पॉलिटिक्स

जाट आरक्षण के कारण दिल्ली मे लगी धारा 144

जाट आरक्षण कल से दोबारा शुरू हो गया है। पहले दिन तो माहौल शांत रहा। लेकिन आगे कोई गडबडी न हो इसके लिए हरियाणा से सटे दिल्ली के नजफगढ़, बवाना, अलीपुर द्वारका जैसे जाट बहुल इलाकों में धारा 144 लगा दी गई है।

हरियाणा में तो पहले से ही धारा 144 लगाई गई है। राज्य में किसी तरह की अशांति न फैले इसलिए सोनीपत के बाद अब रोहतक में भी मोबाइल, इंटरनेट और बल्क एसएमएस पर रोक लगा दी गई है।

हरियाणा के राज्यपाल कप्तान सिंह ने कहा है कि राज्य में धारा 144 लगाई गई है क्योंकि हमें आशंका है कि राज्य में अशांति न फैल जाए।

jat reservation

जाट आरक्षण

साथ ही कहा है कि हरियाणा में ऐसा हो ही नहीं सकता क्योंकि यहां के लोग हरियाणाभक्त है। लेकिन फिर भी डर तो लगा ही रहता है।

इससे पहले भी सोनीपत के मुनक नहर में सेना को तैनात कर दी गई है ताकि लोग वहां आकर धरना प्रदर्शन न करें।

पिछले बार के धरना प्रदर्शन में लोगों ने मुनक नहर को अपने कब्जे में ले लिया था जिसकी वजह से दिल्ली वासियों को पानी के लिए दिक्कतों का सामान करना पड़ा था।

बता दें कि ‘जाट आरक्षण संघर्ष समिति’ के चीफ यशपाल मलिक ने कहा है कि आरक्षण हासिल करने के लिए जाट समुदाय आठ जून को यूपी में 10 जून को एमपी और 11 जून को उतरांखंड में आंदलोन करेंगे।

Subscribe
Notify of
guest
0 Comments
Inline Feedbacks
View all comments
Back to top button
Hey, wait!

अगर आप भी चाहते हैं कुछ हटके वीडियो, महिलाओ पर आधारित प्रेरणादायक स्टोरी, और निष्पक्ष खबरें तो ऐसी खबरों के लिए हमारे न्यूज़लेटर को सब्सक्राइब करें और पाए बेकार की न्यूज़अलर्ट से छुटकारा।