भारत

दिल्‍ली में बढ़ते प्रदूषण के चलते बढ़ी दिल्‍ली सरकार की चिंता

दिल्‍ली सरकार ने बुलाई बैठक


आज उच्‍च स्‍तरीय बैठक

राजधानी दिल्ली में लगातार बढ़ते प्रदूषण के देखते हुए आज दिल्‍ली सरकार ने एक उच्च स्तरीय बैठक बुलाई है। इस बैठक की अध्यक्षता उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया करेंगे। उप मुख्‍यमंत्री के अलावा इस बैठक में स्वास्थ्य और परिवहन मंत्री सत्येंद्र जैन, पर्यावरण मंत्री इमरान हुसैन और जल मंत्री कपिल मिश्रा के साथ अलग-अलग विभाग के आला अधिकारी भी शामिल होंगे।

आम आदमी पाटी के उप मुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने ये जानकारी ट्वीट करके देते हुए लिखा, कि वायु प्रदूषण राजधानी  दिल्ली के स्वास्थ्य के गंभीर चिंता का विषय है। इसलिए  आज एक बजे उच्च स्तरीय बैठक बुलाई गई है। युद्ध स्तर पर पर काम सुनिश्चित करने के लिए।

दीवाली के मौके पर पटाखे जलने

दरअसल, राजधानी दिल्‍ली की हवा  दीवाली के पहले से ही खराब होनी शुरू हो गई थी। सर्दी के मौसम की शुरुआत हो रही है, पंजाब और हरियाणा राज्‍यों में फसलों के अवशेष से धुआं सा‍थ ही दिल्ली में पहले ही जाम से हवा प्रदूषण का स्तर पहले से ही खतरनाक स्तर पर पहुंच गया था। मगर दीवाली के मौके पर पटाखे जलने और हवा की गति कम होने से प्रदूषण का स्तर और बढ़ गया है।

दिल्‍ली में बढ़ते प्रदूषण के चलते बढ़ी दिल्‍ली सरकार  की चिंता
प्रदूषण

बात आंकडों की

दिल्ली की सरकार आम आदमी पार्टी के द्वारा दिए गए आंकड़ों के अनुसार, जिस PM 10 का स्तर एक क्यूबिक मीटर में 100 माइक्रो ग्राम से ज़्यादा नहीं होना चाहिए, वो  इस दीवाली के त्‍यौ‍हार पर 448 से 939 तक पहूंच गया। वहीं अगर बात करें पिछले साल की तो साल 2015 की दीवाली पर 296 से 778 और साल 2014 की दीवाली पर 421 से 790 माइक्रो ग्राम प्रति क्यूबिक मीटर पर ही रहा था। वहीं दूसरी तरफ बात करें, बेहद बारीक कण यानी PM 2.5 की तो उसका स्तर जो एक क्यूबिक मीटर में 60 माइक्रो ग्राम से ज़्यादा नहीं होना चाहिए, वो इस दीवाली पर 180 से 440 के बीच रहा, जबकि साल 2015 की दीवाली पर 184 से 369 माइक्रो ग्राम प्रति क्यूबिक मीटर के बीच में रहा था।

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Back to top button