Categories
बिना श्रेणी

कोच्चि में मेट्रो का शुभारंभ, पीएम ने दिखाई हरी झंडी और की पहली यात्रा

वैंकेया नायडू भी साथ में


मेट्रो रेल की कड़ी में एक और शहर जुड़ गया है। आज से केरल के कोच्चि शहर में मेट्रो ट्रेन दौड़ेगी। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हरी झंडी दिखाकर मेट्रो का उद्धाटन किया। यह देश का पहला एकीकृत मल्टी मॉडल ट्रांसपोर्ट का दावा किए जानेवाले करने वाली मेट्रो है।

कोच्चि में मेट्रो

ट्रैफिक में आएंगी कमी

कोच्चि केरल का व्यावसायिक केंद्र है। इस मेट्रो को चालू होने से शहर के ट्रैफिक में कमी आने की उम्मीद जताई जा रही है।

मेट्रो का पहला चरण अलुवा और पलारीवोम के बीच 113 किलोमीटर लंबा मार्ग हैं। कोच्चि मेट्रो का उद्धाटन सुबह 11 बजे जवाहरलाल नेहरु अंतराष्ट्रीय स्टेडियम से हुआ।

केरल में मुख्यमंत्री भी आएं पहली यात्रा में

मेट्रो का उद्धाटन करने के बाद प्रधानमंत्री मोदी ने इसमें सफऱ भी किया। मेट्रो को पहले सफर मे मोदी के साथ केंद्रीय शहरी व विकास मंत्री वेंकैया नायडू भी मौजूद थे।

वहीं उद्धाटन के दौरान केंद्रीय शहरी विकास मंत्री वैंकेया नायडू के अलावा, केरल के मुख्यमंत्री पिनरायी विजयन, केरल विधानसभा में विपक्ष के नेता रमेश चेन्निथला, एरनाकुलम के सांसद के वी थॉमस और मेट्रो मैन ई श्रीधरन प्रधानमंत्री के साथ मंच पर रहे।

कोच्चि मेट्रो को अधिकारियों ने बताया कि कोच्चि में विश्व स्तरीय मेट्रो प्रणाली से ग्रेटर कोच्चि मे क्षेत्रीय संपर्क में सुधार होने से जीवन की गुणवत्ता में सुधार आएगा और इससे भीड़भाड़, यातायात अव्यवस्था, आने-जाने में लगने वाले समय, वायु और ध्वनि प्रदूषण में कमी आएगी।

2013 में शुरु हुआ था निर्माण कार्य

आपको बता दें यह कोच्चि मेट्रो का पहला फेज है। जो 13.2 किलोमीटर तक फैली है। आगे इस 25 किलोमीटर तक बढ़ाया जाना है। इसका निर्माण कार्य साल 2103 में शुरु हुआ था। इस परियोजना के लिए कुल 5,180 करोड़ रुपए खर्च का अनुमाना लगाया गया है।

अभी फिलहाल 13 किलोमीटर के दायरे में 11 स्टेशन है। आगे 25 किलोमीटर में दायरे में 22 स्टेशन होंगे।

इससे पहले देश में कोलकाता, मुंबई, दिल्ली, जयपुर, बेंगलूरु में मेट्रो की चलती है। मेट्रो देश में साल 1984 में प्रारम्भ हुई थी। पहली मेट्रो कोलकाता में चली थी।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in