सामाजिक

6 सीक्रेट्स भाई-बहन के, जो दिलाती है बचपन की याद

भाई-बहन और उनके बीच के सीक्रेट्स


भाई-बहन का रिश्ता कुछ खट्टा और कुछ मीठा लेकिन प्यार और स्नेह से भरा होता है। भले ही भाई-बहन के बीच लाख झगड़े होते हो लेकिन प्यार उससे भी उतना ही ज्यादा होता है। इस रिश्ते में हमारा पूरा बचपन कैद होता है। अगर दोनों में से किसी पर मुसीबत आ जाए तो दोनों एक-दुसरे की मदद के लिए हमेशा तैयार रहते हैं। अगर कभी भाई को मम्मी-पापा की डांट से बचना हो तो बहन उसकी पूरी-पूरी मदद करती है, वहीं भाई भी अपनी बहन की मदद करने से कभी पीछे नहीं हटता।

भाई-बहन
भाई-बहन

बचपन से लेकर बूढा़पे तक भाई-बहन दोनों बिना किसी स्वार्थ के एक-दूसरे के दोस्त बनकर रहते हैं, चाहे उन दोनों में कितनी भी झगड़े क्यों न हो जाएं लेकिन उनके बीच का प्यार हमेशा बरकरार रहता है। वैसे तो अगर भाई-बहन हमउम्र हों तो वो दोनों एक-दुसरे के सबसे अच्छे दोस्त होते हैं और दोनों अपनी बातें शेयर भी करते हैं। वैसे देखा जाए तो भाई के कुछ सीक्रेट्स ऐसे होते है जिन्हें वह अक्सर अपनी बहन के साथ शेयर करता है इसी वजह से दोनों के बीच अक्सर कुछ बातों को डील चलती रहती है और यही बातें हमें जिंदगी भर याद रहती है।

आइए जानते हैं कि ऐसे कौन-कौन से डील्स होते हैं जिसकी हमेशा याद बनी रहती है: –

1. भाई- बहन हर बात पर करते है डील

अक्सर भाई ज्यादा आलसी होते हैं खास कर तब जब वो छोटे हों। कभी-कभी हम सब में इतना आलस भरा होता है कि हमें प्रायः काम करने का मन नहीं करता और ऐसे में हम अपने भाई या बहन को कुछ ऐसे काम करने के लिए कहते हैं जिसके लिए वो तैयार नहीं होता या उस काम को करने के लिए मना कर देता है। तो इस सिचुएशन में हम उसके साथ डील करते हैं और कहते हैं कि अगर तुम मेरा यह काम करोगे, तो बदले में तुम्हारे दस काम करूगां/करूंगी।

2. एक-दूसरे के सीक्रेट्स

हमउम्र भाई-बहनों को एक-दूसरे की बहुत सारे सीक्रेट्स पता होते हैं। अगर वो चाहें तो कभी-भी एक-दूसरे को आसानी से ब्लैकमेल कर सकते हैं। लेकिन वो ऐसा नहीं करते और मम्मी-पापा से एक-दूसरे की बातों को आसानी से छिपा लेते हैं लेकिन अक्सर अपनी सीक्रेट्स बातों के लिए इनके बीच डील होती है।

भाई-बहन
भाई-बहन

3. ज्‍यादा डिमांड ना करना

भाई अक्सर बहन को कहता है कि प्लीज, राखी पर गिफ्ट की ज्यादा डिमांड मत करना क्योंकि मेरे पास पैसे कम है। तो बहन भी प्यार से कह देती है कि मुझे पैसे या गिफ्ट नहीं तेरा प्यार ही काफी है। लेकिन कुछ बहनें मरी तरह भी होती हैं जो बिना गिफ्ट्स लिए नहीं मानतीं ।

4. पापा के साइन कर दे

अक्सर भाई बचपन में पढाई के मामले में पीछे होते हैं। ऐसे में अक्सर वो अपने पेपर में नंबर कम आने पर बहन को पापा के साइन करने को बोलता हैं क्योंकि बहनें इन मामलों में थोड़ी तेज होती हैं और अपने पापा के साइन भी कर लेती हैं। साइन करने के बदले में बहन भाई से कोई अच्छी चीज की डिमांड रखती है और भाई को मज़बूरी में उसकी बात माननी पड़ती है।

5. आधा तेरा, आधा मेरा

बचपन में जब कभी माँ-पापा से पॉकेट मनी मिलने पर दोनों अपनी-अपनी मनपसंद चीजें लेते हैं लेकिन पोकेट मनी कम होती है तब दोनों अपनी पोकेट मनी को इकट्ठा करके खाने का सामान लाते हैं और फिर आधा-आधा मिल कर खाते हैं। ज्यादातर ऐसा होता है कि भाई अपनी चीजें जल्दी खाकर खत्म कर लेता है और अपनी बहन की भी हिस्से का खाकर खत्म कर देता है। वैसे तो अब ए बचपना सा लगता है लेकिन कभी-कभी ए चीजें आज भी वैसी की वैसी होती हैं चाहे हम कितने ही बड़े क्यों न हो जाएँ। भाई-बहन के बीच होने वाली यह डील वास्तव में बहुत प्यारी है।

6. मम्मी-पापा की डांट से बचाना

भाई-बहन खुद चाहे जितनी मर्जी एक-दुसरे से लड़ाई कर लें, लेकिन जब मम्मी-पापा डांटते है तो अक्सर वह एक-दुसरे की साइड लेते हैं और एक-दूसरे को उनकी डांट से बचाने की कोशिश करते हैं।

वैसे तो चाहे जो भी डील हों उनके बीच प्यार कभी कम नहीं होता और इन डील्स से उनका रिश्ता और भी मजबूत होता हैं।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।