काम की बात

Air India Urination Incident: एयर इंडिया फ्लाइट में ‘सू-सू कांड’ का आरोपी बेंगलूरू से गिरफ़्तार

Air India Urination Incident: फ्लाइट में ‘सू-सू’ कांड का आरोपी शंकर मिश्रा गिरफ़्तार, लगी ये धाराएं


Highlight

. फ्लाइट में नशे में धुत्त होकर महिला पर पेशाब करने वाला शंकर मिश्रा गिरफ़्तार

. शंकर मिश्रा को दिल्ली पुलिस ने बेंगलुरु से गिरफ्तार किया है।

. 34 साल का शंकर ‘ वेल्स फार्गो ‘ नाम की कंपनी में वाइस प्रेसिडेंट के तौर पर काम कर रहा था।

Air India Urination Incident: एयर इंडिया के विमान में महिला पर पेशाब करने वाले शख्स की पहचान मुंबई के शंकर मिश्रा के तौर पर हुई है। 34 साल का शंकर वेल्स फार्गो नाम की कंपनी में वाइस प्रेसिडेंट के तौर पर काम कर रहा था। इस घटना के बाद कंपनी ने बयान जारी करते हुए कहा कि ये हरकत बेहद शर्मनाक है। एयर इंडिया की फ्लाइट में महिला सहयात्री के साथ बदसलूकी करने पर शंकर मिश्रा को उसकी कंपनी ने नौकरी से बाहर कर दिया है।

Read More-पांच दिन पांच घटनाएं, क्यों देश की बेटियां निशाने पर

एयर इंडिया की फ्लाइट में नशे में धुत्त होकर महिला पर पेशाब करने वाला शंकर मिश्रा को दिल्ली पुलिस ने बेंगलुरु से गिरफ्तार कर लिया है। मिश्रा की गिरफ्तारी कल रात हुई है, जिसे बेंगलुरु से दिल्ली लाया जा चुका है। वहीं, आज उसे कोर्ट के सामने पेश किया जाएगा। दरअसल, पिछले साल 26 नवंबर को एयर इंडिया की फ्लाइट न्यूयॉर्क से दिल्ली आ रही थी। इस दौरान बिजनेस क्लास में सफर कर रहे शंकर मिश्रा ने नशे में धुत्त होकर 70 साल की महिला पर पेशाब कर दिया था। आपको बताए महिला द्वारा शिकायत मिलने के बाद शख्स के खिलाफ आईपीसी की धारा 354, 294, 509, 510 मामलें के तहत केस दर्ज हुआ था।

वहीं दूसरी ओर, एयर इंडिया के विमानों में इन घटनाओं पर अब दिल्ली महिला आयोग ने भी कड़ा रुख दिखाया है। आयोग ने एयर इंडिया की दो उड़ानों में महिला यात्रियों के कथित उत्पीड़न और दुर्व्यवहार के इन मामलों पर शुक्रवार को दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी किया है। इन घटनाओं को बेहद परेशान करने वाला और गंभीर बताते हुए आयोग ने इन मामलों में दर्ज प्राथमिकियों और गिरफ्तारियों की प्रतियां मांगी हैं।

आयोग ने इस मामले में लापरवाही के लिए एयरलाइन के खिलाफ की गई कार्रवाई पर भी 10 जनवरी तक रिपोर्ट मांगी है। आपको बता दें कि दिल्ली पुलिस ने न्यूयॉर्क से दिल्ली आ रहे एयर इंडिया के एक विमान में सहयात्री पर पेशाब करने वाले यात्री को पकड़ने के लिए बुधवार को प्राथमिकी दर्ज की और कई टीमों का गठन किया था।

वही दूसरी ओर नागरिक उड्डयन महानिदेशालय ने भी एयर इंडिया के अधिकारियों और न्यू यॉर्क – दिल्ली उड़ान के केबिन क्रू को कारण बताओ नोटिस जारी कर पूछा है कि 26 नवंबर 2022 की उड़ान को संभालने के दौरान ड्यूटी में लापरवाही के लिए उनके खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं की जाए? वहीं अमेरिका की वित्तीय सेवा कंपनी वेल्स फ़ार्गो ने भारत में अपनी इकाई के उपाध्यक्ष शंकर मिश्रा को शुक्रवार (6 जनवरी) को बर्खास्त कर दिया है।

आपको बता दें कि ऐसा ही एक मामला बीते 16 दिसंबर का है, जब इंडिगो की फ्लाइट 6E-12 दिल्ली से इस्तांबुल के लिए जा रही थी। इसी दौरान फ्लाइट में सफर कर रहे एक यात्री की एयर होस्टेस से तीखी बहस हो गई। वीडियो में दिख रहा है कि क्रू मेंबर सदस्य फ्लाइट में फूड परोस रही थी। तभी एक यात्री उससे बहस करने लगा। एयरहोस्टज ने यात्री को समझाने की कोशिश की लेकिन उसने बहस करना जारी रखा। उसने एयर होस्टेस से चिल्लाते हुए कहा, ‘चुप रहो’।

Read more- फिलहाल हल्द्वानी में नहीं चलेगा बुलडोजर, सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

इसके बाद एयर होस्टेस ने जवाब देते हुए कहा,’आप चिल्ला क्यों रहे हैं।’ इस बीच एक अन्य एयर होस्टेस बीच बचाव करने आई। उसने आदर से यात्री को समझाने की कोशिश की लेकिन तभी यात्री ने एयर होस्टेस को नौकर कह दिया। इससे बात और बिगड़ गई और एयर होस्टेस ने जवाब दिया ‘मैं कर्मचारी हूं आपकी नौकर नहीं।’

आखिर हवाई यात्रीयों के साथ ऐसा क्यों हो रहा है। हाल ही में एयर इंडिया में दो ऐसी घटनाऐं हो चुकी है। क्या निजिकरण का य़हीं परिणाम है कि यात्रीयों के साथ दुर्व्यवहार हो। ऐसे में एयर इंडिया इंडिगो या तमाम ऐसे फ्लाइट ऐसे आसमाजिक तत्वों पर ऐसें कदम उठाऐं जो भविष्य में एक उदाहरण बन सके।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button