Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
लाइफस्टाइल

Women temple exclusion: कुछ मंदिरों में क्या आज भी महिलाओं का वर्जित है प्रवेश

Women temple exclusion: महिलाओं के कुछ मंदिरों में प्रवेश को लेकर दशकों से चली है लंबी बहस 

Highlights :
  • महिलाओं के कुछ मंदिरों में प्रवेश को लेकर होती रही है बहस
  • संविधान में महिला-पुरुष को मिला है समान अधिकार
  • हाल ही में सबरीमाला मंदिर रहा है चर्चा में

Women temple exclusion: मीडिया सोर्स के अनुसार भारत में आज भी कुछ मंदिरों में महिलाओं की ऐंट्री बंद है। महिलाओं को जगत-जननी कहा जाता है। सनातन धर्म में देवियों का पूजन होता है। देवी भी महिला ही होती हैं, फिर महिलाओं का कुछ मंदिरों में प्रवेश क्यों वर्जित हुआ? इस बात को लेकर दशकों से बौद्धिक वर्ग द्वारा जोर-शोर से आवाज उठाया जाता है। बताया जाता है कि देश में ऐसे ढ़ेरों संस्थान और धार्मिक स्थल है जहां महिलाओं को लेकर उतना अधिकार नहीं मिला है जितना मिलना चाहिए था।

भारत के संविधान में हिंदू-मुस्लिम दोनों को समान अधिकार दिया गया है। ईश्वर के घर में भेदभाव कैसे हो सकता है? इस बात को लेकर बौद्धिक वर्ग में हमेशा से बहस होती रही है। सूत्रों के मुताबिक देश में आज भी कुछ मंदिर ऐसे बताए जाते हैं जहां पर महिलाओं को प्रवेश करने पर वर्जित समझा जाता है। कहा जाता है कि कुछ मंदिरों में उन महिलाओं को जाना उचित नहीं समझा जाता जिन्हें पीरियड आ रही है।

ऋषि ध्रूम मंदिर: उत्तर प्रदेश के हमीरपुर में स्थित है ऋषि ध्रूम मंदिर। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार कहा जाता है,कि इस मंदिर के प्रांगण में महिलाओं को जाना वर्जित है। हालांकि अब भी इस विषय पर बहस होती रहती है।

Read more: Kainchi Dham Aashram: बाबा नीम करौली की महिमा बरसती है धाम पर

जैन मंदिर: मध्य प्रदेश के गुना में स्थित है प्रसिद्ध जैन मंदिर। इस मंदिर के मुख्य देवता भगवान शांतिनाथ हैं। इस मंदिर का निर्माण सैंकड़ों साल पहले किया गया। मीडिया रिपोर्ट्स की माने तो इस मंदिर में महिलाओं को विदेशी परिधान में ऐंट्री वर्जित हो सकती है।

कार्तिकेय मंदिर: राजस्थान के पुष्कर शहर में भगवान कार्तिकेय का एक सुंदर मंदिर स्थापित है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार महिलाओं का इस मंदिर में प्रवेश वर्जित हो सकता है। इस मंदिर में भगवान कार्तिकेय के ब्रह्मचारी रूप की अर्चना होती है। ऐसा कहा जाता है कि यदि महिलाएं इस मंदिर में प्रवेश करेंगी तो इससे भगवान कार्तिकेय रुठ सकते हैं क्योंकि कभी अप्सराओं ने तपस्या में लीन रहे भगवान कार्तिकेय को विचलित करने का प्रयास किया था।

सबरीमाला मंदिर: केरल राज्य में स्थित है सबरीमाला मंदिर। हाल ही के वर्षों में सबरीमाला मंदिर को लेकर काफी तेज बहस हुई थी। देश के बुद्धिजीवियों में भी खूब चर्चा का देखने-सुनने-पढ़ने को मिला। अब महिलाओं को सुप्रीम कोर्ट के आदेशानुसार प्रवेश की अनुमति मिल चुकी है। बता दें कि मंदिर में महिलाओं के प्रवेश को लेकर खूब बहस चली थी।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button