बिना श्रेणी

आज से कपिल मिश्रा ने शुरु किया अनशन

सरकारी बंगले के बाहर तंबू लगाकर कर रहे हैं अनशन


 

आम आदमी के पूर्व मंत्री कपिल मिश्रा अपने कहे अनुसार आज से अनशन पर बैठ गए है। अनशन उन्होंने अपने सरकारी निवास सिविल लाइन्स पर किया है। इसके लिए उन्होंने टैंट भी लगवाया है। जिसमें वह बैठे हैं। अनशन की जानकारी उन्होंने दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल को भी दी है।

विदेशी यात्राओं के फंड का किया दुरुपयोग

इससे पहले कपिल मिश्रा ने आरोप लगाया था कि आप के कुछ नेताओं ने विदेश दौरे के लिए दिए गए फंड का दुरुपयोग किया है। कपिल मिश्रा ने मांग की थी कि आप नेता इस विदेश यात्राओं की सारी जानकारियां सार्वजनिक करें। अगर वह सभी जानकारियों को सार्वजनिक नहीं करेंगे तो वह अनशन पर बैठेगा। और आज उन्होंने वही किया। आज से वह अनशन पर बैठ गए है।

 

hunger

अनशन पर कपिल मिश्रा


 

नेताओं पर लगाया आरोप

कपिल मिश्रा ने जिन नेताओं को पर आरोप लगाया है वह पांच नेता हैं आशीष खेतान, सत्येंद्र जैन, राघव चड्ढा, दुर्गेश पाठक, संजय सिंह है।

अनशन में बैठने के साथ ही कपिल ने एक लिखित बयान पढ़ा जिसमें उन्होंने कहा इन विदेश यात्राओं के विस्तृत जानकारी और इन विदेश यात्राओं में खर्च किया गया पैसा कहा से आया। कहां-कहां गए, क्यों कए,क्या-क्या किया और किसके पैसों  ये सब किया गया। आपने हमेशा कहा कि हमारे पास चुनाव लड़ने के भी पैसे नहीं है, फिर इन विदेश यात्राओं के पैसे कहां से आएं? उन्होंने कहा, मुझे किसी ने कहा है कि ये जानकारियां सामने आने के बाद आपको जनता एक पल भी कुर्सी पर नहीं रहने देगी। ऐसी क्यो? क्या राज छुपे है इन यात्राओं में।

मैं बीजेपी का एजेंट नहीं हूं

साथ ही कहा है कि और हां अब फिर वही रटा रटाया बहाना नहीं चलेगा कि मैं बीजेपी का एजेंट हूं, आज ही क्यों पूछ रहा हूं पहले क्यों नहीं पूछा, मुझे स्पष्ट जवाब चाहिए।

इससे पहले भी आरोप लगाते हुए कपिल मिश्रा कह चुके है कि संजय सिंह विदेश दौरों पर गए थे और लोगों से टिकट आदि के नाम पर पैसे वसूल रहे थे। इतना ही नहीं उन्होंने यहां तक आरोप लगाए कि संजय सिंह के अलावा उनके रिश्तेदार भी यह काम करने में लगे रहें।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।