रिलेशनशिप और रिश्ते: कपल्स के बीच रिश्तों के बदलते रूप

0
721
प्रतिनिधि छवि

कहीं आप अनदेखा तो नहीं कर रहे इन बातों को


रिश्तों को जुड़े हुए चाहे कितना भी समय हो चुका हो लेकिन उसमें प्यार और रोमांस हमेशा बरकरार रहना चाहिए। यदि आपको लग रहा कि आपके रिलेशनशिप में कुछ बदलाव आ रहा है और स्थितियां पहले की तरह नहीं है, तो आपको सचेत होने की जरूरत है। वैसे तो रिश्तों को बनाने में सालों लगते है पर टूटने में एक पल भी नहीं लगता। कई बार हम अपनी दिनचर्या में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि अपने आस-पास हो रहे परिवर्तनों पर बिलकुल ध्यान ही नहीं दे पाते। रिश्तों में अगर कड़वाहट आ जाए और रिश्ते समाप्ति की ओर बढ़ने लगे, इसके पहले ही हमें इससे जुड़े कुछ संकेत मिलने लगते हैं। यह अलग बात है कि हम अपनी लापरवाही की वजह से इन पर ध्यान नहीं दे पाते।

 प्रतिनिधि छवि

प्रतिनिधि छवि

यदि आप अपने रिश्तों को टूटने से बचाना चाहते हैं तो उन संकेतों को समझने की कोशिश करें, जिनसे आपके रिलेशनशिप में दूरियां बढ़ रही हैं: –

1.साथी के अंदाज जाने: अचानक से कुछ भी नहीं होता, चीजें धीरे-धीरे ही बदलती हैं। अपने साथी के शारीरिक संकेतों को समझने की कोशिश कीजिए। क्या आपके पार्टनर पहले की तरह आप पर ध्यान नहीं दे रहा और आपकी बातों में रूचि नहीं ले रहे हैं? आपके करीब आने पर आपका साथी असहज महसूस करता/करती है। रोमांटिक पलों को अनदेखा कर रही/रहा है। अगर आपके पास कोई टॉपिक नहीं रह गया हो बातचीत करने का। ऐसे में आप मानें या ना मानें लेकिन आपके शारीरिक संकेत बहुत कुछ कह देतें हैं।

2.प्यार कहीं खो सा गया: पति-पत्नी के बीच के प्यार और केयर की कमी भी रिश्तों में दूरियां बढ़ने के संकेत होते हैं। अगर आपके बीच पहले जैसी प्यार की गरमाहट अब कहीं ढूंढने से भी नजर नहीं आ रही तो समझिए कि आपका रिश्ता खतरे का संकेत दे रहा है। ऐसा माना जाता है कि विवाह के शुरूआती दिनों के कुछ समय बाद रोमांस का खुमार धीरे-धीरे कम होता चला जाता है। लेकिन इसका ये मतलब भी नहीं होता कि आपस में प्यार बिलकुल नजर ही न आएं।

Also Read: आखिर क्या है शादी करने की परफेक्ट उम्र, 20, 30 या 40 साल?

3.व्यवहार में बदलाव: पार्टनर के बीच व्यवहार का बदलना ही आपके बीच की दूरियां बढ़ने का तीसरा संकेत है। क्या आपके साथी का अब आपकी बातों पर ध्यान नहीं जाता। आपकी महत्वपूर्ण बातों को सुनकर भी अनसुना कर देते हैं। आपकी बातों का जवाब भी वो झुंझुलाकर देतें हैं। उनका बेवजह छोटी-छोटी बातों पर गुस्सा करना इत्यादि। यदि ये सारे लक्षण उनके व्यवहार में नजर आ रहे हैं तो आप समझ लें कि ये भी एक खतरे की घंटी है।

4.रोमांटिक पलों को कर रहे हो अनदेखा:यदि आपका साथी आपके साथ रोमांटिक पल नहीं बिताना चाहता/चाहती तो समझे कि आपके बीच की दूरियां बढ़ रही हैं। किसी पार्टी या फंक्शन में बाहर जाने के बने कार्यक्रम में आपके साथी का उपेक्षापूर्ण व्यवहार दूसरों को यह जता देता है कि आपके संबंधो में क़डवाहट आ रही है। यह स्थिति कष्टपूर्ण है। ऎसी स्थिति आपके रिश्ते के लिए खतरे की घंटी है।

5. व्यक्तित्व में बदलाव: यदि आपको ऎसा महसूस हो रहा है कि आपका साथी दिन-प्रतिदिन कुछ बदल-सा रहा है। यदि आपका साथी अपने व्यक्तित्व को लेकर पहले से ज्यादा सजग हो रहा/रही है। यदि रोज़-रोज़ नए और फैशनेबल कपड़ो और एक्सेसरीज की ओर उनका ध्यान जा रहा है तो अचानक से आए इन बदलावों से जान ले कि आपके साथी के जीवन में कुछ नया और रोमांचक चल रहा है या हो सकता है कि उनके लाइफ में आपकी जगह कोई और लेने की कोशिश कर रहा/रही है।

6.इन्तेहाँ हो गयी इंतज़ार की:क्या आपने ध्यान दिया कि आपने दिन में कितनी बार उन्हें कॉल किया और उन्होने कितनी बार आपसे बात की। वापस फोन करता/करती हूं कह कर बात बात काट दी, लेकिन पूरा दिन निकलने के बाद भी इंतजार ही बाकी रह गया। यदि ये लक्षण आपको नजर आ रहे हैं तो सचेत हो जाइए। कभी भी स्थितियों को अनदेखा करने से स्थितियां सुधरती नहीं हैं और बिगड़ ही जाती हैं। बेहतर होगा कि खतरे के संकेतों को पहचान कर अपने साथी से इस बारे में समय रहते बात कर लें ताकि आपका रिश्ता किसी तरह की ग़लतफहमी का शिकार ना हो और आपका एक-दुसरे पर प्यार और विश्वास बना रह सके।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in