Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
एजुकेशन

10वीं के छात्रों के लिए जरूरी खबर-CBSE कर रही है गणित के पेपर में ये बड़े बदलाव !

सीबीएसई 10 क्लास बोर्ड एग्जाम


सीबीएसई 10वीं कक्षा के छात्रों के गणित पेपर में आया एक बड़ा बदलाव अब सीबीएसई के 10वीं कक्षा के बच्चो को दो लेवल में पढ़ाया जायेगा. एनसीएफ ने सभी विषय के दो पेपर का विकल्प छात्रों को देने का सुझाव दिया था। बोर्ड की तरफ से जारी एक सर्कुलर में इस बारे में जानकारी दी गई है. कि अब सीबीएसई 10वीं कक्षा के छात्रों का अब दो लवले में पेपर लेगी। और इस सर्कुलर के अनुसार साल 2020 से 10वीं में गणित की पढ़ाई दो स्तर पर शुरू की जाएगी और परीक्षा भी दो लेवल पर ही होगी.

Board-exam

एग्जाम फॉर्म में कर सकेंगे चयन

सीबीएसई ने अब गणित के पेपर को दो पार्ट में बाटा। जिसमे पहले पेपर का नाम मैथमेटिक्स-स्टैंडर्ड होगा और दूसरे वाले का नाम मैथमेटिक्स-बेसिक होगा।  सीबीएसई की तरफ से यह बदलाव गणित के कारण छात्रों पर पड़ने वाले बोझ को देखते हुए किया गया है नए नियम के अनुसार गणित के पहले पार्ट में कोई बदलाव नहीं किया जाएगा लेकिन दूसरा लेवल कुछ आसान होगा. और मैथमेटिक्स-स्टैंडर्ड उन छात्रों के लिए होगा जो 11वीं और 12वीं में गणित रखना चाहते हैं और गणित का बेसिक लेवल उन छात्रों के लिए होगा जो आगे गणित से पढ़ाई नहीं करना चाहते हैं। छात्र इन दो लेवल में से किसी एक लेवल का चुनाव कर सकते हैं. यह चुनाव अक्टूबर या नवंबर महीने में एग्जाम फॉर्म भरते समय ही किया जायेगा. इसके तहत साल 2020 से बेसिक गणित और स्टैंडर्ड गणित की पढ़ाई कराई जाएगी.

Read more: URI:The Surgical Strike Movie Review: विक्की कौशल अपने अभिनय के लिए लूट रहे है वाह- वाही!

सीबीएसई में आये बदलाव की ये पांच मुख्य बातें

  1. गणित के दो लेवल : मैथमेटिक्स-स्टैंडर्ड और मैथमेटिक्स-बेसिक जो सिर्फ  10वीं कक्षा के लिए होंगे। ये सुविधा किसी और  कक्षा के  छात्रों को  नहीं  मिलेगी
  2. पेपर के लिए आवेदन करते समय छात्र अपनी मर्जी के मुताबिक  बेसिक  या स्टैंडर्ड लेवल का चुनाव कर सकते हैं।
  3. अगर कोई छात्र बेसिक लेवल में फेल होगा तो उसको बेसिक लेवल का ही कंपार्टमेंट पेपर देना होगा और स्टैंडर्ड लेवल में फेल होगा तो स्टैंडर्ड लेवल का ही कंपार्टमेंट पेपर देना होगा।
  4. अगर कोई छात्र 10वीं में बेसिक का चुनाव करता है और वह उसमें पास हो जाता है, उसके बाद वह चाहता है कि आगे की कक्षा में गणित से पढ़ें तो वह मैथमेटिक्स-स्टैंडर्ड का कंपार्टमेंट पेपर दे सकता है। स्टैंडर्ड लेवल का पेपर पास करने पर आगे की कक्षा में उस छात्र को गणित मिल जाएगा।
  5. दोनों पेपर का सिलेबस, क्लासरूम में पढ़ाई एक ही रहेगी ताकि छात्र पूरे साल सभी टॉपिक को अच्छी तरह समझें। सिर्फ पेपर के समय उनको स्टैंडर्ड और बेसिक में से किसी पेपर एक को चुनने का विकल्प मिलेगा।

 

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at info@oneworldnews.in

Back to top button