Jannah Theme License is not validated, Go to the theme options page to validate the license, You need a single license for each domain name.
काम की बात

MCD Mayor Election: आप-भाजपा पार्षदों के हंगामे के बीच अटक गया मेयर चुनाव

MCD Mayor Election: आज नहीं हो सका मेयर का चुनाव, सिविक सेंटर में हुआ जमकर हंगामा


Highlight

.  भाजपा और आम आदमी पार्टी के पार्षदों के जबरदस्त हंगामें के कारण दिल्ली नगर निगम के मेयर का चुनाव अटका।

.  भाजपा और आम आदमी पार्टी के पार्षदों के हंगामे के बीच आज केवल चार नामित सदस्यों ने शपथ ग्रहण की।

.  बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने सदन में हंगामे को लेकर आम आदमी पार्टी पर निशाना साधा।

MCD Mayor Election: भाजपा और आम आदमी पार्टी के पार्षदों के जबरदस्त हंगामें के कारण दिल्ली नगर निगम के मेयर, डिप्टी मेयर और स्टैंडिंग कमेटी के सदस्यों का चुनाव फिलहाल अटक गया है।  हंगामे के कारण पीठासीन अधिकारी ने एमसीडी सदन की कार्यवाही अगली तारीख तक के लिए स्थगित कर दी। दिल्ली नगर निगम के सदन की अगली तारीख उपराज्यपाल की तरफ से घोषित की जाएगी। नॉमिनेटेड 4 सदस्यों की शपथ को हाउस के मिनट्स में शामिल किया

आम आदमी पार्टी और बीजेपी के पार्षदों के बीच जमकर हुए हंगामे के बाद सदन पूरे दिन के लिए स्थगित कर दिया गया। आज मेयर पद के लिए 11 बजे से वोटिंग होनी थी।  लेकिन इससे पहले सदन में आप पार्षदों ने जमकर हंगामा किया। इस दौरान आप पार्षदों के साथ बीजेपी पार्षदों की हाथापाई भी हुई। दोनों पार्टियों के पार्षदों में जमकर धक्का मुक्की हुई। यहां तक कि सदन में कुर्सियां भी चलीं। आप पार्षद मनोनीत सदस्यों को पहले शपथ दिलाने का विरोध कर रहे थे। पार्षदों ने हंगामे के दौरान माइक, कुर्सी और टेबल भी तोड़ दी। बैठक में हंगामा करने के दौरान निगम सचिव से पार्षदों ने फाइल भी छीनी।

हंगामे के चलते सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गई।  उधर, आप ने इस मुद्दे पर कोर्ट जाने के संकेत दिए हैं। आप सांसद संजय सिंह ने पलटवार करते हुए कहा कि सदन में भाजपा का खूनी खेल शुरू हो गया है। चुनाव में जनता ने हरा दिया तो भाजपा सदन में गुंडागर्दी कर रहीं है। दो बार के आम आदमी पार्टी के  पार्षद प्रवीण कुमार पर सदन के अंदर भाजपा वालो ने किया जानलेवा हमला।

वहीं दिल्ली के डिप्टी सीएम मनीष सिसोदिया ने कहा, MCD में अपने कुकर्मों को छिपाने के लिए और कितना गिरोगे भाजपा वालो!  चुनाव टाले, पीठासीन अधिकारी की गैरकानूनी नियुक्ति, मनोनीत पार्षदों की गैरकानूनी नियुक्ति, और अब जनता के चुने पार्षदों को शपथ न दिलवाना। अगर जनता के फैसले का सम्मान नहीं कर सकते तो फिर चुनाव ही किसलिए?

Read More-पांच दिन पांच घटनाएं, क्यों देश की बेटियां निशाने पर

बीजेपी सांसद मनोज तिवारी ने सदन में हंगामे को लेकर आम आदमी पार्टी पर निशाना साधा। उन्होंने ट्वीट किया, ”49 से 134 होते ही आप के पार्षदों ने शुरू की गुंडागर्दी, धक्के मारना, लड़ना झगड़ना, कानून को ना मानना ये ही सच है, इस गुंडा पार्टी का। केजरीवाल खुद अपने घर बुला कर अफ़सर और नेताओं को धमकाते और पिटवाते हैं तो उनके चेलों से और क्या उम्मीद कर सकते हैं। पीठासीन अधिकारी सत्या शर्मा ने कहा है कि वह सदन की कार्रवाई सुचारू रूप से चलाने के लिए कई बार अपील कर चुके हैं, लेकिन हंगामा जारी रहा। अगर वो शांति से बैठते हैं तो वह शपथ दिलाने के लिए तैयार हैं। अगर ये लोग शांति से नहीं बैठेंगे तो हम अगली तारीख का इंतजार करेंगे।

Read more- फिलहाल हल्द्वानी में नहीं चलेगा बुलडोजर, सुप्रीम कोर्ट ने लगाई रोक

भाजपा और आम आदमी पार्टी के पार्षदों के हंगामे के बीच आज केवल चार नामित सदस्यों ने शपथ ग्रहण की। वहीं आम आदमी पार्टी के पार्षद प्रवीण राणा ने सदन में मारपीट करने का आरोप लगाया है। आप सांसद संजय सिंह और विधायक सौरभ भारद्वाज के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस में हाथ में चोट दिखाते हुए प्रवीण ने कहा कि उन्हें जान से मारने की कोशिश की गई। उनका गला दबाने की कोशिश की गई।

आम आदमी पार्टी द्वारा निगम के सदन में भाजपा के खिलाफ नारेबाजी भी की। सदन में जबरदस्त हंगामा देखने को मिल रहा है। भाजपा के पार्षद भी आम आदमी पार्टी और केजरीवाल के खिलाफ नारेबाजी कर रह रहे हैं। नोमिनेट सदस्य मनोज कुमार को सबसे पहले शपथ दिलाए जाने से नाराज आम आदमी पार्टी के पार्षदों ने हंगामा था।

अगर आपके पास भी हैं कुछ नई स्टोरीज या विचार, तो आप हमें इस ई-मेल पर भेज सकते हैं info@oneworldnews.com

Back to top button