Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
भारत

UP Crime: ट्रेन में महिला सिपाही से दरिंदगी करने वाला आरोपी एनकाउंटर में ढेर, इतने का था इनाम

अयोध्‍या में सरयू एक्‍सप्रेस कांड का आरोपी नसीम शुक्रवार सुबह हुए पुलिस एनकाउंटर में मार गिराया गया। उसके दो साथी आजाद और विश्‍वंभर दयाल घायल हो गए।

UP Crime: आधी रात को हाई कोर्ट में हुई थी सुनवाई, सीट को लेकर हुआ था विवाद


अयोध्‍या में सरयू एक्‍सप्रेस कांड का आरोपी नसीम शुक्रवार सुबह हुए पुलिस एनकाउंटर में मार गिराया गया। उसके दो साथी आजाद और विश्‍वंभर दयाल घायल हो गए। सावन मेला के दौरान 30 अगस्‍त को महिला सिपाही पर सरयू एक्‍सप्रेस ट्रेन में हमला हुआ था। महिला सिपाही खून से लथपथ ट्रेन की फर्श पर पड़ी हुई मिली थी। इस घटना के सामने आने के बाद पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया था। यूपी एसटीएफ और अयोध्‍या पुलिस लगातार आरोपी की तलाश में जुटी हुई थी। इस मुठभेड़ में पूरा कलंदर थाने के एसओ और दो सिपाही भी घायल हुए हैं।

UP Crime:आपको बता दें कि 30 अगस्त को महिला हेड कॉन्स्टेबल खून से लथपथ और बेहोशी की हालत में सरयू एक्सप्रेस ट्रेन की बोगी में सीट के नीचे मिली थी। महिला कॉन्स्टेबल को लखनऊ केजीएमयू के ट्रामा सेंटर लाया गया था। उसके सिर, चेहरे समेत शरीर के कई हिस्सों में गंभीर चोट के निशान थे। इस जघन्य मामले में इलाहाबाद हाई कोर्ट ने स्वतः संज्ञान लेकर आरोपियों की जल्द गिरफ्तारी के आदेश दिए थे। महिला कॉन्स्टेबल के होश में आने पर उसने अफसरों को हमले के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि उस पर दो लोगों ने हमला किया था। फिलहाल महिला कॉन्स्टेबल का इलाज केजीएमयू के ट्रामा सेंटर में चल रहा है।

Read more: UP Crime Nia : NIA कोर्ट में सुनवाई के दौरान हुआ खुलासा, 2016 में पीएम मोदी की सभा में बम विस्फोट की थी प्लानिंग

पुलिस ने रखा था एक लाख रुपये का इनाम

आपको को बता दें कि सुल्तानपुर में तैनात महिला कांस्टेबल पर सरयू एक्सप्रेस में हुआ जानलेवा हमला हुआ। लखनऊ केजीएमसी अस्पताल में भर्ती महिला कांस्टेबल से पूछताछ के दौरान पुलिस टीम को यह अहम जानकारी दी थी। इसके बाद एसटीएफ की टीमें मनकापुर से अयोध्या आने वाले 150 से अधिक लोगों से पूछताछ कर हमलावरों की तलाश में जुट गई थी। पुलिस ने आरोपियों के बारे में जानकारी देने वाले को एक लाख रुपये इनाम देने की भी घोषणा की थी।

 

सीट को लेकर हुआ था विवाद

रिपोर्ट के मुताबिक सरयू एक्सप्रेस में महिला कांस्टेबल ऊपर वाले बर्थ पर लेटी हुई थी। जिसको लेकर दोनों हमलावरों से उसका मनकापुर में ही झगड़ा हुआ था। ट्रेन जब मनकापुर से अयोध्या के लिए निकली, 10 मिनट के बाद ट्रेन ने स्पीड पकड़ी तभी दोनों हमलावरों ने महिला कांस्टेबल पर हमला कर दिया। पुलिस ने इस मामले में करीब 150 से अधिक लोगों से पूछताछ की थी। पुलिस ने सर्विलांस के साथ-साथ मुखबिरों को भी सक्रिय किया था। मनकापुर से अयोध्या के बीच करीब 200 गांवो में पुलिस की टीमें मुखबिरों के जरिए हमलावरों को तलाश रही थी।

आधी रात को हाई कोर्ट में हुई थी सुनवाई

महिला कांस्टेबल पर हुए इस हमले की गंभीरता को देखते हुए इलाहबाद हाईकोर्ट ने इस पर स्वत: संज्ञान लिया था। इस मामले की स्पेशल सुनवाई के लिए रात में अदातल खुली और जज ने घर पर बेंच बिठाई। इसके बाद रेलवे और सरकार से कोर्ट ने सख्त सवाल पूछे और कार्रवाई की जानकारी देने को कहा। यही नहीं एडिशनल सॉलिसिटर जनरल को भी अदालत में मौजूद रहने का भी कहा गया था।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com   

Back to top button