ बंद पड़ा हुआ है, साथ ही सरकार ने भी लोगो को घर से बाहर जाने के लिए मना किया हुआ है| ऐसे में लोग अपने काम पर नहीं जा पा रहे है जिसके कारण उनको बहुत सारी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। वैसे तो सरकार ने सभी कंपनियों से अपील की है की न तो वो लोगों को काम से निकाले और न उनका वेतन काटे क्योंकि ये एक ऐसा समय है जब लोगो को एक दूसरे की मदद करनी चाहिए न की पैसे के लिए सोचना चाहिए। परन्तु फिर भी ऐसी बहुत सारी कंपनिया है जो अपने कर्मचारियों को टाइम पर वेतन नहीं दे रहे है और दूसरी तरफ महंगाई बढ़ती जा रही है। सारी चीजें दोगुने दामों पर मिल रही है। ऐसे में लोगों को अपनी जरूरत की चीजें खरीदने के लिए ज्यादा पैसे की जरूरत है।

और पढ़ें: लॉकडाउन और जगह सील होने में क्या है अंतर?

कैसे कर सकते है सेविंग

अभी आप बाहर नहीं जा पा रहे है जिसके कारण आप अपने आने-जाने के खर्च का पैसा सेव कर सकते है। आप मार्केट भी नहीं जा पा रहे जिसके कारण आप अपने शॉपिंग करने का पैसा बचा सकते है। बचे हुए पैसों को आप अपने किसी और काम में लगा सकते है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button