Categories
लाइफस्टाइल

ऑफिस में डेस्क पर काम करते हुए ये 5 आदतें जो आपकी सेहत पर डालती है गलत असर

ये 5 आदतें जो डेस्क जॉब वर्कर्स के लिए है हानिकारक


 

आज के समय में ज्यादातर लोग डेस्क की जॉब ही करते हैं. बाकि जॉब्स के मुकाबले डेस्क जॉब करने वालों की तादाद बहुत ज़्यादा हो गयी है. डेस्क जॉब करने वालों को बाकी लोगों के मुकाबले कई तरह की हेल्थ प्रॉब्लम्स का रिस्क हमेशा बना रहता है. इसका सबसे बड़ा कारण है कई घंटों तक लगातर बैठकर काम करना.  जिसके कारण लोगों को मोटापा, हृदय-संबंधी और हड्डियों संबंधित बीमारियां होने लगती है. हालांकि इन बीमारियों के लिए वो खुद भी कहीं ना कहीं ज़िम्मेदार हैं. आज के समय में इन लोगों ने कुछ ऐसी आदतें बना ली हैं जो इनके शरीर के लिए बिल्कुल भी ठीक नहीं हैं.  तो चलिए आज हम आपको ऐसी ही कुछ गलत आदतों के बारे में बताने जा रहे है जिन्हें डेस्क जॉब वर्कर्स को तुरंत छोड़ देना चाहिए.

 

कमर और पीठ को सीधा ना रखना: आपने देखा होगा कि बहुत कम लोग होते है जो ऑफिस में काम करते समय अपने बैठने के ढंग का ध्यान रखते हैं.  ऑफिस में ही नहीं बल्कि बाकी समय पर भी अपने बैठने के तरीके को हमे सही रखना चाहिए. क्योकि ऐसा न करने से हमारी रीढ़ की हड्डी पर काफी ज्यादा प्रेशर पड़ता है. जिसके कारण हमारी पीठ और कमर में लगातार दर्द बना रहता है.

 

और पढ़ें: Overthinking आपके लिए हो सकती है घातक, स्वास्थ्य पर पड़ सकता है बुरा असर

 

 

अपने बैठने के हिसाब से चेयर अडजस्ट ना करना: आपने देखा होगा कि ज्यादातर ऑफिसों में जो कुर्सियां होती हैं वो अडजस्टेबल होती है.  जिन्हे लोग अपने अनुसार इस्तेमाल कर सकते है.  लेकिन फिर भी लोग इसका सही से इस्तेमाल नहीं करते हैं. ऑफिस चेयर्स की सबसे बड़ी खासियत यही होती है कि इनके आर्म-रेस्ट से लेकर बैक-रेस्ट और सीट तक सब कुछ आप अपने हिसाब से अडजस्ट कर सकते है.

 

कंप्यूटर को आई लेवल पर ना रखना: आज के बदलते समय में ज्यादातर डेस्क जॉब्स में काम या तो कंप्यूटर में या फिर लैपटॉप पर ही होता है. ऐसे में जरूरी है कि आप अपनी कंप्यूटर स्क्रीन को आई लेवल पर रखें. क्या आपको पता है कंप्यूटर स्क्रीन को आंखों से बहुत ज़्यादा नीचे या बहुत ज़्यादा ऊपर रखने से आपकी गर्दन और कंधों पर बहुत ज़्यादा ज़ोर पड़ता है. इसलिए आपको अपने कंप्यूटर स्क्रीन को अपने आई लेवल पर रखना चाहिए.

 

लम्बे समय तक ब्रेक ना लेना: डेस्क जॉब करने वाले लोगों की सबसे बड़ी परेशानी यही है कि वो बीच बीच में ब्रेक नहीं लेते. लेकिन बीच बीच में ब्रेक लेना बेहद जरूरी होता है जो भी लोग डेस्क जॉब करते है उन्हें हर 1 घंटा के बार बाद हमेशा 5 मिनट का ब्रेक जरूर लेना चाहिए.  हो सके तो आपको अपनी जगह से उठकर थोड़ा वॉक करना चाहिए, थोड़ा स्ट्रेच करना चाहिए या फिर काम के अलावा दूसरी किसी चीज़ के बारे में सोचना चाहिए. इससे आपके दिमाग को थोड़ा रिलैक्स मिलेगा

 

इयरफोन्स का इस्तेमाल ना करना: अगर आज हम आपको ये बोले की इयरफोन्स का इस्तेमाल करे, तो ये बात शायद  आपको हजम न हो क्योंकि अपने भी इयरफोन्स के लिए अपने घरवालों से ताने सुनने होंगे. जो कि सही भी है क्योंकि लंबे समय तक इयरफोन्स का इस्तेमाल वाकई में काफी नुकसानदायक है. लेकिन अगर आपका काम ऐसा है जिसमें आपको अपने वर्कप्लेस पर अक्सर फोन पर बात करनी होती है तो आपको इयरफोन्स का इस्तेमाल जरूर करना चाहिए क्योंकि अगर आप लम्बे समय तक कान और गर्दन के बीच फ़ोन दबा कर काम करते है तो इसका असर आपके शरीर पर भी पड़ता है और आपको कई सारी शारीरिक परेशानियां भी झेलनी पड़ सकती हैं.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

जानें 5 ब्रेन एक्सरसाइज के बारे में, जो बनाते है आपके दिमाग को हेल्दी और एक्टिव

जानें दिमाग को हेल्दी और एक्टिव रखने वाले 5 ब्रेन एक्सरसाइज के बारे में


 

एक्सरसाइज हमारे लिए कितना जरूरी है ये शायद हमें आपको बताने की जरूरत नहीं है एक्सरसाइज हमारे स्वास्थ्य के लिए के बेहद जरूरी एक्टिविटी में से एक है.  भले ही आज के समय पर लोग इस पर ध्यान नहीं देते हैं.  लेकिन इस पर जितना जोर दिया जाए उतना ही कम है. शरीर को लंबे समय तक हेल्दी रखने के लिए एक्सरसाइज बेहद फायदेमंद होता है. एक्सरसाइज न सिर्फ आपको आज एक्टिव और स्वस्थ रखेगा बल्कि ये आपको आने वाले समय में भी आपकी हड्डियों और मसल्स को एक्टिव रखेगा. आज हम आपको ब्रेन एक्सरसाइज के बारे में बतायेगे. ब्रेन हमारे शरीर के महत्वपूर्ण अंगों में से एक है. इसे स्वस्थ रहने और बेहतर रूप से काम करने के लिए आपके शरीर के बाकी हिस्सों की तरह ही एक्सरसाइज, अटेंशन और सिमुलेशन की आवश्यकता होती है.  तो चलिए आज हम आपको उन एक्सरसाइज के बारे में बताएंगे जो आपके दिमाग को हेल्दी और एक्टिव रखते हैं.

 

नई लैंग्वेज सीखें: नई लैंग्वेज सीखना ना केवल आपकी पर्सनैलिटी के लिए अच्छा है बल्कि ये आपके ब्रेन के लिए भी बेहद  फायदेमंद होता है.इससे आपकी मेमोरी बेहतर होती है और आपकी क्रिएटिविटी बढ़ती है इतना ही नहीं विजुअल स्पेशियल स्किल्स जैसे कॉग्निटिव फंक्शन में सुधार होता है. इसलिए अपने ब्रेन एक्सरसाइज के लिए आपको नई-नई लैंग्वेज सीखनी चाहिए.

 

और पढ़ें: ठंड में घर की रसोई में पाएं जाने वाले सामान से करें अपनी इम्यूनिटी स्ट्रॉग

संगीत सुनें: जब भी आप फ्री हो या गाड़ी चला रहे हों, तो आप अच्छा संगीत सुन सकते हैं. एक रिसर्च के अनुसार हैप्पी सॉन्ग्स  सुनने से रचनात्मक सोच में सुधार हो सकता है.  इतना ही नहीं हैप्पी सॉन्ग्स सुनने से दिमाग के फंक्शन करने की क्षमता बेहतर हो सकती है साथ ही साथ नए सॉल्यूशन निकालने में मदद मिल सकती है.

 

दुसरो को सिखाएं: ये बात तो आप बचपन से ही सुनते आ रहे होंगे कि अपनी लर्निंग को बढ़ाने का सबसे अच्छा तरीका है कि आप किसी दूसरे व्यक्ति को कोई नई स्किल सिखाएं.. जो फिर जो भी चीजे आपको आती है वो दूसरे व्यक्ति को भी सिखाएं. क्योंकि कुछ भी नया सिखने के बाद आपको उसका अभ्यास करने की जरूरत होती है. जब आप अपनी सीखी हुई चीज को किसी और को सिखाते है तो आप पूरे कॉन्सेप्ट को रिपीट करते हैं जिससे आप इसे और बेहतर तरीके से सीख पाते हैं.

नए नए रास्तों से गुजरे: जब भी आपके सामने डेली टास्क करने की बात आती है तो आपको चीजें रिपीट करने के बजाय, अलग तरीकों से करना चाहिए. अगर आप ऑफिस जाते है तो आपको हर सप्ताह ऑफिस जाने के लिए एक अलग रास्ता चुना चाहिए. इससे आपके दिमाग को काफी फायदा मिलता है.

मेडिटेशन करें: मेडिटेशन हमारे लिए बेहद जरूरी होती है. हर रोज मेडिटेशन करने से हमारा दिमाग शांत रहता है
और ब्रीदिंग स्लो होती है इतना ही नहीं ये  तनाव व चिंता को कम करने में हमारी मदद करता है.

 

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

जानें आप कैसे बन सकते है एक अच्छे लीडर, साथ ही  एक अच्छे लीडर की 5 विशेषताएं

जानें एक अच्छे लीडर की कुछ खास विशेषताएं


क्या आपको पता है एक अच्छा लीडर कौन होता है और उसमें क्या क्या लीडरशिप स्किल होनी चाहिए. एक अच्छा लीडर बनने के लिए सबसे पहले व्यक्ति को एक अच्छा इंसान बनना चाहिए. व्यक्ति को सबसे पहले अपने दिमाग को एक लीडर के दिमाग की तरह बनाना होता है फिर उसके बाद अपने तौर तरीको को बदलना होता है, एक कुशल और सफल लीडर बने के लिए आज हम आपको कुछ टिप्स देने जा रहे है हो सकता है कि इनमे से कुछ तो आप पहले से जानते होंगे किन्तु कुछ टिप्स पर आपको काम करने की आवश्यकता हो, तो चलिए जानते है एक अच्छे लीडर की कुछ अच्छी विशेषताएं

1. लचीलापन: एक अच्छा लीडर बने के लिए फ्लेक्सिबिलिटी बहुत ज्यादा जरूरी है. क्योंकि अगर आप एक अच्छे लीडर और एक अच्छे इंसान बनना चाहते है तो आपको लोगों के साथ नरमाई रखनी होगी..और सभी लोगों के साथ टाइम बिताना होगा. जिसे लोग आपसे डरे न बल्कि दिल से आपका सम्मान करें. आपको अपनी टीम से काम या फिर अपना गोले पूरा करना चाहिए या की टाइम. अगर आप अपनी टीम के साथ फ्लेक्सिबिलिटी दिखाते हैं उनके बुरे समय में उनको सपोर्ट करते है तो वो भी हर कदम पर आपका साथ देंगे.

और पढ़ें: Overthinking आपके लिए हो सकती है घातक, स्वास्थ्य पर पड़ सकता है बुरा असर

2. क्रिएटिविटी: रोज कुछ नई बाते करें, रोज कुछ नया करने की कोशिश करे. किसी भी काम को करने के लिए कछ अलग तरह से सोचे. एक काम को करने के बहुत सारे तरीके होते हैं. एक अच्छे लीडर के नाते आप अपने तरीके से काम को कर सकते है जिसे काम जल्दी और अच्छी तरीके से हो जाए. शुरू शुरू में आपको थोड़ी परेशानियों का सामना करना पड़ेगा लेकिन कुछ समय बाद आपको आदत बन जायेगी.

3. प्रतिनिधि: एक अच्छे लीडर की खास बात ये होती है कि जब वो किसी काम को करता है तो उस समय वो किसी दूसरे काम को नहीं कर रहा होता और अपना सारा समय उस काम में लगा देता है और अपने काम के प्रति समर्पित हो जाता है.  उस काम का पूरी तरह से प्रतिनिध्त्वि करता है.

4. आत्मविश्वास: आत्मविश्वास एक अच्छे लीडर की खास पहचान है और एक अच्छा निचोड़ भी है. अगर आप एक लीडर है और अपने अंदर आत्मविश्वास की कमी है तो आप एक अच्छे लीडर नहीं बन सकते क्योंकि अगर आपके अंदर ही कॉन्फिडेंस नहीं होगा तो आप अपनी टीम को कैसे मोटिवेट करेंगे. आपका सेल्फ कॉन्फिडेंस, आपका आत्मविश्वास बढ़ाता है.

5. कमिटमेंट: अगर आप एक लीडर है और आपने अपनी टीम से कोई वादा किया है तो आपको उससे पूरा करना चाहिए फिर चाहे आपको उससे फायदा हो या नुकसान. अन्यथा आपको किसी से कोई वादा नहीं करना चाहिए. क्योंकि अपनी बात पर न रहना, उनको पूरा न करना लोगों के बीच आपकी छवि ख़राब कर सकती है. इसलिए अपनी लीडरशिप को इम्प्रूव करने के लिए कमिटमेंट बेहद जरूरी है.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
राशिफल

साप्ताहिक राशिफल: 8th November – 14 th November

साप्ताहिक राशिफल: 8th November – 14th November


मेष: यह सप्ताह आपको किसी अनिष्टकारी कारण या स्व-निर्मित कारणों में पीड़ा का अहसास कराएगा. जीवनसाथी के साथ आपका व्यवहार अप्रिय हो सकता है. आप अपनी शक्ति और साहस को गलत जगह दिखाने की कोशिश करेंगे.  इससे आपकी शांति भंग हो सकती है. कई विचार एक-दूसरे के साथ संघर्ष करते रहेंगे. अपने स्वभाव को शांत रखने की कोशिश करें. आपमें से कुछ लोग इस अवधि में नए रिश्तों में शामिल हो सकते हैं.

वृष: इस सप्ताह आपके बेचैन मन के साथ आपका आक्रामक कदम आपको गुमराह कर सकता है. आप अपनी लिस्ट में दुश्मनों पर जोड़ सकते हैं.  इस अवधि में आपके गंतव्य तक पहुंचने के आपके प्रयास और अधिक होंगे. आपके दिन-प्रतिदिन के जीवन में वैवाहिक सुख गायब है. छात्रों को ध्यान केंद्रित करना बहुत आसान नहीं लगता. इस सप्ताह वित्तीय पहलू अच्छा लग रहा है.

मिथुन: इस सप्ताह आपका ध्यान अपने बच्चों की ओर रहेगा। यहां तक की आपकी रचनात्मकता आपके प्रियजनों बीच सामने आ सकती है.  जीवन के बारे में आपका विश्वास बहुत अपरंपरागत होगा.  विरोधियों ने समझौता करने और अपने आसपास की स्थिति को शांत करने के लिए अपना हाथ बढ़ाए. जीवन का पेशेवर पहलू सहायक होगा.  आपके हर कदम की प्रशंसा या सम्मान होने वाला है.

कर्क: आपके लिए मूर्खतापूर्ण बातों के बारे में बहुत अधिक सोचना और उसे ध्यान में रखना और दिल लगाना इस अवधि में अपेक्षित हो सकता है.  अपने आसपास की स्थिति को सकारात्मक बनाए रखने के लिए अतिरिक्त प्रयासों की आवश्यकता होती है.  किसी भी स्थिति के प्रति आपकी बहुत अच्छी तरह से संतुलित प्रतिक्रिया निश्चित रूप से सम्मानित होने वाली है लेकिन धीमी गति से अपने धैर्य को बनाए रखें. इस अवधि में आपके कार्यस्थल का बहुत आनंद नहीं होगा।

सिंह: इस सप्ताह आपको लक्ष्य प्राप्ति के लिए अपना प्रयास जारी रखने की आवश्यकता है और आप अपने कर्तव्य को सही ठहराने जा रहे हैं.  सरासर मेहनत के साथ, आप बाधाओं को पार करेंगे. माता-पिता के समर्थन की कमी के बावजूद, आप बाधाओं को पूरे दिल से पारित करने के लिए प्रयास कर सकते हैं. यदि आप उस क्षेत्र से संबंधित हैं जहां आपको बैकएंड से काम करना है, तो आप निश्चित रूप से एक गो-रक्षक बनने जा रहे हैं.

कन्या: इस सप्ताह आपका जीवन एक कारण से परिवार के इर्द-गिर्द रहेगा. उसी समय, अनिच्छा और एक विनम्र दृष्टिकोण दूसरों को आपके चरित्र के बारे में भ्रमित रखेगा. आपके लोगों के बीच आपकी छवि अपेक्षा के अनुरूप नहीं होगी. साथी का कठोर व्यवहार आपको शर्मनाक जगह पर डाल सकता है.  यात्रा फलदायी नहीं होगी. फिलहाल किसी भी कारोबारी यात्रा में देरी करें.

तुला: इस सप्ताह आपका लंबे समय के बाद पुराने साथियों से मिलना या प्रभावशाली लोगों से मिलना आपको अपने प्रियजनों के साथ अत्यधिक रवैये की समस्या दे सकता है.  किसी कानूनी मुद्दे के निर्णय आपके समर्थन में जाएंगे। आपमें से कुछ को वैवाहिक जीवन में विवादों का सामना करना पड़ सकता है. आप अपने अधिकांश उपक्रमों में दबाव महसूस करेंगे. इस अवधि में आपके लिए संबंध बनाए रखने की तुलना में अहंकार का आकार बड़ा दिखता है.

वृश्चिक: इस सप्ताह आपका मन बहुआयामी तरीके से काम करेगा. आप अपने बच्चों के साथ बेहद कठोर और आज्ञाकारी हो सकते हैं. साझेदारों द्वारा सांसारिक सुख का अनुभव होगा। लेकिन पार्टनर से खुशी का एक हिस्सा गायब हो सकता है. आप व्यवसाय या किसी नए उद्यम में अपना हाथ आजमा सकते हैं. किसी भी मामले में, आप इस अवधि में पैसा खर्च करने जा रहे हैं. एक मध्यम अवधि आपके पास आ रही है।

धनु: इस सप्ताह की शुरुआत में, आप अपनी जीवन यात्रा के बारे में महसूस कर सकते हैं, और उसी के बारे में आपका मूल्यांकन आपको एकांत में ले जा सकता है. अपनी माँ को खुश रखने का आपका असफल प्रयास शायद एक और विनाशकारी चीज़ है जिसकी इस अवधि में उम्मीद की जा सकती है. संक्षेप में, खुशी टॉस में है. कई वित्तीय लाभों के बिना स्थिति या शक्ति के बढ़ने की संभावना की उम्मीद की जा सकती है।

मकर: आपके पास अपनी योजना और उसी के निष्पादन की स्पष्टता है. लेकिन बिना ज्यादा सोचे-समझे उठाए गए कदम आपको गलत जगह ले जा सकते हैं. कोई भी बड़ा निर्णय लेने के लिए कुछ हफ़्ते का इंतज़ार करें. आपके काम और प्रयासों को स्वीकार किया जाएगा, लेकिन बाधाओं और देरी के बिना नहीं.  अपने किसी दोस्त या सहकर्मी पर भरोसा न करें. आशा और उम्मीद के साथ एक सप्ताह आपके दरवाजे पर दस्तक दे रहा है.

कुंभ: परिस्थितियाँ आपको उस स्थिति या कदम का सामना करने के लिए प्रेरित करेंगी जो इसे बहादुरी से सामना करने के लिए किया गया है. मालेफ़िक ग्रह आपके समय को आगे बढ़ाएंगे या तो कुछ हफ़्ते की देरी से पहले अपनी कार्रवाई की योजना बनाएं या उसे निष्पादित करें. परेशानियों का यह दौर आपके लिए एक सबक के रूप में लिया जाना चाहिए.  इस सप्ताह आपकी मुख्य चिंता धन की रहेगी।

मीन: आपका निराशावाद और स्वभाव आपके व्यक्तित्व को प्रियजनों के बीच एकांत व्यक्ति के रूप में रखेगा. आपकी चिंता आपके बच्चे या उच्च अध्ययन के लिए हो सकती है.  आप अपने उद्यम के लिए अपने लोगों के समर्थन की कमी महसूस कर सकते हैं. जीवन का वित्तीय क्षेत्र इस अवधि में काफी अच्छा लग रहा है. इस अवधि में परिवार की आंतरिक खुशी देखी जा सकती है.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

अगर प्रोफेशनल लाइफ के कारण आ रहा पर्सनल लाइफ में तनाव, तो ट्राई करें ये टिप्स

जाने कैसे करें पर्सनल और प्रोफेशनल लाइफ को बैलेंस


किसी के लिए भी हर दिन एक जैसा नहीं होता. फिर चाहिए वो कोई भी हो, एक कपल के लिए भी हर दिन एक जैसा नहीं होता. उनकी जिंदगी में भी कभी प्यार, कभी गम, कभी मौसम का बदलाव तो कभी ऑफिस का स्ट्रेस लगा ही रहता है. ऐसे में आपके पार्टनर का मूड ऑफ हो जाना एक आम बात है. ऑफिस में काम के दौरान अक्सर लोगों में तनाव हो जाता है, यह एक काफी सामान्य बात है. बस आपको ध्यान ये रखना चाहिए कि कही ये तनाव आप दोनों के रिश्ते को न खराब कर दे. तो चलिए आज हम आपको बतायेंगे की कैसे आप अपने प्रोफेशनल लाइफ और पर्सनल लाइफ को एक साथ बैलेंस कर सकते है.

तनाव के कारण को समझें: अगर आपके अपने पार्टनर के साथ रिश्ते में तनाव आ रहा है. तो सबसे पहले आपको ये समझने की जरूरत है कि तनाव आ क्यों रहा है. इसका मुख्य कारण क्या है. हमेशा वर्कप्लेस पर तनाव होने का कारण ऑफिस का स्ट्रेस नहीं होता. कई बार इस तनाव का कारण फैमिली प्रॉब्लम, सहयोगियों द्वारा परेशान करना, या फिर कोई और कारण भी हो सकता है.

और पढ़ें: Overthinking आपके लिए हो सकती है घातक, स्वास्थ्य पर पड़ सकता है बुरा असर

टू-डू लिस्ट बनाएं: अगर आपको तनाव वर्कप्लेस स्ट्रेस के कारण हो रहा है. तो सबसे पहले आपको अपनी टू-डू लिस्ट बनानी चाहिए. ये आपके वर्कप्लेस पर आपके वर्क स्ट्रेस को मैनेजमेंट करने में अपनी मदद करेगी. किसी भी काम को करने के लिए सबसे पहले टू-डू लिस्ट बनाएं. जिसमें आप आज ही करने वाले टास्क, जल्दी खत्म करने वाले टास्क, पेंडिग टास्क, और वो टास्क जिनको आप आराम से कर सकते है उनको शामिल कर सकते है.

परफेक्शन की उम्मीद ना करें: अगर आप तनाव मुक्त रहना चाहते है. तो सबसे पहले अपने दिमाग से ये बात निकल दे कि आप अपने काम में परफेक्शन नहीं ला पा रही हैं, क्योंकि कोई भी व्यक्ति परफेक्ट नहीं होता. इसलिए आपको परफेक्ट नहीं बल्कि अपना बेस्ट करना चाहिए. इसलिए कभी भी परफेक्शन की उम्मीद ना करें.

काम के बीचबीच में ब्रेक लें: अगर आप लगातार काम करते है तो इससे आपकी एनर्जी खत्म हो जाती है. इसलिए आपको अपने काम के बीच- बीच में ब्रेक लेना चाहिए. क्योंकि ये आपकी एनर्जी को रीफ़िल करता है. इसलिए काम के दौरान आपको 5 से 10 मिनट का ब्रेक जरूर लेना चाहिए.

ऑफिस के बाद काम ना करें: आपने देखा होगा कि बहुत से लोग ऑफिस के बाद भी ऑफिस की कॉल अटेंड करते रहते है, या लैपटॉप लेकर क्लाइंट्स की प्रॉब्लम सॉल्व कर रहे होते है. इससे क्लाइंट्स की प्रॉब्लम तो सॉल्व हो जाती है. लेकिन आपके अपने पार्टनर के साथ रिश्ते खराब होने लगते है. इस लिए कोशिश करें कि आप ऑफिस के बाद ऑफिस का काम न करें.

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

Relationship tips: क्या रिलेशनशिप में कड़वाहट आने का कारण पार्टनर से उम्मीद करना है ?

एक रिलेशनशिप में सबसे ज्यादा जरुरी क्या होता है?


किसी भी रिश्ते की शुरुआत प्यार से होती है। रिश्ते में प्यार होना एक  नार्मल बात है। लेकिन किसी भी रिलेशनशिप में प्यार के साथ- साथ भरोसा और इज्जत होना बहुत जरुरी है। रिलेशनशिप में आप अपने पार्टनर से हद से ज्यादा प्यार करते है, उसे हमेशा खुश रखने की कोशिश करते है। लेकिन क्या आपको पता है प्यार करना जितना आसान है उतना ही मुश्किल अपने रिश्ते को बनाये रखना है?

कई बार हमारी भावनाओं, व्यवहार और सपनों के कारण रिश्ते में खटास आ जाती है। किसी भी रिलेशनशिप में परेशानी तब आने लगती है जब हम अपने पार्टनर से उम्मीद करने लगते है। रिलेशनशिप में आपकी अपने पार्टनर से जितनी उम्मीद बढ़ेगी परेशानी भी उतनी ही बढ़ेगी। इसलिए हमें कभी भी अपने पार्टनर से इस बात की उम्मीद नहीं करनी चाहिए कि जैसे हम उसके साथ व्यवहार कर है, वो भी हमारे साथ वैसा ही व्यवहार करें। माना कि एक रिश्ते में उम्मीदों का होना आम बात है। लेकिन ज्यादा उम्मीद करना भी रिश्तों में कड़वाहट पैदा करने लगती है।

समझदारी के साथ अपने पार्टनर की बात समझना

कई बार आपके पार्टनर का प्यार करने का तरीका अलग हो सकता है, लेकिन इसका मतलब ये नहीं की वो आपको प्यार नहीं करता या सिर्फ आप ही उससे प्यार करते है। ऐसे में आपको अपने पार्टनर को समझने और अपने व्यवहार में बदलाव करने की जरूरत होती है। अगर आप दोनों अपनी समझदारी से अपने रिलेशन को आगे बढ़ाएंगे तो उसमे बे वजह की उम्मीद नहीं रहेगी।

और पढ़ें: क्यों जरूरी है बच्चों को सेक्स एजुकेशन देना, ऐसे करें अपने टीनएज बच्चे को सेक्स एजुकेशन से अवेयर

आप दोनों को रिश्ते से क्या चाहिए

फालतू की बातें करने या पार्टनर से बहुत ज्यादा उम्मीद रखने से रिस्ते में कड़वाहट पैदा होने लगती है। इससे अच्छा है बेकार के चीजों में उलझकर रिश्ते को खराब होने से बचाया जाये और एक दूसरे को समझने की कोशिश की जाये। ये आप दोनों के लिए बेहतर होगा की वो समझे की उन दोनों को इस रिश्ते से क्या चाहिए।

उम्मीदों को थोड़ा कम करे

सभी लोगों को अपनी उम्मीदों को हमेशा हकीकत से बैलेंस कर के रखना चाहिए। किसी भी व्यक्ति को अपनी जिंदगी में खुशियां लाने के लिए अपनी उम्मीदों को थोड़ा कम करना चाहिए। साथ ही किसी से भी कुछ भी उम्मीद करने से पहले उसको समझना चाहिए कि क्या वो आपके उम्मीद के लायक है। साथ ही आपको उसकी परिस्थिति को भी समझना चाहिए। इससे आपका रिश्ता मजबूत होगा।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

अपने सपनों के घर का कुछ इस तरह करें डेकोर, घर से आएगी पॉजिटिविटी

घर को डेकोर करने के बेस्ट 5 टिप्स


घर वो जगह है जहा न सिर्फ आपके परिवार वाले रहते है बल्कि वहा आपका दिल, दिमाग, सपने और सोल सभी चीजे होती है। घर वो जगह होती है जहा आप दुनिया भर की टेंशन भूल कर आराम से पॉजिटिव वाइब्स के साथ रहते है। हजारों चीजों की टेंशन होने के बाद भी आपको वहा पर एक अलग तरह का सुकून मिलता है। इसलिए आपको अपने घर को अच्छी तहर साफ सूत्र रखना चाहिए जिससे घर पर पॉजिटिव वाइब्स आऐ। तो चलिए आज हम आपको बताते है घर को डेकोर करने के तरीके जिसे घर पर पॉजिटिविटी आएगी।

मिरर: आप अपने घर के डेकोरेशन में मिरर का इस्तमाल कर सकते है अगर आप अपने घर पर मिरर को सही जगह पर लागते है तो इससे घर पर स्पेस अधिक दिखता है। साथ ही मिरर वॉल डेकोरेशन के फोकल पॉइंट के तौर पर भी काम करता है। इतना ही नहीं मिरर घर पर लाइट को बढ़ाने में मदद करता है। जिसे आपका मूड अच्छा रहता है और आपको पॉजिटिविटी आती है।

और पढ़ें: One month shaadi challenge: अच्छे फिगर के लिए अपनी डाइट में शामिल करें ये चीजें

लाइब्रेरी: आज कल लोगो की लाइफ इतनी भाग दौड़ भरी हो गए है कि उनके पास खुद के लिए भी समय नहीं होता। जिसके कारण वो बहार से घर की डेकोरेशन के लिए कुछ नहीं ला पाते। लेकिन बुक ऐसी चीज होती है जो सभी लोगों के घर पर आसानी से मिल जाती है और ज्यादा तर लोगों को बुक पड़ना भी पसंद होता है जिसके कारण वो अपने घर पर तरह तरह की बुक रखते है। आप चाहो तो उन बुक्स को डेकोरेशन में भी यूज़ कर सकते हो। आप अपने घर पर एक बुक शेल्फ रख सकते है जो अधिक स्पेस नहीं लेगी और घर को भी अच्छी तरह डेकोर करने में आपकी सहायत करेगी।

Image Source – Pixabay

लाइटर और प्लेफुल कलर टोन: लाइट कलर्स घर में एनर्जी का सोर्स होते है। साथ ही लाइट कलर्स से घर खुला खुला सा लगता है। आप चाहो तो हल्के फर्नीचर और एक्सेसरीज़ के साथ अपने लाउंजिंग स्पेस की डेकोरेशन कर सकते है।

घर को ऑर्गेनाइज़ रखे: अगर आप भी अपने घर को ऑर्गेनाइज़ रखते है तो यह आपको आपके घर में पॉजिटिव वाइब्स देगा। इससे आपका दिमाग शांत रहेगा और आपको आपके घर पर अधिक स्पेस और फ्रीडम महसूस होगी। अगर आप अपने घर के स्पेस को सही तरीके से इस्तेमाल करना चाहते है तो आप मल्टी-यूज़ेबल फर्नीचर ट्राय कर सकते है।

घर की साफ़ सफाई: घर की डेकोरेशन के लिए भले आप लाखों रुपए लगा दो। परन्तु अगर आपका घर साफ नहीं होगा तो सारी डेकोरेशन धरी की धरी रह जाएगी। क्योकि घर को साफ़ रखने से जो पॉजिटिव एनर्जी और वाइब्स आती है वो किसी और चीज से नहीं आ सकती इसलिए सबसे पहले आपअपने घर को साफ रखें।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
बिना श्रेणी

क्या आप भी कोरोना वायरस के बीच जा रहे है ऑफिस, तो इन बातों का रखें खास ध्यान

वर्कप्लेस पर कोरोना वायरस से बचाएंगे ये खास चीजें


कोरोना वायरस ने न सिर्फ भारत में बल्कि पूरी दुनिया में हाहाकार मचा रखा है। लोगों के बीच कोरोना वायरस को लेकर डर का माहौल बना हुआ है। अब तक भारत में कोरोना वायरस के 78194 मामले सामने आ चुके है। इसलिए आपको हर छोटी से छोटी सावधानी बरतनी पड़ेगी। इस समय उन लोगों को सबसे ज्यादा सतर्क रहने की जरूरत है, जो रोज ऑफिस जा रहे जा रहे है। ऐसे में ऑफिस जाने वाले व्यक्ति और उसके परिवार वालों के मन में काफी सवाल है। जैसे ऑफिस जाना कितना सेफ है, रास्ते में या पब्लिक ट्रांसपोर्ट में कोरोना हो सकता है। ऐसे बहुत सारे सवाल आपके और आपके परिवार वालों के मन में आ सकते है, तो चलिए आज हम आपको बताएँगे कैसे आप ऑफिस में रख सकते है अपना ख्याल।

अपने डेस्क को खुद से साफ करें: आपका डेस्क भले ही पहले से साफ हो। परन्तु आपको खुद भी क्लीनिंग जेल को डेस्क पर छिड़क कर टिश्यू पेपर लेकर डेस्क को अच्छी तरह साफ करना चाहिए। ऐसा हो सकता है कि आपके ऑफिस में कोई व्यक्ति कोरोना वायरस से संक्रमित हो। परन्तु वह इस बात से अंजान हो। तो वो व्यक्ति आपके डेस्क पर वायरस छोड़ सकता है। इस लिए रोज काम शुरु करने से पहले आपके डेस्क को अच्छी तरह साफ़ करे।

सर्दी-जुकाम वाले लोगों से दूर: अगर आपके ऑफिस में किसी भी व्यक्ति को खांसी, जुकाम या कफ की समस्या है। तो इसका मतलब ये नहीं की उससे कोरोना वायरस हो गया है। उससे डराए न, उससे बोले की तुंरत चेकअप कराए। साथ ही साधारण फ्लू होने पर भी मास्क, टिश्यू, जैसी चीजों का इस्तेमाल जरूर करें।

Read more: ट्रेनों के बाद अब दिल्ली में जल्द शुरू होगी मेट्रो सेवा

अपनी चीजें ऑफिस में किसी से शेयर न करे:
 ऑफिस में दिन भर में आप अपने पड़ोस वाले से कुछ न कुछ जरूर शेयर करते है। इन शेयरिंग के दौरान आप कई लोगों के द्वारा छुई हुई चीजों को अपने हाथों से टच करते है। इस दौरान छींक या खांसी से परेशान लोग आपको फ्लू का संक्रमण भी दे सकते है। इसलिए कोशिश करे कि आप न तो किसी की कोई चीज ले, और न किसी को अपनी कोई चीज दे।

ऑफिस मैनेजमेंट इन बातों का रखे ख्याल

1. अगर कोई भी व्यक्ति ऑफिस में बीमार हो तो उन्हें मास्क पहनने को कहें या फिर उसे वर्क फ्रॉम होम करने को बोले।
2. ऑफिस के दरवाज़ों को खुला रखें, ताकि लोग उसे बार-बार छूने से बचे।
3. किचन और पैंट्री की साफ-सफाई का खास ध्यान रखे।
4. ऑफिस में पानी, चाय और कॉफी के लिए डिस्पोज़िबल कप्स का इस्तेमाल करे।
5.ऑफिस में जरूरी सामान जैसे टिशू, लिक्विड सोप, थर्मल स्कैनर, मास्क, ग्लव्स जैसी चीजों की पूरी व्यवस्था रखे।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Categories
लाइफस्टाइल

क्यों चाहते है लड़के सेल्फ डिपेंडेंट लाइफ पार्टनर, क्या है इसके फायदे?

क्या फायदे होते है, सेल्फ डिपेंडेंट लाइफ पार्टनर के?


पहले के समय में शादिया परिवार वालो की पसंद से होती थी। उस समय परिवार वाले देखते थे कि लड़की सुंदर, सुशील, खाना बनाने और घर परिवार संभालने वाली हो ।लेकिन अब सयम बदल गया है आज के सयम में लड़के अपनी पसंद की लड़की शादी करना ज्यादा पसंद करते है क्योंकी  लव मैरिज में दोनों एक दूसरे को अच्छी तरह जानते है। जिसे उनके लिए एक  जीवन बिताना आसान होता है। और अगर पार्टनर सेल्फ डिपेंडेंट हो तो उसके और भी अधिक फायदे होते है।
 

जरूरी है सेल्फ डिपेंडेंट लाइफ पार्टनर

 
एक दूसरे को समझने में मदद मिलती है: अगर आपका पार्टनर सेल्फ डिपेंडेंट होगा तो वो आपको बेहतर तरीके से समझ पाएगा। पुरे दिन ऑफिस के तनाव के बाद जब आप घर आएंगे तब आपकी पत्नी आपकी समस्याओं को समझने और सुलझाने का प्रयास करेगी। और घर की जिम्मेदारियों जैसे बिजली का बिल, बैंक के काम को मिल बाट कर भी कर सकते है जिसे साडी चीजों का बोझ आपके ऊपर नहीं पड़ेगा।
 
भविष्य के लिए बचत: जब आप और आपका पार्टनर दोनों काम करते हैं तो जाहिर सी बात है आप लोग पैसे ज्यादा कमाएंगे। जिसे आप अपने भविष्य के अच्छे बुरे दिनों के लिए कुछ पैसे जोड़कर रख सकते हैं। इन पैसों की वजह से आपको किसी के आगे हाथ नहीं फैलाना पड़ेगा और आप आराम से जीवन जी सकेंगे। सेल्फ डिपेंडेंट लड़की से शादी करने का ये एक सबसे बड़ा फायदा हो सकता है।

और पढ़ें: लॉयल होना काफी नहीं, एक ‘अच्छे पार्टनर’ में होनी चाहिए ये खूबियां

 
आत्मनिर्भर: कामकाजी महिला आत्मनिर्भर होती हैं। वह अपने खर्चे खुद उठा सकती हैं उसके पति को उसका खर्चा नहीं उठना पड़ता। और अगर महिला सेल्फ डिपेंडेंट नहीं है तो उसके सारे खर्चे उसके पति को उठाने पड़ते हैं। इस वजह से लड़को को सेल्फ डिपेंडेंट लड़किया पसंद आती हैं।
 
मंहगाई है कारण: सुविधाओं से भरा जीवन सबको पसंद होता है। लेकिन आजकल की मंहगाई में शहर छोटा हो या बड़ा सब जगह कम पैसो में रहना मुश्किल हो गया है इसलिए ज्यादातर पुरुषों का मानना है कि अगर उनका पार्टनर नौकरी करे  तो उनके खर्चों को बंटाने में मदद मिल जाएगी। साथ मिल कर काम करने से वो अपने बच्चों को भी एक अच्छी जिंदगी दें पाएंगे। और खुद भी एक अच्छी जिंदगी जी पाएंगे।
अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com
Categories
राशिफल

क्या पड़ेगा राशियों पर प्रभाव जब शानि करेंगे प्रवेश

जाने अपनी राशियों का हाल जब होगा शनि का प्रवेश


इंसान के जीवन में जो दुःख और सुख आते है उसका सीधा कनेक्शन हमारे ग्रहों से भी होता है और जब यह ग्रह करवट बदलते है तो सभी 111 राशियों पर इसका सीधा असर अच्छे और बुरे दोनों में होता है।वही इस अक्टूबर के महीने के शुरू होते ही ग्रहों में बदलाव आ रहा है। 4 अक्टूबर को शुक्र तुला राशि में प्रवेश करने जा रहा है, वही सुबह 5 बजकर 9 मिनट में शुक्र कन्या राशि में प्रवेश कर रहा है। 28 अक्टूबर को 8 बजकर 31 मिनट तक इसी राशि में रहेगा। तो चलिए जानते है अब शुक्र के स्थान बदलने से किस राशि पर क्या असर होगा:

1. मेष: इस राशि के लोगो का जीवन काफी खुशहाल  रहेगा । जो विवाहित लोग है और बच्चे की चाह रख रहे है, तो उन्हें खुशखबरी  मिल सकती है साथ ही अविवाहित लोगो को शादी के प्रस्ताव मिल सकते है।

2. वृषभ: शिक्षा क्षेत्र में कामयाबी के आसार है. परिवार वालो की सेहत में सुधार आने की उम्मीद है. रोज़गार के नए अवसर आएंगे और आर्थिक स्थिति बेहतर होगी। रिश्तेदारों से अच्छी सूचनाएं मिलेगी।

3. मिथुन: प्रेम संबंधो के लोगो को लाभ मिलेगा। अपने दिल की बात अगर आप कहना चाहते है तो ये बिलकुल सही समय साबित हो सकता है. रोमांटिक जीवन आपका रोमांच से भरा हुआ हो सकता है.

4. कर्क: इस राशि के लोगो का उनके परिवार वालो के साथ अच्छा संबंध रहेगा। मांगलिक को लेकर भी किये गए प्रयास सफल होंगे। इस राशि के लोगो की आर्थिक स्थिति बेहतर हो सकती है और आप नए वाहन भी खरीद सकती है.

4. सिंह: परिवार में सुख- समृद्धि की  संभावनाएं बन रही है. दुश्मनो पर आप विजय प्राप्त कर सकते है और मित्रो का सहयोग मिलेगा। इस राशि के लोगो का नौकरी का भी काफी योग बन रहा है.

Read more: जानिए किन राशियों पर बरसेगी माँ दुर्गा की कृपा,घर में होगा सुख – समृद्धि का वास

5. कन्‍या: कन्या राशि के लोगो का दांपत्य जीवन में सकारात्मक बदलाव आएगा। निवेश करने में लाभ मिलने का योग बन रहा है. लोगो के साथ खराब बरताव पर मुश्किलों का सामना करना पड़ सकता है.

6. तुला: तुला राशि में शुक्र प्रवेश करने वाला है, तो इस राशि वालो को थोड़ संभल  कर रहना होगा। इस राशि के लोग अपने दुश्मनो पर हावी रहेंगे और इस राशि के लोगो का मन भी भटक सकता है.

7. वृश्चिक: इस राशि के लोगो का घूमने-फिरने का योग बन रहा है और वही आर्थिक मामलो की बात करे तो इन् लोगो को थोड़ा कंटोरल करना होगा। मगर दुसरो को दिए हुए पैसे वापस आने के योग बन रहे है.

8. धनु: इस राशि के लोगो भी आर्थिक लाभ मिलेगा इस दौरान जीवन में सुख- समृद्धि आएगी और विभिन भौतिक सुखो का लाभ मिलेगा। कार्यक्षेत्र में आपकी मेहनत को विशेष रूप से सराहा जाएगा।

9. मकर: मेहनत और ईमानदारी से किए हुए काम का फल मिलेगा. जॉब बदलने के बारे में विचार कर सकते हैं. परिवार में सुख शांति का माहौल रहेगा।

10. कुंभ: दोस्तों के साथ लंबे ट्रिप की प्लानिंग कर सकते है. इस राशि के लोगो  के मान सम्मान में वृद्धि होगी और समाज में आप प्रभावशाली लोगों के संपर्क में आएंगे।

11. मीन: इस राशि के लोगो को थोड़ी कठिनाई का सामना करना पड़ सकता है. घर में नया वाहन आने के योग बन रहे हैं. छोटे भाई बहनों के साथ मतभेदों में कमी आएगी.

तो ये है वोतो ये राशियां जिस पर शनि के प्रवेश पर प्रभाव पड़ सकता है

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com