Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
सेहत

अगर हो रहे हैं मेंटल इलनेस शिकार, तो आज ही फॉलो करें ये टिप्स: Mental health problems

कभी कभी ऐसा महसूस होता है कि लाइफ में कुछ भी अच्छा नहीं हो रहा है। कई बार अकेलापन और निराशा भी दिमाग पर हावी हो जाती है और हर वक्त बुरी फीलिंग्स हावी रहती हैं। आप इस मेंटल सिचुएशन को भले ही समझ ना पाएं लेकिन ये मानसिक पीढ़ा के संकेत हैं।

Mental health problems:जानिए क्या है मेंटल इलनेस के लक्षण, ये टिप्स आपकी मेंटल हेल्थ को रखेंगे फिट


Mental health problems:भागदौड़ भरी जिंदगी में तनाव होना आम बात है। आजकल हर उम्र के लोगों में तनाव देखने को मिल रहा है। बच्चे से लेकर बुजुर्ग तक, सभी किसी-न-किसी तरह के तनाव से जूझ रहे हैं। यानी आज के दौर में हर व्यक्ति तनाव और चिंता से घिरा हुआ है। कोई तनाव से उभरकर नया जीवन जीने की कोशिश करता है, तो वहीं युवाओं में आगे बढ़ने की चाह को लेकर चिंता बनी रहती है। बुजुर्ग अपने स्वास्थ्य को लेकर चिंतित रहते हैं। यानी आज के दौर में हर व्यक्ति तनाव और चिंता से घिरा हुआ है। कोई इस तनाव से उभरकर नया जीवन जीने की कोशिश करता है, तो किसी के मन में सुसाइड करने तक के विचार आने लगते हैं। अगर आपका कोई दोस्त या परिजन भी तनाव, डिप्रेशन या चिंता जैसी मानसिक बीमारियों से जूझ रहा है, तो आप इन तरीकों से बाहर आने में उनकी मदद कर सकते हैं।

उनकी समस्या जानने की कोशिश करें

अगर आपका कोई परिजन या दोस्त मानसिक समस्याओं से परेशान हैं या उसके मन में बार-बार सुसाइड करने का ख्याल आता है, तो आप उनसे बातचीत करके उनकी समस्या जानने की कोशिश करें। फिर उनकी समस्या का हल निकालने का प्रयास करें। इससे आपके दोस्त या परिजन को एक सहारा मिलेगा।

योग और मेडिटेशन करने को कहें

योग और मेडिटेशन करने से मेंटल हेल्थ स्ट्रॉन्ग बनती है। मेडिटेशन करने से स्ट्रेस और तनाव कम होता है। जब तनाव कम होता है और समस्या में सुधार हो जाता है, तो सुसाइड के विचार खुद ही दूर हो जाते हैं। योग और मेडिटेशन करने से आपकी समस्याओं में काफी आराम मिलेगा।

We’re now on WhatsApp. Click to join.

रिलेक्स करने की तकनीकें बताएं

रिलेक्स करने की तकनीकें अपनाएं जैसे मनन करें, गहरी सांसें लें, सांस के व्यायाम यानि प्राणायाम करें। इससे तनाव कम होगा और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार आएगा। इन तरीकों को अपनाकर आप अपने तनाव पर नियन्त्रण रख सकते हैं और सेहतमंद जीवन जी सकते हैं।

समय और एनर्जी का सहीं प्रबन्धन करें

अपने समय और एनर्जी का सही उपयोग कर आप तनाव से बच सकते हैं और मानसिक स्वास्थ्य में सुधार ला सकते हैं। जो काम ज़्यादा ज़रूरी हो उसे पहले करें। काम के बीच में ब्रेक लें और रिलेक्स करने के लिए समय निकालें।

नकारात्मक विचारों से दूर रहें

ऐसे विचारों से बचें जो आपको तनाव देते हैं। अपने आप से पूछें कि क्या ये ठीक हैं, इन पर नियन्त्रण पाएं।

Read More: अगर बच्चों को आता है एग्जाम का स्ट्रेस, तो स्टूडेंट्स आज से ही करें ये काम: Exam Tips

जानिए क्या है मेंटल इलनेस के लक्षण

मानसिक अवसाद एक तरह की मेडिकल कंडीशन है जिसमें व्यक्ति अकेला और निराश फील करता है। मरीज जरूरत से ज्यादा इमोशनल महसूस करने लगता है। बात बात पर रुलाई फूटती है और बिना बात उदासी फील होती है। व्यक्ति गहरे शोक में रहता है और कुछ भी करने का मन नहीं करता है। इस सिचुएशन में फिजिकल इफेक्ट भी होता हैं और शरीर के अंगों में दर्द होने लगता है। सांस लेने में तकलीफ, हार्ट बीट असामान्य होना और सिर में दर्द बने रहना मेंटल इलनेस के लक्षण हैं।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button