पॉलिटिक्स

क्या अखिलेश को माना पायेंगे मुलायम सिहं

यूपी के राजनीति में आया परिवाद का मामला अब थोड़ा शांत होता दिख रहा है। आज सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह यादव ने परिवाद की चल रही कलह के बारे में बात करने के लिए शुक्रवार को लखनऊ में संसदीय दल की बैठक बुलाई है।

इससे पहले कल अखिलेख सिंह और शिवपाल यादव में टकरार हो गई थी। पिछले कुछ दिनों से शिवपाल अखिलेश नाराज चल रहे थे।

दरअसल शिवपाल यादव सपा संसदीय कमेटी के सचिव बनाए गए थे। लेकिन इसके उसके कुछ घंटों के बाद ही उनसे राजस्व, पीडब्लूडी, सिचाई जैसे मुख्य विभाग छीन लिए गए थे। जिसके बाद से ही नाराज चल रहे थे। खबरों की मानें तो वह पार्टी से इस्तीफा देने की बात कर रहे थे।

लेकिन सैफई में शिवपाल ने कहा था कि वह नेताजी की मर्जी के बगैर कुछ नहीं करेंगे।

akhilesh-mulayam-shivpal-yadav

अखिलेश सिंह, मुलायम सिंह, शिवपाल यादव

इसी बात को लेकर कल शिवपाल ने बड़े भाई मुलायम से दिल्ली में मुलाकात की। मुलाकात लगभग पांच घंटे तक चली। अखिलेश को भी इसमें आने को कहा गया था लेकिन वह नहीं आ पाएं।

मुख्यमंत्री अखिलेख ने बढ़ती कलाह के बीच में कहा था कि परिवार एक है और एक ही रहेगा। परिवार में चल रहा मौजूद संकट में किसी  बाहरी का हाथ है।

उन्होनें इशारे ही इशारों में उन्होंने ने सपा के सांसद अमर सिंह पर यह निशाना साधा था।

वहीं दूसरी ओर अमर सिंह ने कहा था कि अखिलेख मेरे बच्चे जैसा है। लेकिन अब वह बड़ा और समझदार हो गया है। साथ ही कहा है कि मुलायम मुझसे प्यार करते हैं। यहीं लोगों की समस्या है। कुछ लोग चाहते है कि वह मुझसे घृणा करें।

अब देखना यह होगा कि आज हो रही संसदीय सदस्य की बैठक में मुलायम अखिलेख को माना पाते है कि नहीं?

Have a news story, an interesting write-up or simply a suggestion? Write to us at
info@oneworldnews.in
Back to top button