लाइफस्टाइल

जानें महिलाओं को लिए क्यों जरुरी है फेसब्यूटी के साथ-साथ प्राइवेट पार्ट का हाइजीन होना

पीरियड के वक्त सफाई का रखें खास ध्यान


महिलाएं अपनी ब्यूटी के लिए तरह-तरह के ब्यूटी प्रोडक्ट् का इस्तेमाल करती है। अक्सर महिलाएं अपने चेहरे की सफाई के लिए तरह-तरह के घरेलू नुस्खों का इस्तेमाल करती है। ताकि और खूबसूरत दिखे। इतना ही नहीं महिलाएं बात भी करती हैं तो एक बार ब्यूटी टिप्स पर चर्चा जरुर करती हैं। लेकिन आज भी जब हमलोग 21 वीं सदीं पहुंच गए हैं। हम आपस में प्राइवेट पार्ट की हाइजीन या फिर उससे संबंधित बीमारियों के बारे में खुलकर बात नहीं करते हैं। हमें कैसे इस हाइजीन रखना है। इसके लिए क्या जरुरी है। हमें क्या करना चाहिए और क्या नहीं। इस पर चर्चा बहुत कम होती है। तो चलिए आज आपको बताएंगे कैसे रखें अपने प्राइवेट पार्ट को हाइजीन रखें।

1-     महिलाओं को पीरियड के वक्त लंबे समय तक सैनिटरी पैड, लाइनर या टैम्पून का इस्तेमाल नहीं करना चाहिए। इसे हर छह घंटे में बदल लेना चाहिए। कई महिलाएं इस बात का ध्यान नहीं रखती हैं और पूरे दिन एक ही पैड का इस्तेमाल करती है। इससे प्राइवेट पार्ट में जलन, संक्रमण व खुजली की समस्या हो सकती है।

2-     समय-समय पर प्यूबिक हेयर (प्राइवेट पार्ट के बाल) की सफाई करनी चाहिए। ऐसा न करने से बैक्टीरियल इंफेक्शन होने की संभावना बनी रहती है। साफ करते वक्त कुछ बातों को जरुर ध्यान रखें। जैसे अगर आप शेवर से प्यूबिक को हटा रही हैं तो पहले ये चेक कर लें कि वह किसी और का इस्तेमाल किया हुआ न  हो और नया हो। अगर आप हेयर रीमूव्ल क्रीम का इस्तेमाल करती है तो इस्तेमाल करने से पहले उसकी एक्सपायरी डेट जरुर चेक कर लें और बिकनी वैक्स करवाते वक्त पॉर्लर में बेसिक हाइजीन का जरुर ध्यान दें।

और पढ़ें: जानें ब्रेन एक्सरसाइज के बारे में, जो आपके दिमाग को बनाती हैं हेल्दी और एक्टिव

 

3-     जब भी यूरिन(टायलेट) करें तो इसके बाद प्राइवेट पार्ट को धोना न भूलें। क्योंकि कई बार आप बाहर किसी बाथरुम का इस्तेमाल करती हैं तो यहां से इंफेक्शन होने का डर बना रहता है। इसलिए धोने की आदत को  बनाए रखें। जिससे बाद में आपको परेशानी न हो।

4-     टायलट करने से पहले फ्लश करने की आदत डालें। अक्सर यह देखने को मिलता है कि पब्लिक टायलेट में इंग्लिश सीट पर यूरिन की कुछ बूंदे पड़ी रहती है। इससे इंफेक्शन का डर बना रहता है। इसलिए जरुरी है जब भी यूरिन के लिए इंग्लिश या इंडियन सीट का इस्तेमाल करें तो पहले फ्लश का इस्तेमाल जरुर करें।

5-     पीरियड के दौरान इस्तेमाल होने वाली बेडसीट को ठीक होने के तुरंत  बाद ही धो दें। इसके साथ ही पीरियड्स के लिए अलग पैंटी की इस्तेमाल करें। इसे रेगुलर यूज न करें और पीरियड्स  खत्म होने के बाद इसे डिटॉल से धोएं।

6-     सेक्स करने के तुरंत बाद टायलेट करें। अगर आपको बेबी कंसीव नहीं करना है तो प्राइवेट पार्ट को अच्छे तरह से धोएं। ताकि स्पर्म बाहर निकल जाए। ताकि जमे हुए स्पर्म से किसी तरह का इंफेक्शन न हो।

7-     वैजाइना के आसपास के हिस्से को साबुन से कभी न धोएं क्योंकि ऐसा करने से स्किन को प्रोटेक्ट करने वाले कीटाणु खत्म हो जाते हैं। जिससे आपकी स्किन इंफेक्टेट हो सकती है।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।